पद्मश्री से विभूषित होगा आचार्य हजारी प्रसाद द्विवेदी का यह शिष्य...

पद्मश्री से विभूषित होगा आचार्य हजारी प्रसाद द्विवेदी का यह शिष्य...
krishna bihari mishra

Ashish Kumar Shukla | Publish: Jan, 26 2018 10:52:24 PM (IST) Varanasi, Uttar Pradesh, India

बलिया जिले के बलिहार निवासी डॉक्टर कृष्ण बिहारी मिश्र को मिलेगा नागरिक सम्मान

बलिया. भारत सरकार ने पद्म श्री एवं अन्य नागरिक सम्मानों की गुरूवार को घोषणा कर दी। घोषित नामों की सूची साहित्यिक दृष्टि से उर्वरा रही बलिया की धरती के लिए भी खुशियां लेकर आई। जनपद की उर्वरा धरा पर जन्मे एवं पले बढ़े लाल का नाम भी इस सूची में शामिल है। हल्दी थानांतर्गत बलिहार गांव के निवासी डॉक्टर कृष्ण बिहारी मिश्र को देश के नागरिक सम्मान पद्मश्री से सम्मानित किए जाने की घोषणा की गई है।

द्वाबा क्षेत्र के बलिहार गांव में पांच नवंबर 1936 को जन्मे ललित निबंधकार के रूप में सुप्रसिद्ध डॉक्टर मिश्र आचार्य हजारी प्रसाद द्विवेदी के शिष्य भी हैं। उन्होंने आचार्य द्विवेदी के निर्देशन में हिंदी पत्रकारिता : जातीय चेतना और खड़ी बोली साहित्य की निर्माण-भूमि विषय पर शोध किया था। पत्रकारिता एवं पत्रकारों पर भी बखूबी कलम चलानेवाले डॉक्टर मिश्र को माखनलाल चतुर्वेदी पत्रकारिता विश्वविद्यालय की ओर से प्रथम दीक्षांत समारोह में डी.लिट्. की मानद उपाधि से विभूषित किया था। उन्होंने गणेश शंकर विद्यार्थी, पत्रकारिता : इतिहास और प्रश्न पुस्तक लिखी। वहीं, ललित निबंध संग्रह बेहया का जंगल, मकान उठ रहे हैं, आंगन की तलाश में जैसी रचनाओं में ग्रामीण जीवन के भाव, विचार एवं आवेग हैं।

गांव में ही हुई थी प्रारंभिक शिक्षा
डॉक्टर मिश्र की प्रारंभिक गांव में ही हुई थी। उच्च शिक्षा के लिए वाराणसी गए, जहां आचार्य द्विवेदी के निर्देशन में शोध कार्य के पश्चात वह कोलकाता चले गए, जहां परिवार के अन्य सदस्यों का अच्छा-खासा व्यवसाय था। डॉक्टर मिश्र ने व्यावसायिक विरासत की बजाय अध्यापन का चयन किया और रम गए।

मिल चुके हैं यह सम्मान
डॉक्टर कृष्ण बिहारी मिश्र के शिक्षा और साहित्य के क्षेत्र में महत्वपूर्ण योगदान को देखते हुए भारतीय ज्ञानपीठ ने मूर्तिदेवी पुरस्कार, उत्तर प्रदेश हिन्दी संस्थान ने साहित्य भूषण एवं सन 2014 में महात्मा गांधी सम्मान से नवाजा था। उन्हें आचार्य विद्यानिवास मिश्र सम्मान और डॉक्टर हेडगेवार पुरस्कार से भी सम्मानित किया जा चुका है।

 

साहित्यकारों में खुशी
जनपद के साहित्यकार को पद्मश्री से नवाजे जाने की खबर से जनपद के साहित्यकारों में प्रसन्नता की लहर दौड़ गई। हिन्दी प्रचारिणी सभा बलिया के मंत्री शिवजी पाण्डेय रसराज ने डॉक्टर कृष्ण बिहारी मिश्र के सम्मान को जनपद का सम्मान बताया। वहीं कन्हैया पाण्डेय, शशि प्रेमदेव, शंकर शरण काफिर, सुनील कुमार, धर्मनाथ प्रसाद आदि ने भी इसे जनपद के लिए गौरवपूर्ण पल बताते हुए डॉक्टर मिश्र को बधाई दी।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned