रमन सरकार के स्मार्ट फोन की खुली पोल, इधर आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की मांग सुनकर CM भूपेश के उड़े होश

रमन सरकार के स्मार्ट फोन की खुली पोल, इधर आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की मांग सुनकर CM भूपेश के उड़े होश

Dakshi Sahu | Updated: 18 Jun 2019, 03:30:04 PM (IST) Balod, Balod, Chhattisgarh, India

आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं (Anganwadi workers) ने 10 सूत्री मांगों को लेकर सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। बीजेपी की पूर्व सरकार द्वारा आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को दिए गए एंड्राइड मोबाइल फोन को निम्न स्तर का बताया और बदलने की मांग की।

बालोद. जिले के आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं (Anganwadi workers) ने सोमवार को 10 सूत्री मांगों को लेकर बस स्टैंड धरना स्थल पर सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। कार्यकर्ताओं ने सरकार पर वादाखिलाफ का आरोप लगाकर मांगों के संबंध में अपनी आवाज बुलंद की।

Read more: Video: आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने सरकार के खिलाफ खोला मोर्चा, मांगा सरकारी कर्मचारी का दर्जा...

बड़ा आंदोलन किया जाएगा
आंगनबाड़ी कार्यकर्ता सहायिका संघ की जिला अध्यक्ष आयशा खान ने बताया कि आंगनबाड़ी कार्यकर्ता (Anganwadi workers) व सहायिका हर तरह से उपेक्षित है। जो हक बनता है उसको लेकर रहेंगे। लगातार धरना-प्रदर्शन के बाद भी मारी मांगों की ओर शासन ध्यान नहीं दे रहा है। उन्होंने कहा कि अब अगर मांग जल्द पूरी नहीं की गई तो बड़ा आंदोलन किया जाएगा।

Read more: शिक्षा विभाग के इस नए फरमान से उड़े शिक्षकों के होश, नया सत्र शुरू होने से पहले बवाल....

सरकारी मोबाइल निम्न क्वॉलिटी का
इस दौरान बीजेपी की पूर्व सरकार द्वारा आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं (Anganwadi workers) को दिए गए एंड्राइड मोबाइल फोन को निम्न स्तर का बताया और बदलने की मांग की। बता दें कि राज्य में अब सरकार बदल गई है। पूर्व में भाजपा की रमन सरकार ने आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को हाईटेक करने जिले के सभी कार्यकर्ताओं को मोबाइल फोन दिए थे। सरकार का उद्ेश्य आंगनबाड़ी के कामों को ऑनलाइन करना था। अब राज्य में कांग्रेस की भूपेश (CM Bhupesh Baghel) सरकार इसे बदलेगा या नहीं यह समय ही बताएगा।

यह है प्रमुख मांग
आंगनबाड़ी कर्मियों को सरकारी कर्मचारी (Government Employee) घोषित किया जाए। आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को 18 हजार रुपए और सहायिकाओं को नौ हजार रुपए प्रतिमाह वेतन दिया जाय। स्वास्थ्य सुविधाएं, सामजिक सुरक्षा के तहत पीएफ पेंशन और ग्रेज्युटी दी जाए। इस धरना प्रदर्शन में जिले के लगभग 14 सौ आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और सहायिका शामिल थे।

Chhattisgarh से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter और Instagram पर ..

ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट के लिए Download करें patrika Hindi News App.

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned