65 साल के वृद्ध को आत्महत्या के लिए उकसाया, सुसाइडल नोट के आधार पर भाजपा नेता सहित पांच आरोपी गिरफ्तार

सुसाइडल नोट और मृतक का पूर्व नमूना लिखावट परीक्षण के लिए रायपुर भेजा गया था। जांच रिपोर्ट में लिखावट का नमूना मिलने के बाद सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया।

By: Dakshi Sahu

Published: 04 May 2021, 06:14 PM IST

बालोद/गुंडरदेही. बालोद जिले के गुंडरदेही निवासी भगवानी राम यादव ने 20 जनवरी 2019 को सुबह 9 बजे अपने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। मामले में भाजपा नेता अश्वनी यादव सहित पांच लोगों को आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोप में गिरफ्तार कर जेल भेजा गया। वार्ड-10 हटरी बाजार निवासी भगवानी राम यादव ने सुसाइडल नोट लिखकर आत्महत्या की थी। इसके बाद उसका भतीजा घर आया तो देखा कि बड़े पिता भगवानी राम यादव फांसी पर झूल रहे हैं।

लगातार धमकी से परेशान था मृतक
गुंडरदेही पुलिस ने मर्ग कायम कर शव पंचनामा किया था। मामले में मोंटू उर्फ बीरेन्द्र नाहटा, राजेन्द्र यादव, अश्वनी यादव, कनक यादव, शेखर यादव, कौशिल्या बाई के खिलाफ एकराय होकर आत्महत्या के लिए दुष्प्रेरित करने पर धारा 306, 34 के तहत अपराध दर्ज किया गया। पुलिस ने बताया कि मर्ग जांच के दौरान मृतक भगवानी राम यादव पिता सोमनाथ यादव (65) का सुसाइड नोट मिला। इसमें मोंटू ऊर्फ बीरेंद्र नाहटा, राजेन्द्र यादव, अश्वनी यादव, कनक यादव, शेखर यादव, कौशिल्या बाई की ओर से उसके साथ मारपीट कर प्रताडि़त करना। शासकीय आवास बनाने वाले कर्मचारी को धमकी देकर बार-बार भगा देना। घर पर आने वाले मेहमान को अंदर करवा देने की धमकी देकर वापस भगा देना।

स्वास्थ्य खराब होने पर किसी से दवाई मंगाने पर धमकाना, परेशान करते रहना। भीख मांगते रहो कहना एवं रात्रि में आकर कोरा कागज में हस्ताक्षर करने के लिए धमकाना। न्यायालय में चल रहे प्रकरण को वापस लेने दबाव बनाकर आत्महत्या पर मजबूर किया गया। सुसाइडल नोट और मृतक का पूर्व नमूना लिखावट परीक्षण के लिए रायपुर भेजा गया था। जांच रिपोर्ट में लिखावट का नमूना मिलने के बाद सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया।

Dakshi Sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned