पूर्व मंत्री प्रेमप्रकाश पांडेय का रिश्तेदार बताकर महिला से 2.30 लाख रुपए की ठगी, स्टेनो की नौकरी लगाने का दिया था झांसा

पूर्व मंत्री प्रेमप्रकाश पांडेय का रिश्तेदार बताकर भिलाई निवासी प्रमोद पांडेय ने राजस्व विभाग में स्टेनो की नौकरी दिलाने का लालच देकर महिला से 2 लाख 30 हजार 500 रुपए की धोखाधड़ी कर ली।

By: Dakshi Sahu

Published: 22 Nov 2020, 01:19 PM IST

बालोद. पूर्व मंत्री प्रेमप्रकाश पांडेय का रिश्तेदार बताकर भिलाई निवासी प्रमोद पांडेय ने राजस्व विभाग में स्टेनो की नौकरी दिलाने का लालच देकर महिला से 2 लाख 30 हजार 500 रुपए की धोखाधड़ी कर ली। महिला गुुरुर थाना क्षेत्र के ग्राम बगदई की निवासी है। पीडि़त महिला देवकुमारी साहू पति बसंत साहू और अमिता मगेंद्र पति विजय मगेंद्र ने बताया कि वे प्रमोद पांडेय से लोटस 59 तालपुरी इंटरनेशनल कॉलोनी भिलाई में मिली थी। धोखाधड़ी की शिकायत गुरुर थाने में की गई है।

नौकरी लगवाने के नाम पर की गई है ठगी
गुरुर पुलिस ने आरोपी प्रमोद पांडेय के खिलाफ 420 का मामला दर्ज किया है। पुलिस के अनुसार राजस्व विभाग में स्टेनोग्राफर पद पर नियुक्ति के लिए पांच लाख रुपए मांगा गया था। अग्रिम राशि के रूप में 2,50,000 रुपए की मांग की गई। सितंबर 2019 में 230500 रुपए उसे दिए गए थे। प्रमोद पांडेय ने दो-तीन माह में नौकरी लगवाने की बात कही थी। 15 माह के बाद भी नौकरी नहीं लगी। पैसा वापस करने के नाम पर महिलाओं को घुमा रहा था।

अकाउंट से किया पैसा ट्रांसफर
पीडि़त महिलाओं का फोन भी आरोपी रिसीव नहीं कर रहा था। देवकुमारी ने 1,62,000 रुपए 16 सितंबर 2019 को प्रमोद पांडेय को गुरूर में दिया। बदले में सिक्योरिटी के रूप में प्रमोद पांडेय ने इतनी ही राशि का यूको बैंक का चेक दिया था। 8 नवंबर 2019 देवकुमारी के अकाउंट से 38000 रुपए प्रमोद पांडेय के खाते में ट्रांसफर किया। अमिता मगेन्द्र ने अपने पति विजय मगेन्द्र के खाता से प्रमोद पांडे के अकाउंट में राशि ट्रांसफर की। बार-बार मांग करने के बाद भी जब आरोपी ने पैसा नहीं दिया तो महिलाओं ने पुलिस में श्किायत की है।

Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned