पुलिस कांस्टेबल ने फांसी लगाकर आत्महत्या की, ड्यूटी से लौटकर रात में निकला घर से, सुबह पड़ोसियों ने पत्नी को बताया

Police Constable Suicide: ड्यूटी से घर लौटे पुलिस आरक्षक ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। घटना बालोद जिले के नारागांव की है।

By: Dakshi Sahu

Published: 03 Jun 2021, 05:58 PM IST

बालोद. ड्यूटी से घर लौटे पुलिस आरक्षक (CG Police Constable) ने फांसी लगाकर आत्महत्या (Suicide) कर ली। घटना बालोद जिले के नारागांव की है। पुलिस आरक्षक ने बीजापुर मुख्यालय के तहसील पारा जनपद स्कूल के पीछे पेड़ में फांसी लगाकर आत्महत्या की है। घटना बुधवार की है। पुलिस के अनुसार मृतक आरक्षक रंजीत अपने परिवार के साथ तहसील पारा में निवास करता था।

Read more: सातवीं कक्षा के बच्चे ने फांसी लगाकर आत्महत्या की, मासूम की लाश फंदे से लटका देख बेसुध हुआ पिता ....

पड़ोसी ने देखा पेड़ पर लटकता शव
बीजापुर पुलिस लाइन में पदस्थ आरक्षक रंजीत ड्यूटी के बाद घर पहुंचा। रात्रि में गर्मी की बात कहकर घर से बाहर निकला। काफी देर तक घर न आने पर पत्नी खोज खबर करने लगी। पति के नहीं मिलने पर पत्नी घर लौट आई और सो गई। सुबह पड़ोसी ने आरक्षक को पेड़ पर लटकते हुए देखकर घर वालों को सूचना दी।

Read more: घर में दारू पार्टी के लिए बुलाकर दोस्त के सिर पर कुदाल मारा, खून से लथपथ तड़पता हुआ छोड़कर भागा, अस्पताल में मौत ....

मृतक की पत्नी और बच्चों का रो-रोकर बुरा हाल
परिजनों ने जब घटना स्थल पर जाकर देखा तो कांस्टेबल फंदे में लटका मृत अवस्था में मिला। तत्काल बीजापुर कोतवाली में सूचना दी गई। पुलिस कांस्टेबल के आत्महत्या मामले में परिजनों से पूछताछ कर रही है। मृतक आरक्षक की पत्नी के अलावा दो बच्चे भी हैं। अंतिम संस्कार गृह ग्राम नारागांव में किया गया। पति के आत्मघाती कदम के बाद पत्नी का रो-रोकर बुरा हाल हो गया है। उसने बताया कि पति और उसके बीच में कोई विवाद भी नहीं हुआ फिर भी पति ने क्यों आत्महत्या की यह उसके समझ के परे है।

Dakshi Sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned