स्कूल में गणित का शिक्षक नहीं, बच्चों ने लगा दिया ताला

स्कूल में गणित का शिक्षक नहीं, बच्चों ने लगा दिया ताला

Chandra Kishor Deshmukh | Publish: Aug, 12 2018 09:40:40 AM (IST) Balod, Chhattisgarh, India

गणित विषय के शिक्षक की मांग को लेकर परसोदा मिडिल स्कूल के छात्र और ग्रामीणों के साथ शाला शिक्षण समिति के सदस्य शनिवार को स्कूल गेट में ताला लगाकर धरने पर बैठ गए।

बालोद. गणित विषय के शिक्षक की मांग को लेकर परसोदा मिडिल स्कूल के छात्र और ग्रामीणों के साथ शाला शिक्षण समिति के सदस्य शनिवार को स्कूल गेट में ताला लगाकर धरने पर बैठ गए। स्कूल में तालाबंदी की जानकारी होने पर आनन-फानन में पहुंचे शिक्षा विभाग के अधिकारियों ने जल्द शिक्षक की नियुक्ति का आश्वासन दिया, लेकिन ग्रामीण शिक्षक की व्यवस्था होने तक तालाबंदी जारी रहने की बात पर अड़े रहे।
बालोद विकासखंड अंतर्गत ग्राम परसोदा के शासकीय मिडिल स्कूल में विगत एक वर्ष से गणित विषय के शिक्षक की मांग शाला समिति प्रबंधन व ग्रामवासियों द्वारा शिक्षा विभाग से की जा रही है, लेकिन शिक्षा विभाग अब तक शिक्षक की नियुक्ति नहीं हो पाया है। विभागीय उदासीनता को देखते हुए शनिवार को शाला समिति प्रबंधन, ग्रामवासी और स्कूली छात्र-छात्राएं स्कूल के गेट में ताला जड़ धरने पर बैठ गए।

शिक्षक की तत्काल नियुक्ति पर अड़े रहे
स्कूल में तालाबंदी की जानकारी मिलते ही जिला शिक्षा अधिकारी बीआर ध्रुव, एबीओ उमा ठाकुर व मोहिनी यादव स्थल पर पहुंचे। डीईओ ध्रुव ने शाला समिति प्रबंधन से बातकर स्कूल के गेट में लगे ताले को खुलवाने की बात कही और कहा कि जल्द ही डिग्री के आधार पर गणित शिक्षक की नियुक्ति की जाएगी। लेकिन समिति के सदस्य तत्काल शिक्षक की नियुक्ति पर अड़े रहे और स्कूल के गेट में जड़े ताले को नहीं खोला।

डीईओ ने लगाई शिक्षक को कड़ी फटकार
डीईओ बीआर ध्रुव ने स्कूली बच्चों, शाला समिति प्रबंधन और ग्रामीणों के मौजूदगी में स्कूल में पदस्थ टीडी यादव को कड़ी फटकार लगाते हुए कहा कि मुझे पता है कि तुम गांववालों को बरगलाते हो। प्रधानपाठक की अनुपस्थिति में हस्ताक्षर करते हो।

नहीं बना दोपहर का भोजन
डीईओ ने मध्यान्ह भोजन समूह को आदेश दिया कि बच्चों का भोजन बनाया जाए और बच्चे भोजन कर के ही घर जाएंगे। उसके बाद भी मध्यान्ह भोजन प्रभारियों ने भोजन नहीं बनाया और बच्चे सुबह से दोपहर 12 बजे तक बिना खाना खाए बैठे रहे।

रहेगी जारी स्कूल की तालाबंदी
शाला प्रबंधन समिति के अध्यक्ष लोचन लाल साहू ने कहा कि जब तक शिक्षा विभाग गणित के विषय के शिक्षक की व्यवस्था नहीं करता, तब तक स्कूल के गेट में ताला जड़ा रहेगा। उन्होंने कहा कि विगत एक साल से गणित विषय के शिक्षक की मांग करते आ रहे हैं, फिर भी शिक्षा विभाग के जिम्मेदारों ने अब तक कोई व्यवस्था नहीं की है।

 

balod patrika

शिक्षक की मनमानी से त्रस्त ग्रामीणों ने की ट्रांसफर की मांग
डौंडीलोहारा. ग्राम सिरपुर (बगाई कोन्हा) में पदस्थ शिक्षक व शिक्षिका के बीच के निजी विवाद और समय पर स्कूल नहीं आने से नाराज ग्रामीणों ने स्कूल के सामने ही आंदोलन कर विकासखंड शिक्षा अधिकारी से मनमानी करने वाले शिक्षकों को हटाकर उनके स्थान पर नए शिक्षकों की पदस्थापना की मांग की।
शाला प्रबंधन समिति के अध्यक्ष मोहन लाल साहू, ग्रामीण संतोष कुमार, दुमेंद्र साहू, रामकुमार, ओमप्रकाश साहू, नेमसाय साहू, गोवर्धन लाल व अन्य ने बताया कि प्राथमिक शाला में सरला ठाकुर, केशर साहू व अमित कुमार सिन्हा पदस्थ थे। लेकिन उनमें से दो शिक्षक कभी भी समय पर स्कूल नहीं आते हैं, इसके अलावा उनके मध्य आपसी विवाद के चलते व सामंजस्य की कमी के चलते बच्चों की पढ़ाई प्रभावित हो रही है। इस मामले में ग्राम बगाई कोंन्हा के दर्जनों ग्रामीणों ने 6 अगस्त को स्कूल के मुख्य द्वार पर आंदोलन भी किया था।

एक ही शिक्षिका आ रही स्कूल
ग्रामीणों ने बताया कि स्कूल में 66 बच्चे अध्ययनरत हैं, जहां वर्तमान में स्कूल में केवल एक शिक्षिका सरला ठाकुर ही आ रही है। आपसी विवाद के चलते पदस्थ शिक्षक अमित सिन्हा ने बीईओ कार्यालय में अन्यत्र स्थानांतरण के लिए आवेदन किया था, जिसके बाद उन्हें दूसरे स्कूल भेज दिया गया है, वहीं जिस दिन से ग्रामीणों ने आंदोलन किया है उस दिन के बाद से शिक्षिका केसर साहू स्कूल नहीं आ रही है।

शिक्षिकाओं को समय पर आने पर कहने से विवाद की स्थिति
डौंडीलोहारा बीईओ आरसी देशलहरा ने कहा मामले में जांच करने स्कूल गए थे। ग्रामीणों ने केसर साहू को हटाने की मांग की है। मामले में नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी। पूर्व में पदस्थ प्रभारी प्रधान पाठक अमित कुमार सिन्हा ने कहा शिक्षिकाओं को समय पर आने पर कहने से विवाद की स्थिति उत्पन्न होती है। शिक्षिका व उनके पति से आपसी विवाद बढऩे से बीईओ को अन्यत्र भेजने आवेदन किया था। बाकी बात झूठ है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned