अवैध मुरुम खनन से बने गड्ढे में गिरने से 11 साल के मासूम बच्चे की मौत, पास खेत में काम कर रहे थे माता-पिता

नदी किनारे अवैध मुरुम खनन से बने गड्ढे में गिरने से 11 साल के मासूम बच्चे की मौत हो गई। घटना जिले के लोहारा ब्लॉक के फरदफोड़ गांव (देवरी) की है। (Balod News)

By: Dakshi Sahu

Published: 17 Mar 2020, 01:21 PM IST

बालोद. नदी किनारे अवैध मुरुम खनन से बने गड्ढे में गिरने से 11 साल के मासूम बच्चे की मौत हो गई। घटना जिले के लोहारा ब्लॉक के फरदफोड़ गांव (देवरी) की है। मिली जानकारी के अनुसार फुलेेंद्र देवांगन पिता, पुरेंद्र देवांगन गांव के दो बच्चों के साथ अपनी गाय वापस लाने नदी किनारे गया था। जहां अवैध मुरुम खनन के बाद बने बड़े गड्ढे में मासूम गिर गया। मिट्टी धसकने से वह जमीन में दब गया। मृतक के छोटे भाई ने दौड़कर घटना की सूचना पास ही खेत में काम कर रहे माता-पिता को दी। जब तक परिजन उसे लेकर अस्पताल पहुंचते मासूम की सांस थम गई थी। घटना के बाद स्थानीय चिकित्सक ने बच्चे को मृत घोषित कर दिया।

बच्चों ने बताई पूरी घटना
अपने साथी की मौत का सदमा झेल रहे बच्चों ने बताया कि फुलेंद्र अचानक गड्ढे में गिरा और मिट्टी, मुरुम में जाकर धंस गया। थोड़ी देर तक वह दिखाई ही नहीं दिया। उसे बाहर निकलने की कोशिश भी की लेकिन उसमें वह कामयाब नहीं हो पाए। जब फुलेंद्र के माता-पिता पहुंचे तब तक उसके शरीर में किसी तरह की हलचल होनी बंद हो गई थी।

चल रहा लंबे समय से अवैध खनन
घटना के बाद ग्रामीणों ने बताया कि इलाके में लंबे समय से अवैध मुरुम खनन का काम चल रहा है। नदी के किनारे मुरुम खनन से बड़े-बड़े जानलेवा गड्ढे बन गए हैं। बारिश और मुरुम निकलने के बाद मिट्टी कभी भी धसक जाती है। वहीं बारिश के दिनों में पानी भरने से ये गहरे गड्ढे जानलेवा बन जाते हैं। कई बार शिकायत के बाद भी स्थानीय पुलिस और प्रशासन इस ओर ध्यान नहीं दे रही है। जिसका खामियाजा आज मासूम की मौत से चुकाना पड़ गया।

Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned