scriptमनरेगा में काम के दौरान मजदूर बेहोश, एंबुलेंस के पहुंचने से पहले मौत | Patrika News
बालोद

मनरेगा में काम के दौरान मजदूर बेहोश, एंबुलेंस के पहुंचने से पहले मौत

ग्राम माहुद (अ) के बांध के पास स्थित तालाब में मनरेगा काम चल रहा था। सुबह 7.30 बजे काम के दौरान स्थानीय निवासी 62 वर्षीय विश्राम सिंह साहू अचानक बेहोश हो गए। आनन-फानन में अन्य मजदूरों ने तत्काल 108 में फोन कर एंबुलेंस को सूचना दी। कुछ देर बाद एंबुलेंस मौके पर पहुंची और बिसराम की जांच की गई तो वह दम तोड़ चुका था। उसे अर्जुंदा शासकीय अस्पताल पहुंचाया गया, जहां से पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया।

बालोदJun 03, 2024 / 11:48 pm

Chandra Kishor Deshmukh

ग्राम माहुद (अ) के बांध के पास स्थित तालाब में मनरेगा काम चल रहा था। सुबह 7.30 बजे काम के दौरान स्थानीय निवासी 62 वर्षीय विश्राम सिंह साहू अचानक बेहोश हो गए। आनन-फानन में अन्य मजदूरों ने तत्काल 108 में फोन कर एंबुलेंस को सूचना दी। कुछ देर बाद एंबुलेंस मौके पर पहुंची और बिसराम की जांच की गई तो वह दम तोड़ चुका था। उसे अर्जुंदा शासकीय अस्पताल पहुंचाया गया, जहां से पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया।

MGNREGA अर्जुन्दा तहसील मुख्यालय से 8 किमी दूर माहुद (अ) में मनरेगा काम कर रहे मजदूर की मौत से हड़कंप मच गया। प्रशासन की ओर से मृतक मजदूर के परिजनों को तत्काल श्रद्धांजलि योजना के अंतर्गत 2000 रुपए आर्थिक सहायता राशि दी गई है।

मनरेगा के तहत चल रहा था तालाब का कार्य

ग्राम माहुद (अ) के बांध के पास स्थित तालाब में मनरेगा काम चल रहा था। सुबह 7.30 बजे काम के दौरान स्थानीय निवासी 62 वर्षीय विश्राम सिंह साहू अचानक बेहोश हो गए। आनन-फानन में अन्य मजदूरों ने तत्काल 108 में फोन कर एंबुलेंस को सूचना दी। कुछ देर बाद एंबुलेंस मौके पर पहुंची और बिसराम की जांच की गई तो वह दम तोड़ चुका था। उसे अर्जुंदा शासकीय अस्पताल पहुंचाया गया, जहां से पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया। अर्जुंदा थाना प्रभारी मनीष शेंडे ने कहा कि घटनास्थल पर पहुंचकर पंचनामा कर मर्ग कायम किया गया। आगे की जांच जारी है।

यह भी पढ़ें

भाजपा-कांग्रेस सहित 9 प्रत्याशियों के भाग्य का होगा फैसला, 9 बजे के बाद आने शुरू होंगे रूझान

एंबुलेंस पहुंचने से पहले मजदूर ने तोड़ा दम

अर्जुंदा अस्पताल प्रभारी डॉ एसपी खान ने कहा कि एंबुलेंस के पहुंचने से पहले मजदूर ने दम तोड़ दिया था। एंबुलेंस के माध्यम से मृतक को अस्पताल लाया गया, जहां से पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया। प्रथम दृष्टया हार्ट अटैक से मौत होने का अनुमान है। मौत की स्पष्ट वजह पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही पता चल पाएगी।

यह भी पढ़ें

आचार संहिता हटने के बाद प्रदेश में सांय-सांय होंगे काम, किसी को निराश नहीं होने देंगे

पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद मिलेगी 25 हजार की सहायता

सीईओ जनपद गुंडरडेही निखत सुल्ताना ने कहा कि तात्कालिक राहत के लिए मृतक के परिजनों को घटना के बाद श्रद्धांजलि योजना के अंतर्गत 2000 रुपए की राशि सरपंच ने दी है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद 25 हजार रुपए की आर्थिक सहायता राशि शासन की ओर से दी जाएगी।

यह भी पढ़ें

तीन गांवों में सड़क निर्माण के लिए बजट में 8 करोड़ स्वीकृत, प्रशासकीय स्वीकृति नहीं मिलने से निर्माण नहीं

60 साल से अधिक उम्र के व्यक्ति से ले रहे काम

मामले में रोजगार सहायक एवं सचिव की लपरवाही भी सामने आ रही है। विश्राम सिंह साहू की उम्र आधार कार्ड के अनुसार 64 वर्ष रनिंग है। उनके परिजन उम्र 62 वर्ष बता रहे हैं। मनरेगा में काम करने की निश्चित आयु 60 वर्ष है। सचिव एवं रोजगार सहायक अधिक उम्र के व्यक्ति से काम करा रहे हैं। इसकी जांच होनी चाहिए।

Hindi News/ Balod / मनरेगा में काम के दौरान मजदूर बेहोश, एंबुलेंस के पहुंचने से पहले मौत

ट्रेंडिंग वीडियो