बालोद: सरपंच की हत्या करने वाले सात आरोपी गिरफ्तार, दो महिलाओं ने भी फावड़ा और डंडे से पीट-पीटकर मारा

25 जनवरी की सुबह चिरईगोड़ी खार में 7 लोगों ने मिलकर करहीभदर सरपंच ओमकार साहू की फावड़ा, डंडा से पीट-पीट कर हत्या कर दी। हत्या का कारण सिर्फ जमीन का विवाद है।

By: Dakshi Sahu

Updated: 28 Jan 2021, 12:08 PM IST

बालोद. 25 जनवरी की सुबह चिरईगोड़ी खार में 7 लोगों ने मिलकर करहीभदर सरपंच ओमकार साहू की फावड़ा, डंडा से पीट-पीट कर हत्या कर दी। हत्या का कारण सिर्फ जमीन का विवाद है। हत्या के सभी 7 आरोपियों को पुलिस ने धारा 302, 201, 34 के तहत गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश कर बुधवार को जेल भेज दिया है। इस हाईप्रोफाइल मामले में सभी आरोपी को पुलिस ने घटना के तीन घंटे के भीतर ही हिरासत में ले लिया था। कड़ी पूछताछ के बाद सभी आरोपियों ने अपना गुनाह स्वीकार कर लिया।

6 माह पहले खरीदी थी जमीन
डीएसपी दिनेश सिन्हा ने बताया कि आरोपियों व मृतक के परिजनों से पूछताछ में पता चला कि 6 माह पहले ओमकार ने खेती जमीन चिरईगोड़ी में खरीदी थी। उसी जमीन को लेकर हत्या के मुख्य आरोपी अशोक हरिश्चंद के साथ विवाद होता रहता था। यह विवाद घटना के दिन ज्यादा बढ़ गया। 7 लोगों ने मिलकर हत्या कर दी।

शव को दलदल में गाड़ दिया
सरपंच ओमकार की हत्या करने के बाद उसके शव को ठिकाने लगाने जगह नहीं मिली तो सभी ने मिलकर दलदलयुक्त खेत में ही उसे दफनाने की सोची। शव को खेत पर ही दलदल में गाड़ दिया। हत्या को को दुर्घटना का रूप देने ट्रैक्टर से खेत पर ही केजव्हील से जुताई करवाया। उसी में फंसा कर आरोपी ट्रैक्टर चालक ने थाने में आकर आत्मसमर्पण कर दिया।

इन्होंने सुलझाई हत्या की गुत्थी
हत्या की गुत्थी को सुलझाने व आरोपी की गिरफ्तारी में पुलिस अनुविभागीय अधिकारी बालोद दिनेश कुमार सिन्हा के नेतृत्व में थाना प्रभारी बालोद निरीक्षक जीएस ठाकुर, उप निरीक्षक यामन कुमार देवांगन, उपनिरीक्षक शिशिर पाण्डे, सउनि. कांताराम घिलेन्द्र, सउनि बीजू डेनियल, प्रधान आर. नर्मदा कोठारी, आर योगेश सिन्हा, भोपसिंह साहू, सुनील नेताम, वेदप्रकाश साहू, पुरुषोत्तम यादव, रवि बंजारे का योगदान रहा।

युवक ने दी घटना की जानकारी
जिले में यह पहली बार है जो किसी सरपंच या व्यक्ति की इतनी बेरहमी से हत्या की गई। ओमकार जब खेत गया तो आरोपी अशोक हरिश्चन्द कहने लगा कि इस खेत में धान क्यों बोया है। इसी बात पर ओमकार के साथ विवाद शुरू हुआ। फिर दो महिला व पांच पुरुषों ने मिलकर उनकी हत्या कर दी। ओमकार के साथ गए एक युवक हेमंत छत्री के साथ भी मारपीट की गई। वह भागकर गांव पहुंचा, जहां घटना की जानकारी दी। पूछताछ में पता चला कि सभी आरोपियों ने डंडा, पना, लकड़ी व फावड़ा से ओमकार पर हमला किया। शरीर पर जगह-जगह चोट के निशान व सिर भी फटा हुआ था।

ये हैं हत्या के आरोपी
अशोक कुमार साहू पिता कामता साहू (37), हरिश्चंद साहू पिता स्व. पंचम साहू (53), नेमीचंद साहू उर्फ नवीन साहू पिता हरिश्चंद साहू (25), हेमंत कुमार साहू पिता स्व. गुहाराम साहू (41), कामता साहू पिता स्व. पंचम साहू (61), ईश्वरी साहू पति अशोक कुमार साहू व सरस्वती साहू पति हेमंत कुमार साहू (39) सभी निवासी चिरईगोड़ी।

लगातार हत्याएं
जिले में कुछ माह से अचानक हत्या जैसे बड़े अपराध बढ़े हैं। बच्चों को जलाना, बलात्कार भी तेजी से बढ़े हैं। तीन माह पहले ही अरकार के पास पैसे के लेनदेन की बात पर भाजपा नेता के भाई की हत्या कर दी थी। दो माह पहले ही तांदुला जलाशय में ही एक खेल शिक्षक की हत्या पत्नी ने प्रेमी से करवा दी।

Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned