योगी के मंत्री का बयान- अब मुस्लिम महिलाओं को बुर्के से दिलाई जाएगी निजात

संसदीय कार्य राज्यमंत्री आनन्द स्वरूप शुक्ल ने बुर्के को अमानवीय व्यवहार और कुप्रथा करार दिया

By: Hariom Dwivedi

Published: 25 Mar 2021, 12:54 PM IST

Ballia, Ballia, Uttar Pradesh, India

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
बलिया. उत्तर प्रदेश के संसदीय कार्य राज्यमंत्री आनन्द स्वरूप शुक्ल ने अजान पर बयान के बाद अब बुर्के को लेकर सवाल खड़े किए हैं। योगी सरकार के मंत्री ने बुर्के को अमानवीय व्यवहार और कुप्रथा करार देते हुए कहा कि देश में तीन तलाक की तर्ज पर मुस्लिम महिलाओं को बुर्के से भी मुक्ति दिलाई जाएगी। इससे पहले मंत्री ने बलिया में स्थित मस्जिदों में लाउडस्पीकर की ध्वनि नियंत्रित करने और लाउडस्पीकर को हटाने के लिए जिलाधिकारी को पत्र लिखा था।

संसदीय कार्य राज्यमंत्री शुक्ल ने कहा कि देश में मुस्लिम महिलाओं को बुर्के से भी मुक्ति दिलाई जाएगी। अनेक मुस्लिम देशों में बुर्के पर पाबंदी है। यह अमानवीय व्यवहार और क्रूर प्रथा है।' इसके साथ ही उन्होंने कहा कि विकसित सोच वाले लोग न तो बुर्का पहन रहे हैं और न ही इसे बढ़ावा दे रहे हैं।

यह भी पढ़ें : अजान से कुलपति की नींद में खलल, सुभासपा ने कहा- देश में नफरत का बीज न बोयें और माफी मांगें

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned