आरक्षित आदिवासी सीट आरक्षण के बाद हो गई अनारक्षित, ग्रामीणों ने यथावत रखने लगाई गुहार

बालोद जिले के गुंडरदेही विकासखंड के ग्राम कलंगपुर के ग्रामीणों ने आदिवासी अनुसूचित जनजाति के आरक्षित वार्ड को यथावत रख वार्ड 16 एवं 18 को आदिवासी वार्ड घोषित करने की मांग को जन चौपाल भेंट मुलाकात में कलेक्टर से की है।

By: Chandra Kishor Deshmukh

Published: 27 Nov 2019, 08:20 AM IST

बालोद @ patrika. जिले के गुंडरदेही विकासखंड के ग्राम कलंगपुर के ग्रामीणों ने आदिवासी अनुसूचित जनजाति के आरक्षित वार्ड को यथावत रख वार्ड 16 एवं 18 को आदिवासी वार्ड घोषित करने की मांग को जन चौपाल भेंट मुलाकात में कलेक्टर से की है।

अनारक्षित मुक्त हुआ वार्ड
ग्राम कलंगपुर वार्ड नंबर 16 निवासी यादराम ठाकुर, योगेंद्र कुमार नेताम, दुर्गा प्रसाद मंडावी, चंद्रहास नेताम, दसेलाल पारधी, रामजी ठाकुर, परमेश्वर, बसंत ठाकुर, बिसे लाल, अकालू, लक्ष्मीनारायण ठाकुर, शिवप्रसाद ठाकुर, सुभाष ठाकुर, नंदू ठाकुर, लेखराम ठाकुर, रमन ठाकुर, योगेश ठाकुर ने बताया कि वार्ड 16 कई वर्षों से अनुसूचित जनजाति रहा है। वर्तमान में 2019-20 में अनारक्षित मुक्त हो गया है।

आदिवासियों को नहीं मिला सरपंच बनने का अवसर
ग्राम कलंगपुर में 102 परिवार निवासरत है उनके अनुसार पांच वार्ड होना चाहिए। वार्ड क्रमांक 18 को भी अनुसूचित जनजाति आरक्षित करने की बात कही गई। योगेश्वर मंडावी, कामता सलाम, रिखीराम ठाकुर, धनेश ठाकुर, श्रवण ठाकुर, गजाधर ठाकुर, दयाराम ठाकुर, दानी झगर ठाकुर, सुनील ठाकुर, अमित ठाकुर, ढाल सिंह ठाकुर, द्वारिका ठाकुर, तुकाराम ठाकुर ने कहा कि कई वर्षों से पंचायत चुनाव होता रहा है, लेकिन अब तक आदिवासियों को सरपंच का अवसर नहीं मिला है।

Show More
Chandra Kishor Deshmukh Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned