पिछले साल बालोद जिले के कोतवाली थाने में सबसे ज्यादा 352 और सबसे कम मात्र 4 अपराध महामाया थाने में दर्ज

बालोद जिले में अपराध का ग्राफ बढ़ता ही जा रहा है। जिले के कोतवाली थाना से लेकर सभी 12 थानों में बीते साल 2019 में सबसे ज्यादा अपराध दर्ज हुए है।

By: Chandra Kishor Deshmukh

Updated: 03 Jan 2020, 10:54 PM IST

बालोद @ patrika . जिले में अपराध का ग्राफ बढ़ता ही जा रहा है। जिले के कोतवाली थाना से लेकर सभी 12 थानों में बीते साल 2019 में सबसे ज्यादा अपराध दर्ज हुए है।

जिले के 12 थानों में कुल 1715 अपराध दर्ज
जिले के 12 थानों में कुल 1715 अपराध दर्ज हुए हैं जिसमें से सबसे ज्यादा कोतवाली थाना बालोद है। यहां पर सालभर के भीतर 352 अपराध दर्ज हुए वहीं सबसे कम अपराध महामाया थाने में मात्र 4 दर्ज थे। इन थानों में छेडख़ानी, हत्या, चोरी, डकैती, बलात्कार, लूट व धोखाधड़ी जैसे गंभीर अपराध भी दर्ज किए गए है। पुलिस प्रशासन अपराध नियंत्रण के लिए सामुदायिक पुलिसिंग के जरिए लोगों को जागरूक कर रहा है।

बढ़ते अपराध का कारण नशा और असहनशीलता
लगातार बढ़ रहे अपराध और अपराध होने का एक बड़ा कारण नशा को माना जा रहा है। अधिकतर अपराध नशे की हालत, शक की बीमारी और असहनशीलता के कारण हुए हंै।

सबसे ज्यादा चोरी, हत्या, बलात्कार व अपहरण की घटना
सालभर के भीतर एक जनवरी से 31 दिसंबर 2019 तक सबसे ज्यादा अपराधा चोरी के 150, बलात्कार के 77, अपहरण के 55 व हत्या के 20 प्रकरण दर्ज हैं। जिले के सभी थानों में हुए अपराध में लगभग सभी थानों में 8 0 फीसदी मामलों पर आरोपी के खिलाफ कार्रवाई की गई है।

गुरुर थाने में 289, गुंडरदेही में 283 अपराध दर्ज
पुलिस अधीक्षक कार्यालय से मिली जानकारी के मुताबिक इस साल सबसे ज्यादा अपराध कोतवाली थाना में दर्ज हुआ है। यहां साल भर में 352 मामलें दर्ज हुए हैं। इसी तरह गुरुर थाने में 289, गुंडरदेही में 283 अपराध दर्ज किए गए हैं। जिले में सबसे कम अपराध महामाया थाने में 4, मंगचुवा थाने में 19 है।

महिलाएं भी नहीं सुरक्षित
जिले में महिलाएं भी सुरक्षित नहीं है। जिले में महिला संबंधित अपराध में बलात्कार, अपहरण, शीलभंग, दहेज प्रताडऩा और छेडख़ानी के मामला दर्ज किए गए। जिले में दहेज के कुल 14 मामला, छेडख़ानी के 38 और बलात्कार के 77 मामले शामिल है।

साल 2019 में घटे अपराध
थाना - अपराध - हत्या - चोरी - बलात्कर
बालोद - 352 - 5 - 39 - 15
गुरुर - 289 - 3 - 28 - 12
डौंडीलोहारा - 184 - 3 - 8 - 7
देवरी - 76 - 1 - 6 - 2
राजहरा - 179 - 0 - 15 - 6
डौंडी - 101 - 1 - 5 - 5
महामाया - 4 - 1 - 0 - 1
रनचिरई - 75 - 1 - 1 - 11
गुंडरदेही - 283 - 1 - 31 - 10
अर्जुन्दा - 110 - 0 - 4 - 3
सुरेगांव - 43 - 2 - 2-3
मंगचुवा - 19 - 2 - 2 - 2

साल 2020 का पहला बड़ा अपराध ग्राम सकरौद में
साल 2020 में साल का पहला और सबसे बड़ा अपराध गुंडरदेही ब्लाक के ग्राम सकरौद में सामने आया है। यहां शराब के नशे में गांव के ही तीन लोगों पर कुल्हाड़ी से हमला कर दिया, जिससे एक युवक की मौत और दो अन्य घायल हो गए। इस मामले के आरोपी को गिरफ्तार करने पहुंची पुलिस पर भी नाराज ग्रमीणों ने पथराव व पुलिस की गाड़ी पर तोडफ़ोड़ कर दी थी।

Show More
Chandra Kishor Deshmukh Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned