बिजली का तार टूटने से गांवों में दो दिनों से पसरा अंधेरा

डौंडी विकासखंड के ग्राम दारूटोला में स्कूल के समीप बिजली तार टूटने से बीते तीन दिनों से बिजली सप्लाई ठप है। दो दिनों व एक रात से गांवों में बिजली नहीं है। बिजली कंपनी में शिकायत के बाद भी बिजली सप्लाई व्यवस्था बहाल नहीं हुई है।

By: Chandra Kishor Deshmukh

Published: 07 Jul 2019, 08:29 AM IST

बालोद/दल्लीराजहरा @ patrika. डौंडी विकासखंड के ग्राम दारूटोला में स्कूल के समीप बिजली तार टूटने से बीते तीन दिनों से बिजली सप्लाई ठप है। दो दिनों व एक रात से गांवों में बिजली नहीं है। बिजली कंपनी में शिकायत के बाद भी बिजली सप्लाई व्यवस्था बहाल नहीं हुई है।

तार जोड़कर वापस नहीं आए कर्मचारी
गांव के दिनेश कुमार, मिथलेश, वरूण, अग्रहिज खरांशु एवं धनसाय रावटे ने बताया कि बीते बुध एवं गुरुवार को आसमान में बिजली चमकने और तेज बारिश के साथ हवा चलने से बिजली तार टूटकर गिर गए। इसकी जानकारी विद्युत वितरण केंद्र डौंडी को दी गई। जिसके बाद कर्मचारियों ने तार को काटकर सप्लाई बहाल की। इस दौरान कर्मचारियों ने बिजली तारों को जोड़कर गांव में बिजली सप्लाई शुरू करने का भरोसा दिलाया और चले गए। इसके बाद कर्मचारी वापस आएं ही नहीं जिससे ग्रामवासी नाराज है।

कोई ठोस प्रयास नहीं किया जा रहा
ग्रामवासियों ने यह भी बताया कि थोड़ी सी हवाएं चलने या बूंदाबांदी होने पर भी इस क्षेत्र के गांवों में बिजली गुल होना आम बात हो गई है। कई बार तो दो तीन दिनों तक बिजली गुल रहती है। इसके अलावा ट्रांसफार्मर में आए दिन खराबी आने से बिजली की सप्लाई बंद रहती है। इस तरह की समस्या को दूर करने के अलावा स्थायी समाधान करते हुए हर साल गांवों में होने वाली परेशानी से निजात दिलाने कोई ठोस प्रयास नहीं किया जा रहा है।

कर्मचारियों की कमी का रोना
विद्युत वितरण केंद्र डौंडी में शिकायत करने पर हर बार कर्मचारियों की कमी का रोना रोया जाता है। इस केंद्र के अंतर्गत 80 से अधिक गांव आते हैं और 65 किलोमीटर क्षेत्र में फैला हुआ है। इसके विपरित केंद्र मेेंं स्वीकृत पदोंं के मुकाबले विभागीय कर्मचारियों की कमी है।

Show More
Chandra Kishor Deshmukh Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned