scriptComplexes and sawmills were built on the land of billions in Palari | पलारी में अरबों की जमीन पर धन कुबेरों के तन गए कॉम्प्लेक्स और आरा मिल, गरीबों से मांग रहे 20 हजार | Patrika News

पलारी में अरबों की जमीन पर धन कुबेरों के तन गए कॉम्प्लेक्स और आरा मिल, गरीबों से मांग रहे 20 हजार

गुरुर विकासखंड के सबसे बड़े ग्राम पलारी में धनकुबेरों ने अरबों की सैकड़ों एकड़ घास भूमि पर अवैध कब्जा कर लिया। पंचायत एवं राजस्व विभाग ने कुछ नहीं किया। अब गरीब मजदूर परिवार घास, फूंस, मिट्टी, कवेलु से अपना आशियाना बना रहे हैं तो पंचायत ने आपत्ति की। घर तोडऩे की धमकी दी।

बालोद

Updated: April 04, 2022 11:01:11 pm

बालोद/गुरुर . विकासखंड के सबसे बड़े ग्राम पलारी में धनकुबेरों ने अरबों की सैकड़ों एकड़ घास भूमि पर अवैध कब्जा कर लिया। पंचायत एवं राजस्व विभाग ने कुछ नहीं किया। अब गरीब मजदूर परिवार घास, फूंस, मिट्टी, कवेलु से अपना आशियाना बना रहे हैं तो पंचायत ने आपत्ति की। घर तोडऩे की धमकी दी। गरीबों ने पंचायत से निवेदन किया तो घर नहीं तोडऩे के बदले बीस-बीस हजार रुपए की मांग की गई। पलारी के कुछ ग्रामीणों ने कलेक्टर को ज्ञापन सौंपकर पंचायत के खिलाफ शिकायत की है। ग्राम पलारी में वर्षों से दो, तीन फसल ली जाती है। यहां भूमि की कीमत बीस लाख रुपए एकड़ से अधिक है। सड़क किनारे एवं रिहायशी क्षेत्र में कीमत करोड़ों में हो जाती है। ग्रामीणों के अनुसार यहां एक हजार एकड़ से अधिक घास भूमि है। वर्तमान पटवारी ने ग्रामीणों को बताया कि यहां 650 एकड़ से अधिक घास भूमि है। पूर्व पटवारियों के अनुसार 50-60 एकड़ घास भूमि है। अर्थात कोई भी राजस्व अमला सही जानकारी नहीं दे रहा है।

जिम्मेदारों की लापरवाही
बीपीएल परिवार मिट्टी का घर बना कर रह रहा है।
ग्रामीणों ने की कलेक्टर से शिकायत, राजस्व अमला गायब
balod patrika IMAGE CREDIT: balod patrika
घास भूमि में आरा मिल, गोदाम कांप्लेक्स बने
पलारी में जो भी पंचायत में बैठा एवं जो पटवारी आया। लगभग सभी ने संपदा को खुलेआम लुटने दिया। स्थिति यह है कि जहां कुछ साल पहले खाली घास भूमि थी। वहां अब बड़े-बड़े निजी गोदाम बन गए। आरा मिल खड़ी हो गई। व्यवसायिक परिसर बन गए। खेत एव बाड़ी बनाने वालों की गिनती ही नहीं है। जिसे जहां जितनी जमीन मिली, कब्जा कर लिया। ग्राम के बाहर के लोगों ने भी पलारी की जमीन पर कब्जा किया। इन रसूखदारों के आगे किसी की नहीं चली।
राजस्व अमला गायब
इस प्रकरण में राजस्व अमला पूरी तरह शांत है। कब्जाधारी क्षेत्रों में जमीन नापने सरपंच सहित पंच ही आ रहे हैं। पटवारी, कोटवार या अन्य कोई राजस्व अमला नहीं जा रहा है। पंचायत प्रतिनिधि कई बार जमीन की नाप कर चुके हैं।
तब गरीबों के आशियाने पर भी नहीं की आपत्ति
ग्राम के गरीब मजदूर परिवार घास भूमि में मिट्टी केवलु से घर बनाकर वर्षों से रह रहे हैं। चार-पांच पंचायत कार्यकाल निकल गया। किसी पंचायत ने आपत्ति नहीं की। तब पंचायत प्रतिनिधियों ने कहा कि जब धनकुबेर अरबों की जमीन दबा रहे हैं, तो गरीब अपने रहने की जरूरत पूरी कर रहे हैं। जब हटेगा तो सभी का हटेगा। लेकिन वर्तमान पंचायत में गरीबों के खिलाफ डंडा चलाना आरंभ कर दिया है। लोगों ने आरोप लगाया कि पहले उन्हें हटने के लिए कहा गया। इस पर कहा कि यदि रहना है तो ढाई डिसमिल क्षेत्र में रहो। शेष जमीन को छोड़ो। ढाई डिसमिल के बदले 20000 दो। आरोप यह भी है कि 20 से अधिक लोगों ने पंचायत प्रतिनिधियों को बीस-बीस हजार दे दिया हैं।
ग्रामीणों में फूट डालने का प्रयास
ग्रामीणों ने बताया जब विवाद बढ़ा एवं ग्रामीण संगठित होने लगे तो पंचायत प्रतिनिधियों ने ग्रामीणों में फूट डालने का प्रयास किया। किसी को कहा कि आधा एकड़ जमीन देंगे। सबको अलग करो, किसी को कहा 20000 मत देना। शिकायत वापस ले लो पर ग्रामीणों ने कहा हम एक साथ मिलकर लड़ेंगे।
राशि लेने का आरोप गलत
सरपंच राम सिंह मार्कंडेय ने कहा राशि लेने का आरोप गलत है, हमने किसी से कोई राशि नहीं ली है। लोगों से कहा कि ढाई डिसमिल में ही कब्जा करें, शेष को छोड़ दें, पूर्व में भी सरपंचों ने घास भूमि को बेचा है, इसलिए मैं भी दे रहा हूं।
पटवारी को मामले में रिपोर्ट मंगाई है
नायब तहसीलदार नितिन ठाकुर ने बताया कि हमने पटवारी को मामले में रिपोर्ट मंगाई है। जांच के बाद प्रकरण कायम कर नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Veer Mahan जिसनें WWE में मचा दिया है कोहराम, क्या बनेंगे भारत के तीसरे WWE चैंपियनName Astrology: इन नाम वाले लोगों के जीवन में अचानक से धनवान बनने का होता है योगफटाफट बनवा लीजिए घर, कम हो गए सरिया के दाम, जानिए बिल्डिंग मटेरियल के नए रेटबुध जल्द वृषभ राशि में होंगे मार्गी, इन 4 राशियों के लिए बेहद शुभ समय, बनेगा हर कामबेहद शार्प माइंड होते हैं इन 4 राशियों के लोग, बुध और शनि देव की रहती है इन पर कृपाज्योतिष: रूठे हुए भाग्य का फिर से पाना है साथ तो करें ये 3 आसन से कामराजस्थान में देर रात उत्पात मचा सकता है अंधड़, ओलावृष्टि की भी संभावनाशादी के 3 दिन बाद तक दूल्हा-दुल्हन नहीं जा सकते टॉयलेट! वजह जानकर हैरान हो जाएंगे आप

बड़ी खबरें

कश्मीर में आतंकी हमले में टीवी एक्ट्रेस की मौत, 10 साल के भतीजे पर भी हुई फायरिंगसुरक्षा एजेंसियों ने यासीन मलिक की सजा के बाद जारी किया आतंकी हमले का अलर्टIPL 2022, LSG vs RCB Eliminator Match Result: पाटीदार के दम पर जीता RCB, नॉकआउट मुकाबले में LSG को 14 रनों से हरायाटेरर फंडिंग केस में यासीन मलिक को उम्र कैद की सजा, 10 लाख का जुर्मानायासीन मलिक की सजा से तिलमिलाया पाकिस्तान, PM शहबाज शरीफ, इमरान खान, शाहिद आफरीदी को आई मानवाधिकार की यादAir Force के 4 अधिकारियों की हत्या, पूर्व गृहमंत्री की बेटी का अपहरण सहित इन मामलों में था यासीन मलिक का हाथअमरनाथ यात्रियों को तीन लेयर में मिलेगी सिक्योरिटी, ड्रोन व CCTV कैमरों के जरिए भी रखी जाएगी नजरमहबूबा मुफ्ती ने बीजेपी पर हमला करते हुए कहा- आप बता दो कि मुसलमानों के साथ क्या करना चाहते हो
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.