अब खुद के बारदाने के साथ धान बेचेंगे किसान, सरकार ने बरदाना संकट से निपटने जारी किया आदेश

40 खरीदी केंद्र ऐसे हैं, जहां पर 10 हजार से कम बरादाना हैं। कुछ केंद्रों में एक हजार व 5 हजार तक ही बरादाना है।

By: Dakshi Sahu

Published: 16 Dec 2020, 11:53 AM IST

बालोद. जिले के 126 खरीदी केंद्रों में समर्थन मूल्य पर धान की खरीदी जारी है। लेकिन केंद्रों में पर्याप्त बारदाना उपलब्ध नहीं कराया जा रहा है। 40 खरीदी केंद्र ऐसे हैं, जहां पर 10 हजार से कम बरादाना हैं। कुछ केंद्रों में एक हजार व 5 हजार तक ही बरादाना है। यहां समय रहते बरादाना उपलब्ध नहीं कराया गया तो खरीदी बंद हो सकती है। लगातार बरादाना की कमी को देखते हुए सरकार जल्द ही किसानों के बारदाने सहित धान खरीदने की तैयारी कर रही है। कुछ जिले में यह आदेश जारी हो गया है। जिले में भी सरकार ने अनुमति दे दी है, लेकिन सॉफ्टवेयर में यह विकल्प मौजूद नहीं होने के कारण अभी यह प्रक्रिया शुरू नहीं की गई है। सप्ताहभर में यह प्रक्रिया जिले में शुरू हो सकती है। इस प्रक्रिया से केंद्रों में बारदाना की समस्या नहीं आएगी। समय पर खरीदी पूरी जाएगी।

जिले के सभी केंद्रों में धान की आवक ज्यादा है। रोजाना 1 लाख 20 हजार क्विंटल से अधिक धान की खरीदी हो रही है। जितनी आवक धान की हो रही है, उसके अनुसार बरादाना उपलब्ध नहीं हो रहा है। हर रोज खरीदी केंद्र प्रभारी बरादाना की मांग डीएमओ से कर रहे हैं। खरीदी से पहले आनन-फानन में बारदाना उपलब्ध कराया जा रहा है। यही स्थिति परिवहन की है। आवक के हिसाब से परिवहन की बहुत धीमा है। जिले में अभी तक 14 लाख 53 हजार 627 क्विंटल धान की खरीदी हो चुकी है।

सरकार के तय मूल्य पर जुड़ेगा बरादाना का मूल्य
जिला नोडल अधिकारी सत्येंद्र वैदे ने बताया कि जिस केंद्रों में बारदाना की कमी है, वहां से मांग आने के बाद बारदाना उपलब्ध कराया जा रहा है। किसानों खुद के बारदाना से धान बेचना चाहते हैं तो बेच सकते हैं। अभी अनुमति सरकार से मिली है लेकिन सॉफ्टवेयर में यह विकल्प नहीं आया है। सॉफ्टवेयर में यह विकल्प आता है तो किसानों का धान उनके बारदाना सहित खरीदा जा सकता है। किसानों के बारदाना का मूल्य सरकार से तय मूल्यों पर दिया जाएगा।

पूर्व विधायक ने किया समितियों का निरीक्षण
सेवा सहकारी समिति गुंडरदेही का जिला भारतीय जनता पार्टी के पदाधिकारियों ने निरीक्षण किया। पूर्व विधायक वीरेंद्र साहू, राजेंद्र राय, जिला महामंत्री प्रमोद जैन, पूर्व नगर पंचायत अध्यक्ष उमाशंकर, मंडल अध्यक्ष सोनवानी, विनोद चंद्राकर, वीरेंद्र साहू, सोसायटी के अध्यक्ष अमन सोनकर, हेमंत, थानसिंह मंडावी, शंकर यादव पार्षद सरपंच खुटेरी और सेवक महिपाल, मोहन जैन आदि मौजूद थे। किसानों से धान खरीदी, बारदाना से लेकर के पेमेंट और अन्य जानकारी ली।

Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned