अवैध शराब के खिलाफ अनशन

अवैध शराब के खिलाफ अनशन
Fast against illegal liquor

Common Desk | Publish: Jun, 29 2016 11:52:00 PM (IST) Balod, Chhattisgarh, India

अवैध शराब पर रोक नहीं लगने से नाराज ग्राम पंचायत पिनकापार के सरपंच व पंचों ने अनशन शुरू कर दिया है। 

बालोद/देवरीबंगला. अवैध शराब पर रोक नहीं लगने से नाराज ग्राम पंचायत पिनकापार के सरपंच व पंचों ने अनशन शुरू कर दिया है। पिछले एक सप्ताह से पंचायत पदाधिकारी अवैध शराब पर रोक लगाने के लिए पुलिस से गुहार लगा रहे थे। इसके पूर्व पिनकापार चौकी का घेराव किया गया था। इसके बाद स्थिति नहीं सुधरी तो वे अनशन पर बैठने का फैसला लिया गया।

आगे पूरा गांव करेगा अनशन
सरपंच इंदु भुआर्य ने बताया कि जब तक अवैध कारोबार पर रोक नहीं लग जाता तब तक वे रोज अनशन पर बैठेंगे। बुधवार को कुछ घंटे अनशन कर इस बात की चेतावनी दी गई है कि जल्द ही कार्रवाई करें अन्यथा पूरा गांव इसके विरोध में उतर आएंगे। उन्होंने बताया कि गांव में अवैध शराब की बिक्री को लेकर गांव वाले पंचायत पदाधिकारियों को रोज खरी-खोटी सुनाते हैं। इससे गांव की प्रतिष्ठा धुमिल होने के साथ ही गांव में शांति व्यवस्था खराब हो रही है। पुलिस में शिकायत के बाद भी कार्रवाई नहीं होने से पंचायत पदाधिकारीयों व ग्रामीण नाराज है।

शराब कोचियों से रोजाना होता है विवाद
ज्ञात हो कि अवैध शराब को लेकर आए दिन कुछ गांव में अवैध शराब कोचियों से वाद विवाद होती रहती है, लेकिन उन पर कार्रवाई नहीं होने से उनके हौसले बुलंद हैं। अंचल के गांव में देर रात एक पुराने वाहन में अवैध शराब की खेप डौण्डीलोहारा, डोंगरगांव, अण्डा व राजनांदगांव के रास्ते पहुंचाए जा रहे हैं। ग्रामीणों के विरोध के बाद कुछ दिनों तक तो अवैध शराब बंद रहती है पर बाद में फिर से शुरू हो जाती है।

शिकायत मिली थी
देवरी थाना प्रभारी केसी डे ने बताया पिनकापार में शिकायत मिली थी जिस पर जांच कर कार्रवाई भी हुई है। अनशन के बारे में मुझे जानकारी नहीं है। यदि शिकायत है तो फिर से जांच कर कार्रवाई करेंगे। यदि अवैध शराब के वाहन को पकडऩे के लिए टीम को निगरानी में लगाएंगे। अवैध कारोबारियों को बक्शा नहीं जाएगा।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned