यूपी के बलिया में जर्नलिस्ट की गोली मारकर हत्या, दौड़ाकर मारी गाेली

बलिया के फेफना में हुई वारदात, बचने की कोशिश करने पर पत्रकार को दौड़ाकर मारी गोली। मौके पर ही हुई मौत।

बलिया. यूपी के बलिया में सोमवार की देर रात एक निजी चैनल के पत्रकार की बदमाशों ने गोलीमारकर हत्या कर दी। बदमाशों ने फेफना थाने से महज 500 मीटर दूर वारदात को अंजाम दिया और 40 साल के पत्रकार को दौड़ाकर गोली मार दी। घटना से आक्रोशित परिवार और मीडियाकर्मी सड़क पर उतर गए। मौके पर पहुंचे एसपी ने फेफना एसओ को सस्पेंड करने और जांच के बाद अन्य पुलिस कर्मियों के खिलाफ भी कार्रवाई का आश्वासन दिया तब जाकर लोग माने। हालांकि डीआईजी रेंज आजमगढ़ ने कहा है कि हत्या पुराना जमीन विवाद व आपसी रंजिश के चलते की गई है।

 

फेफना में एक निजी चैनल के मीडियाकर्मी रतन सिंह सोमवार की शाम पैदल ही घर की ओर जा रहे थे। इसी दौरान कुछ लोगों ने उनपर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। गांव वालों के मुताबिक रतन सिंह ने बचने के लिये भागने की कोशिश की, लेकिन हमलावरों ने उन्हें दौड़ाकर गोली मार दी, जिससे उनकी मौके पर ही मौत हो गई। घटना से इलाके में सनसनी फैल गई। रतन सिंह की हत्या के बाद आक्रोशित उनका परिवार, मीडियाकर्मी और कई संगठन के लोग सड़क पर उतरे। उनका आरोप था कि पुलिस की निष्क्रियता से इतनी बड़ी घटना घटी। उधर वारदात की खबर मिलते ही पुलिस के आला अधिकारी भी मौके पर पहुंच गए। गुस्साए लोग आरोपियों की गिरफ्तारी और फेफना एसओ को बर्खास्त करने की मांग करने लगे। पुलिस अधीक्षक ने एसओ फेफना को सस्पेंड करने व जांच के बाद दूसरे पुलिस वालों पर भी कार्रवाई किये जाने का भरोसा दिलाया तब जाकर लोगों का आक्रोश कम हुआ।

 

उधर घटना के बाबत हालांकि डीआईजी रेंज आजमगढ़ ने मीडिया को दिये बयान में कहा है कि जमीन के विवाद में पत्रकार रतन सिंह की हत्या हुई है। पुलिस ने इस घटना में तत्काल तीन मुख्य आरोपियों को मौके से गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस परिवार की ओर से मिलने वाली तहरीर के आधार पर कार्रवाई करेगी।

By Amit Kumar

रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned