गर्ल फ्रेंड की उधारी चुकाने अपनाया शार्टकट रास्ता और पहुंच गया जेल

गर्ल फ्रेंड की उधारी चुकाने अपनाया शार्टकट रास्ता और पहुंच गया जेल

Chandra Kishor Deshmukh | Updated: 12 May 2019, 08:16:16 AM (IST) Balod, Balod, Chhattisgarh, India

गर्ल फ्रेंड की उधारी चुकाने और शान से अपनी शादी करने युवक ने चोरी का शार्टकट रास्ता अपना लिया। उसने इलेक्ट्रानिक्स दुकान में हजारों रुपए की सामान की चोरी भी कर ली, किन्तु चोरी के बाद से उसकी संदिग्ध गतिविधियों ने उसे पुलिस तक पहुंचा दिया।

बालोद @ patrika. गर्ल फ्रेंड की उधारी चुकाने और शान से अपनी शादी करने युवक ने चोरी का शार्टकट रास्ता अपना लिया। उसने इलेक्ट्रानिक्स दुकान में हजारों रुपए की सामान की चोरी भी कर ली, किन्तु चोरी के बाद से उसकी संदिग्ध गतिविधियों ने उसे पुलिस तक पहुंचा दिया। मोबाइल लोकेशन ट्रेस कर पुलिस ने आरोपी युवक को घर से गिरफ्तार कर लिया।

ग्राम सिकोसा के कंप्यूटर व एजुकेशन सेंटर में की चोरी
जानकारी के मुताबिक यह घटना करीब दो माह पूर्व 6-7 मार्च 2019 के दरम्यानी रात की है। ग्राम सिकोसा के परमानंद देवांगन कंप्यूटर व एजुकेशन सेंटर में किसी अज्ञात व्यक्ति ने दुकान के पीछे के लकड़ी के दरवाजे को आरी से काटकर लैपटॉप व अन्य इलेक्ट्रानिक सामान की चोरी कर ली थी। जिसकी रिपोर्ट गुंडरदेही थाने में दर्ज कराई थी। पुलिस ने धारा 457, 380 का मामला दर्ज कर अज्ञात आरोपी की तलाश में जुटी थी। दो माह की तलाशी के बाद आरोपी पुलिस के हत्थे चढ़ गया।

आखिर गुनाह कबूल लिया
आरोपी ने पुलिस को बताया कि वह अपनी गर्लफ्रेंड से उधार में रुपए लिए थे। साथ ही अपनी शादी के लिए पैसे इक_ा करने उसने चोरी का शार्टकट रास्ता अपनाया। पहले आरोपी चोरी से इनकार करता रहा, कड़ाई से पूछताछ की तो अपना गुनाह कबूल लिया।

शक पर पुलिस ने की मोबाइल ट्रेस
पुलिस को शक हुआ कि ग्राम सिकोसा के एक व्यक्ति का गतिविधियां संदिग्ध हैं। पुलिस ने गुप्त रूप से उसका मोबाइल नंबर प्राप्त कर साइबर सेल की मदद से घटना स्थल के समीप और घटना दिनांक को ट्रेस किया। आरोपी के मोबाइल का लोकेशन घटनास्थल के आसपास रात करीब 2:30 बजे का पाया गया। आरोपी प्रीतम मारकंडे निवासी सिकोसा मिी का काम करता है।

आरी से दरवाजे को काटकर की चोरी
आरोपी का परमानंद देवांगन कंप्यूटर एंड एजुकेशन सेंटर में पहले से आना-जाना था, जिसे टारगेट कर दो-तीन दिन बार रेकी की। घटना दिनांक को रात में आरी व ब्लेड लेकर दुकान के पीछे लकड़ी के दरवाजे को आरी से काटकर चोरी की। चोरी के सामान को दे दिनों तक पैरावट में छुपा दिया था।

आरोपी से यह सामान हुआ बरामद
आरोपी प्रीतम मारकंडे से 2 सेट प्रिंटर, 2 सेट सीपीयू, 2 नग लैपटाप, 2 नग मोबाइल, एक नग जिओ वाई-फाई, माइक 1 नग, डोंगल 2 नग बरामद किया गया है। सामानों को दो दिन बाद पद्मनाभपुर जिला दुर्ग में अपनी बुआ के यहां ले जाकर छुपा रखा था। 2 नग मोबाइल को स्क्रीन खराब हो जाने के कारण नदी में फेंक दिया। मामले के खुलासे में उपनिरीक्षक शिशिर पांडेय, आरक्षक विपिन गुप्ता, आकाश सोनी, योगेश सिन्हा व साइबर सेल के पुरन देवांगन का योगदान रहा।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned