जहरीली खिचड़ी खाने से पिता-पुत्र की मौत, तीन बेटियों की हालत बिगड़ी

घटना के बाद पूरे क्षेत्र में हड़कंप मचा है

बलिया. बैरिया थाना क्षेत्र के भोजापुर गांव में जहरीली खिचड़ी खाने से पिता पुत्र की मौत हो गई। जबकि बीमारी की हालत में तीन लड़कियों को इलाज के लिए अस्पताल मे दाखिल कराया गया। घटना के बाद पूरे क्षेत्र में हड़कंप मचा है।


आरपीएफ के रिटायर्ड जवान केदार पांडेय (65 वर्ष) के घर परंपरा के अनुसार खाने के लिए खिचड़ी बनी थी। रात लगभग 9 बजे खिचड़ी खाने के बाद केदार पांडेय घर के निकट के अपने डेरा पर सोने के लिए चले गए, जहां उनकी तबीयत बिगड़ने लगी, उल्टी, दस्त व पेट दर्द से परेशान होकर चिल्लाने लगे तो पड़ोसियों ने उनके पुत्र सुनील पांडेय को सूचना दी। सुनील पांडेय उस समय खिचड़ी खा रहे थे, खिचड़ी खाकर अपने पिता को लेकर सोनबरसा पहुंचे, जहां के चिकित्सकों ने उन्हें सदर अस्पताल रेफर कर दिया। गांव के कुछ लोगों के साथ अपने पिता को लेकर बलिया के लिए चले, मगर रास्ते में सुनील पांडेय (40 वर्ष) की तबीयत बिगड़ने लगी। ग्रामीणों ने दोनों लोगों को इलाज के लिए बलिया के एक नर्सिंग होम में भर्ती कराया, तब तक घर में सुनील पांडेय की तीन बेटियां निक्की (20), निधि (16) व नीति (13) की भी तबीयत बिगड गई जिन्हें ग्रामीणों ने सोनबरसा अस्पताल पहुंचाया।


बुधवार रात लगभग 12 बजे केदार पांडेय की मौत हो गई, गुरुवार की भोर में चार बजे केदार पांडेय के पुत्र सुनील पांडेय ने भी दम तोड़ दिया। तीनों बेटियों की हालत में सुधार होने के बाद उन्हें भी अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। सुनील पांडेय की तीन बेटियां निक्की बीए तृतीय वर्ष, निधि बीए प्रथम वर्ष व नीति आठवीं कक्षा की छात्रा है जबकि सुनील पांडेये का बेटा बीरू पांडेय (22) दिल्ली में रहकर पढ़ाई करता है। सुनील पांडेय की पत्नी बेबी ने खाना नहीं खाया था, इसलिए वह बीमार नहीं पड़ी जबकि सुनील पांडेय की मां गुजरावती देवी बलिया गई हुई थी । सुनील पांडेय सपा के सेक्टर संयोजक थे और 2000 से 2005 तक भोजापुर के उप प्रधान थे।


सुनील पांडेय की पत्नी व मां का रोते-रोते बुरा हाल है। दोनों रह-रह कर बेहोश हो जा रही है। इस हादसे के बाद केदार पांडेय का परिवार टूट गया है। घटना के बाद पूरा गांव सकते में है। वहीं दो मौतों को लेकर तरह-तरह की चर्चा व्याप्त है। पुलिस भी इसकी गहराई से जांच कर रही हैं। डॉक्टरों का कहना है किसी विषैले जानवर के गिरने या किसी जहरीले पदार्थ के मिल जाने की वजह से ऐसा हुआ होगा।

Ashish Shukla Desk
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned