scriptSave water: Ground water level went down one and a half feet | बचाएं पानी : डेढ़ फीट और नीचे चला गया भू-जल स्तर | Patrika News

बचाएं पानी : डेढ़ फीट और नीचे चला गया भू-जल स्तर

पीएचई ने हर साल की तरह इस साल भी जिले में भूजल की स्थिति का पता लगाया। रिपोर्ट में खुलासा हुआ कि भूजल स्तर लगभग डेढ़ फीट नीचे चला गया है। जिले में औसत स्तर 21.50 मीटर दर्ज किया गया। घटता जल स्तर भविष्य के लिए चिंता का कारण बना हुआ है।

बालोद

Published: June 04, 2022 11:36:20 pm

बालोद. पीएचई ने हर साल की तरह इस साल भी जिले में भूजल की स्थिति का पता लगाया। रिपोर्ट में खुलासा हुआ कि भूजल स्तर लगभग डेढ़ फीट नीचे चला गया है। जिले में औसत स्तर 21.50 मीटर दर्ज किया गया। घटता जल स्तर भविष्य के लिए चिंता का कारण बना हुआ है। जिस प्रकार भूजल का दोहन हो रहा है, उससे भविष्य में गंभीर स्थिति बन सकती है। इसकी वजह जल बचाने के प्रति उदासीनता और लगातार बोर खनन है। जानकारी के मुताबिक जिले में एक साल के भीतर लगभग 30 हजार करीब बोर खनन हो रहे हैं।

पीएचई के सर्वे में खुलासा: भविष्य के लिए बढ़ी चिंता, हर स्तर पर सभी को मिलकर करनी होगी ठोस पहल
हर साल हो रहे 30 हजार बोर, धरती की प्यास बुझाने

2017 से लगातार गिर रहा जल स्तर
पीएचई की सर्वे रिपोर्ट के मुताबिक भूजल स्तर 2017 से घटते क्रम में है। स्थिति को सुधारने कई प्रयास हुए, लेकिन सफलता नहीं मिली। बीते साल मिशन जल शक्ति को लेकर गुरुर ब्लॉक में जलशक्ति नाम से विशेष अभियान चलाया गया। घर-घर व सरकारी दफ्तरों में रैन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम लगाया गया। अब लोग फिर लापरवाही बरतने लगे हैं।

किस साल कितना रहा भूजल स्तर
वर्ष - भूजल मीटर में
2017-19
2018-19.50
2019-19.50
2020-21
2021-21
2022-21.50
(नोट : आंकड़े पीएचई सर्वे के अनुसार)

भूजल स्तर गिरने के ये भी कारण
जिले के हर गांव की गली में डामरीकरण होने के कारण बारिश का पानी जमीन के अंदर नहीं जा रहा है। पानी सीधे नालों में चला जाता है। गर्मी में धान की फसल लेने से भी भू-जल स्तर में कमी आ रही है। धान की फसल में पानी का अधिक उपयोग होता है। घरों व सरकारी कार्यालय में रैनवाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम का न होना। इसके अलावा जरूरत के अनुसार नदी-नालों में एनीकट निर्माण न होना।

अधिक ट्यूबवेल खनन से गिर रहा जल स्तर
भू-जल स्तर के लगातार गिरने के कारण किसान नए बोरवेल कराने में जुट गए हैं। बारिश में धान की फसल की कटाई के बाद गर्मी में किसान खेतों व घरों में बोर खनन में जुट जाते हैं। फलस्वरूप पानी के दोहन की संभावना भी बढ़ गई है। जिन इलाकों में बोरवेल की संख्या अधिक है, वहां 400 से 550 फीट की गहराई में भी पानी नहीं मिल रहा है।

गुरुर ब्लॉक बना था रेड जोन, जल शक्ति से थोड़ी स्थिति सुधरी
दो साल पहले भूजल सर्वेक्षण में गुरुर ब्लॉक को रेड जोन में रखा गया था। केंद्र व राज्य सरकार सहित जिला प्रशासन ने मिलकर इस ब्लॉक में जल शक्ति अभियान चलाकर, स्कूल-कॉलेज, सरकारी भवन, निजी भवनों में रैनवाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम, चेक डेम निर्माण सहित विभिन्न कार्य किए। इससे थोड़ी स्थिति सुधरी। आज भी ब्लॉक में कई गांव में पानी की स्थिति गंभीर है।

पीपरछेड़ी व बासिंग से लें सबक, गर्मी में धान की फसल पर रोक
घटते भूजल व भविष्य में जल संकट न हो, इसलिए गुरुर ब्लॉक के ग्राम बासिंग व बालोद ब्लॉक के पीपरछेड़ी के ग्रामीणों व किसानों ने अच्छी पहल की है। ग्रामीणों ने बैठक लेकर निर्णय लिया कि गांव में कोई भी किसान गर्मी में धान की फसल नहीं लेगा। ऐसा करने से इस गांव में भू-जल स्तर सुधरा। ऐसी पहल हर गांव में होनी चाहिए।

लोगों को जागरूक किया जा रहा है
जिले में गिरते भू-जल स्तर को बढ़ाने लोगों को जागरूक किया जा रहा है। सभी सरकारी विभागों में रैनवाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम लगाया गया है। जल बचाने सभी को जागरूक होना पड़ेगा।
- आरके धनंजय, ईई, पीएचई बालोद

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

सुशील कुमार मोदी का नीतीश सरकार पर हमला, कहा - 'लालू के दामाद और कार्यकर्ता चला रहे सरकार, नीतीश लाचार'CM हेमंत सोरेन के आवास पर आज UPA की बैठक, JMM, कांग्रेस और RJD होंगे शामिलड‍िप्‍टी सीएम मनीष स‍िसोद‍िया के यहां CBI की रेड के बाद LG का बड़ा आदेश, 12 IAS अफसरों का ट्रांसफरRajiv Gandhi Birth Anniversary: पिता राजीव गांधी को यादकर भावुक हुए राहुल गांधी, बोले- देश के लिए जो सपना आपने देखा...जेपी नड्डा आज से हिमाचल दौरे पर, नाहन-पांवटा में करेंगे जनसभा को संबोधितPICS: देशभर में श्री कृष्ण जन्माष्टमी की धूम, सुनाई दे रही जयश्री कृष्णा की गूंजMumbai News: यूजी और पीजी के छात्रों को लेकर बड़ी घोषणा, मुंबई में BEST की बसों में मिलेगा कंसेशन; पढ़ें डिटेल्ससचिन तेंदुलकर मुंबई हाफ मैराथन को दिखाएंगे हरी झंडी, 9.5 हज़ार धावक लेंगे हिस्सा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.