बालोद, बेटियों को शर्मिंदा न होना पड़े इसलिए मां-बाप ने लिया अनोखा शपथ, जिस घर में शौचालय नहीं, वहां नहीं करेंगे बेटियों की शादी

विश्व शौचालय दिवस पर बाालोद जिले के दल्लीराजहारा में बेटियों ने अनोखा शपथ जीवनभर के लिए लिया। उन्होंने कहा जिस घर में शौचालय नहीं होगा वहां वे शादी नहीं करेंगी।

By: Dakshi Sahu

Published: 21 Nov 2020, 12:51 PM IST

बालोद/दल्लीराजहरा. विश्व शौचालय दिवस पर बाालोद जिले के दल्लीराजहारा में बेटियों ने अनोखा शपथ जीवनभर के लिए लिया। उन्होंने कहा जिस घर में शौचालय नहीं होगा वहां वे शादी नहीं करेंगी। कुछ इसी तरह का शपथ उनके परिजनों ने भी लिया। उन्होंने कहा कि जिस घर में शौचालय नहीं होगा वहां हम बेटियों की शादी भी नहीं करेंगे। शौच मुक्त भारत की दिशा में सकारात्मक पहल की चर्चा पूरे प्रदेश में हो रही है। अपने स्वाभिमान के साथ देश की स्वच्छता के लिए उठाए गए बेटियों के इस कदम की हर जगह सराहना हो रही है। दल्लीराजहरा नगर के वार्ड-17 एवं कोंडेकसा क्षेत्र में बेटियों और माताओं ने जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन कर लोगों को अपने घरों में शौचालय बनाने के लिए प्रेरित किया।

बेटियों ने कहा कि हम जागेंगे तभी देश भी जगेगा
वार्ड-17 की बेटियों ने कहा कि हम जागेंगे तो भारत जगेगा, मेरी डोली जाएगी वहां, शौचालय हो जहां, जिस घर में शौचालय नहीं तो वहां शादी नहीं। कोंडेकसा क्षेत्र की माताओं ने शपथ लेते हुए कहा कि पहले जैसा अब कुछ नहीं होगा। जिस घर में शौचालय नहीं होगा, उस घर में हम अपनी बेटियों का विवाह नहीं करेंगे। उन्होंने लोगोंं को अपने घर में शौचालय बनाने की प्रेरणा देने, नदी नालों व तालाबों के आसपास शौच के लिए मना करने एवं जल को स्वच्छ बनाए रखने की शपथ ली। खुले में शौच की प्रथा को बंद करने के लिए लोगों को पे्ररित किया।

शराबियों के कारण गुरुर में बंद करना पड़ता है सुलभ शौचालय

बालोद जिले के गुरुर नगर के वार्ड-12 में बने शौचालय को शराबियों के कारण बंद करना पड़ रहा है। कई दिनों से सुबह 11 बजे तक शौचालय को खुला रखा जाता है, जिसके चलते कई बार लोगों को मजबूरन खुले में शौच जाना पड़ रहा है। दोपहर के बाद चखना दुकान, मुर्गी, मछली बेचने वाले उसके सामने अपनी दुकान लगाते हैं, जिसके कारण शौचालय में ताला जडऩा पड़ता है। मार्ग में आने जाने वाले एवं वार्डवासियों को परेशानियों का सामना करना पड़ता है। सुलभ शौचालय देसी शराब दुकान जाने के मार्ग पर स्थित है, जिसके चलते लोगों का दिनभर आना जाना लगा रहता है। सुलभ शौचालय में ताला लगे होने के कारण इसका उपयोग नहीं हो पाता। वार्ड के पार्षद मुकेश कुमार साहू ने बताया कि इस पर अध्यक्ष एवं सीएमओ से चर्चा की गई। सुलभ शौचालय को खुला रखने की बात की गई है। उन्होंने बताया कि पहले शौचालय में ताला नहीं लगाया जाता था, लेकिन देसी शराब दुकान जाने के मार्ग होने के कारण शराबी सुलभ शौचालय में जाकर शराब पीकर गंदगी कर देते हैं, वार्डवासियों को परेशानी होती है।

Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned