यहां के स्वतंत्रता दिवस परेड में एनसीसी कैडेट्स नजर नहीं आएंगे

यहां के स्वतंत्रता दिवस परेड में एनसीसी कैडेट्स नजर नहीं आएंगे

Satyanarayan Shukla | Updated: 14 Aug 2019, 11:22:31 PM (IST) Balod, Balod, Chhattisgarh, India

बालोद. जिले के लीड कॉलेज में बीते 5 साल से संचालित एनसीसी की गतिविधियों को लगभग बंद कर दिया गया है। ऐसा पहली बार होगा जब एनसीसी के कैडेट्स 15 अगस्त स्वतंत्रता दिवस को होने वाले परेड में शामिल नहीं होंगे।

बालोद@Patrika. जिले के लीड कॉलेज में बीते 5 साल से संचालित एनसीसी की गतिविधियों को लगभग बंद कर दिया गया है। ऐसा पहली बार होगा जब एनसीसी के कैडेट्स 15 अगस्त स्वतंत्रता दिवस (Independence Day 2019) को होने वाले परेड में शामिल नहीं होंगे। (Independence Day parade) बीते सालभर से एनसीसी अॅाफिसर प्रोफेसर नहीं होने के कारण पीजी कॉलेज के 56 एनसीसी कैडेट्स नाराज है। (NCC cadets) मंगलवार को पीजी कॉलेज में एनसीसी कैडेट्स ने नाराजगी जताते हुए जमकर विरोध प्रदर्शन किया। (Balod patrika) प्राचार्यको उच्च शिक्षा मंत्री के नाम ज्ञापन सौंपकर तत्काल ए्रसीसी ऑफिसर की व्यवस्था की मांग की है।

15 अगस्त परेड में नहीं होंगे शामिल
एनसीसी कोर्स प्रारंभ होने के बाद पीजी कॉलेज में यह पहली बार होगा जब एनसीसी के बच्चों को रास्ट्रीय पर्व गणतंत्र दिवस में शामिल नहीं होंगे। बताया जाता है कि एनसीसी के विद्यार्थियों को प्रशिक्षित करने 42 वर्ष तक के प्रोफेसर रहना जरुरी है। वहीं केयर टेकर के रूप में काम ले सकते है।

जनभागीदारी अध्यक्ष बोले जल्द होगा निराकरण

एनसीसी के विद्यार्थियों ने प्रदर्शन किया उसी वक्त कॉलेज के नए जनभागीदारी अध्यक्ष हसमुख टुवानी ने पदभार ग्रहण किया। उन्होंने कहा कि चिंता न करें जल्द ही एनसीसी के लिए केयर टेकर नियुक्ति के लिए शासन स्तर पर चर्चा की जायेगी। प्राचार्य श्रद्धा चंद्राकर ने बताया विद्यार्थियों की मांग से उच्च शिक्षा विभाग को अवगत कराया दिया गया है। विभागीय स्तर पर आगे की कार्यवाही के बाद ही कुछ कहा जा सकता है।

2015 में शुरू हुआ था एनसीसी
एनसीसी के कैडेट्स छवेंद्र कुमार ने बताया कि पीजी कॉलेज में सन 2015 से एनसीसी प्रारंभ हुआ था। हर साल स्वतंत्रता दिवस परेड का रिहर्सल करके भाग लेते थे। इस बार तो केयर टेकर ही नहीं है ऐसे में तो परेड का रिहर्सल ही नहीं हुआ। उन्होंने बताया कि इस संबंध में कई बार प्राचार्य को भी अवगत कराया गया था।
इस पर कोई विशेष पहल नहीं की गई।

Chhattisgarh से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter और Instagram पर ..

ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट के लिए Download करें patrika Hindi News App.

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned