Breaking: तिरंगे में लिपटकर पहुंचा किसान पिता के शहीद बेटे का शव, रो पड़ा पूरा गांव, लगे अमरता के नारे

शहीद जवान का पार्थिव देह बुधवार दोपहर गृहग्राम लाया गया। जहां पुलिस के जवानों ने गार्ड ऑफ ऑनर देकर शहीद को विदा किया। यह नजारा देखकर ग्रामीणों की आंखें नम हो गई।

By: Dakshi Sahu

Published: 10 Apr 2019, 03:19 PM IST

बालोद. बस्तर में मतदान से पहले नक्सलियों ने मंगलवार को बड़े हमले को अंजाम देते हुए खून की होली खेली है। दंतेवाड़ा विधायक भीमा मंडावी के काफिले को आईईडी ब्लास्ट से उड़ा दिया। जिसमें विधायक सहित ५ जवान शहीद हो गए। दंतेवाड़ा के नकुलनार के पास हुए घटना में बालोद जिले के ग्राम नर्रा निवासी जवान छगन कुलदीप (38) भी शहीद हो गए। वे दंतेवाड़ा विधायक भीमा मंडावी की सुरक्षा में तैनात थे।

शहीद जवान का पार्थिव देह बुधवार दोपहर गृहग्राम लाया गया। जहां पुलिस के जवानों ने गार्ड ऑफ ऑनर देकर शहीद को विदा किया। यह नजारा देखकर ग्रामीणों की आंखें नम हो गई। किसान पिता के तिरंगे में लिपटे बेटे के शव को देखकर भीड़ ने जवान अमर रहे के नारे लगाए।

patrika

दंतेवाड़ा में रहते थे शहीद छगन
बालोद विकासखण्ड के अंतर्गत ग्राम नर्रा में उनके पिता हीरा सिंग, छोटा भाई भरत, मां लक्ष्मी बाई रहते हैं। पिता खेती किसानी करते हैं। छोटा भाई भरत मिस्त्री का काम करता है। शहीद छगन कुलदीप दंतेवाड़ा में अपनी पत्नी दीनू व दो बच्चों बेटा शाहिल, बेटी बेबो के साथ रहते थे। साहिल दूसरी कक्षा और बेबो पहली कक्षा में है। बता दें कि घटना के वक्त छगन कुलदीप विधायक भीमा मंडावी के साथ ही उन्हें सुरक्षा देते हुए लौट रहे थे। इसी बीच यह हमला हो गया।

खबर सुनकर बैठ गया दिल
शहीद छगन के दोस्त बीएसएफ जवान पवन कुमार साहू ने बताया साल 2001-02 में छगन की ज्वाइनिंग हुई थी। नर्रा के सेवन कुमार ने बताया कि पवन कभी कभार ही गांव आता था। वे अपने परिवार के साथ दंतेवाड़ा में रहते थे। नक्सली हमले में दोस्त के शहीद होने की खबर सुनकर दिल बैठ गया। मिलनसार छगन को हम आखिरी बार देख भी नहीं पाए। शहीद जवान के अंतिम संस्कार की प्रक्रिया फिलहाल चल रही है। जवान की शहादत को नमन करने के लिए जिला के प्रशासनिक अधिकारियों के अलावा जनप्रतिनिधि भी बड़ी संख्या में एकत्रित हुए हैं।

Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned