बलिया में भाजपा नेता को पुलिस ने बुरी तरह पीटा, इलाज के लिये लखनऊ ले जाए गए

By: रफतउद्दीन फरीद

Published: 20 May 2018, 01:59 PM IST

Ballia, Uttar Pradesh, India

भाजपा नेता की बेरहमी से पिटायी

1/4

बलिया के रसड़ा में खुद को भाजपा नेता बताने वाले ठेकेदार को पुलिस ने बेरहमी पीटा।

बलिया. यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह लाख दावा करें, ढिंढोरा पीटें कि पुलिस जनता की मित्र है, पर खुद पुलिस कुछ न कुछ ऐसा कारनामा अंजाम दे देती है, जिससे यह दावा खोखला साबित हो जाता है और पुलिस का क्रूर चेहरा सामने आ जाता है। एक दिन पहले बनारस में भरे चौराहे पर बेकसूर को पुलिस वाले ने मारकर कनपटी फाड़ दिया तो दूसरे ही दिन बलिया में पुलिस ने खुद को भाजपा कार्यकर्ता बताने वाले ठेकेदार को बेरहमी से पीटा। ठेकेदार का दावा है कि उसे रसड़ा कोतवाल, एसएसआई खड़े होकर सिपाही से पिटवा रहे थे। घायल ठेकेदार को बलिया से लखनऊ रेफर किया गया है। (खबर के नीचेे देखें VIDEO)

 

बलिया के रसड़ा नगर महापालिका ठेकेदार प्रमोद का दावा है कि वह बीजेपी कार्यकर्ता है। प्रमोद का आरोप है कि बलिया के कटवारी मोड़ पर गाड़ियां चेक की जा रही थीं। उसी दौरान प्रमोद और पुलिस वाले के बीच किसी बात को लेकर कहासुनी हो गयी। प्रमोद की मानें तो रसड़ा कोतवाल जगदीश यादव और एएसएसआई पटेल ने खड़े होकर उसे सिपाही से बेरहमी से पिटवाया। इतना ही नहीं इसके बाद घायल प्रमोद को अस्पताल ले जाने के बजाय पुलिस कोतवाली लेकर आ गयी। सूचना मिली तो मौके पर बड़ी तादाद में बीजेपी कार्यकर्ता पहुंच गए।

 

पुलिस का क्रूर चेहरा उस समय और ज्यादा उजागर हो गया जब वह घायल प्रमोद को अस्पताल ले जाने के बजाय थाने ले आयी। हंगामा होने के बाद उसे जिला अस्पताल ले जाया गया। वहां मेडिकल के बाद घायल प्रमोद को डॉक्टर ने लखनऊ पीजीआई के लिये रेफर कर दिया। जिला अस्पताल के डॉक्टर भारती ने भी कहा कि प्रमोद को कुछ आंतरिक चोटें आयी हैं। इस मामले में एसपी ने कहा है कि ऐसे किसी पीड़ित की तहरीर नहीं मिली है। कहा कि क्षेत्राधिकारी रसड़ा को पूरे मामले की जांच के लिये कहा गया है। दोनों पक्षों को सुना जाएगा और जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ कार्यवाही की जाएगी।
By Amit Kumar

BJP
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned