scriptLightning driver not installed in tall building | हर साल बिजली गिरने से होती हैं मौतें, ऊंचे भवनों में नहीं लगा तड़ित चालक | Patrika News

हर साल बिजली गिरने से होती हैं मौतें, ऊंचे भवनों में नहीं लगा तड़ित चालक

cमानसून सीजन शुरू होते ही अतिवर्षा और जल भराव को लेकर लोगों में चिंता रहती है, वहीं आकाशीय बिजली गिरने से होने वाले नुकसान का भी डर बना रहता है। दो साल में बिजली गिरने से लगभग दर्जनभर से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है।

बालोद

Published: June 25, 2022 12:08:40 am

बालोद. मानसून सीजन शुरू होते ही अतिवर्षा और जल भराव को लेकर लोगों में चिंता रहती है, वहीं आकाशीय बिजली गिरने से होने वाले नुकसान का भी डर बना रहता है। दो साल में बिजली गिरने से लगभग दर्जनभर से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। इस साल जून में डौंडीलोहारा ब्लॉक मुख्यालय में बिजली गिरने से 28 बकरियों की मौत हो चुकी है। वहीं गुरुवार को बेलोदा में अपने खेत में गन्ने की फसल देखने गए शिक्षक की भी मौत हो गई।

लापरवाही ले रही जान जून में गाज गिरने से शिक्षक और 28 बकरियों की हुई मौत
बालोद शहर में भी ऊंचे-ऊंचे भवन बनाए जा रहे हैं, भवन वाले और पालिका नहीं दे रही ध्यान।

ऊंचे टावरों, भवनों की अनदेखी
मानसून ने दस्तक दे दी है। नगर पालिका आकाशीय बिजली के कहर से बचने कोई ठोस कदम नहीं उठा पाया है। इसके खतरे को देखते हुए टॉवरों, उद्योगों की चिमनियों, बड़ी इमारतों के मालिकों को तडि़त चालक लगवाने जागरूक करने की जरूरत है। पूर्व में लगाए गए मोबाइल टॉवरों और इमारतों में तडि़त चालक लगाने की भी सुध नहीं ली जा रही है।

क्या है तडि़त चालक
तडि़त चालक एक धातु की छड़ होती है। ऊपरी सिरा नुकीला होता है। इसे मोबाइल टॉवर, इमारतों के सबसे ऊपर हिस्से में लगाया जाता है। इसे तार से जोड़कर सीधे नीचे धरती में कॉपर प्लेट के साथ गड़ा दिया जाता है। इस कारण आकाशीय बिजली से भवनों के आसपास क्षेत्र को सुरक्षित रखा जा सकता है।

ऐतिहासिक इमारतों, धरोहरों की सुरक्षा भी जरूरी
जिले में ऐतिहासिक किला प्रवेश द्वार, ऐतिहासिक भवन हैं। आदिकाल के ऊंचे मंदिर हैं। इन ऐतिहसिक जगहों में भी सुरक्षा के लिए तडि़तचालक नहीं लगाए गए हैं। गांवों में भी लोग ऊंचे भवन बना रहे हैं, उन्हें भी अपने ऊंचे भवनों में सुरक्षा के लिहाज से तडि़त चालक लगाना चाहिए। लोग ऐसी किसी सुरक्षा को नहीं जानते या फिर ध्यान ही नहीं दे रहे हैं। कई लोगों को यह भी पता नहीं है कि आखिर तडि़त चालक क्या है। जानकारी के अभाव में इसे लगा नहीं रहे हैं।

12 मीटर से अधिक ऊंचाई वाले भवन-टॉवरों में अनिवार्य
नेशनल बिल्डिंग कोड ऑफ इंडिया के मुताबिक 12 मीटर से ज्यादा ऊंचाई वाले भवनों में फायर एंड लाइफ सेप्टी के इंतजाम अनिवार्य हंै। इसके तहत भवनों में आकाशीय बिजली से बचने तडि़त चालक का इंतजाम भी जरूरी है। बालोद में ही 12 मीटर से अधिक ऊंचाई वाले 50 से अधिक भवन हैं। अभी कई भवन बन रहे हैं, लेकिन किसी में भी तडि़तचालक नहीं लगाया गया है। नगर में भी दर्जनभर मोबाइल टॉवर में भी तडि़त चालक लगाने पर ध्यान नहीं है।

आकाशीय बिजली में रखें ये सावधानी
बादलों के गरजने व आकाशीय बिजली चमकने के समय घर से बाहर नहीं निकलें।
विद्युत पोलों से दूरी बनाकर रखें।
मोबाइल पर बात न करें, मोबाइल का स्विच बंद रखें।
गरजते समय कभी खुले जगह में न रहें।
बड़े पेड़, मोबाइल टॉवर व ऊंची इमारत के नीचे न रहें।

तडि़त चालक लगाने लोगों को करेंगे जागरूक
नगर पालिका बालोद के सीएमओ रोहित साहू ने बताया कि शासन की गाइड लाइन में ऊंचे भवनों, टॉवरों में तडि़त चालक लगाने का प्रावधान है। तडि़त चालक लगाने लोगों को जागरूक करेंगे और अपील भी करेंगे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Jammu Kashmir: बाहरी लोगों को वोट के अधिकार देने पर भड़के कश्मीरी नेता, मुफ्ती और उमर ने केंद्र पर साधा निशानाशुभेंदु अधिकारी का दावा, दिसंबर तक टूट जाएगी TMC, बंगाल में दोहराया जाएगा महाराष्ट्र!Karnataka: BJP में दरार, MLA बसनगौड़ा यतनाल ने कहा- मैं सीएम बना तो पार्टी जीतेगी 150 सीटेंगैंगरेप व परिजनों के हत्यारों की रिहाई पर बोलीं बिलकिस बानो- गुजरात सरकार के इस फैसले ने न्याय के भरोसे को तोड़ाRoad Accident: हिमाचल की यात्रा पर गया था भीलवाड़ा का परिवार, खड़े ट्रक में कार घुसने से दम्पती समेत चार की मौतराहुल गांधी ने उन्नाव-कठुआ जैसी घटनाओं के बहाने मोदी सरकार को घेरा, पूछा- ऐसी राजनीति से शर्मिंदगी नहीं होती?बिहारः जदयू विधायक बीमा भारती के आरोपों पर बोले नीतीश कुमार- हर किसी को मंत्री नहीं बनाया जा सकताबीजेपी नेता शाहनवाज हुसैन पर दर्ज होगा रेप का केस, दिल्ली हाईकोर्ट ने दिया आदेश, जानिए क्या है पूरा मामला
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.