शिक्षा में गुणवत्ता लाने स्कूलों को मिला एक और मौका 61 स्कूलों को ही चिन्हांकित कर फोकस किया गया है

शिक्षा में गुणवत्ता लाने स्कूलों को मिला एक और मौका 61 स्कूलों को ही चिन्हांकित कर फोकस किया गया है

Chandra Kishor Deshmukh | Publish: Sep, 03 2018 08:20:20 AM (IST) Balod, Chhattisgarh, India

जिले के फोकस स्कूलों में चलाए जा रहे शिक्षा गुणवत्ता अभियान की तिथि अब शासन ने बढ़ा दी है। ऐसे में अब यह अभियान 15 सितंबर तक चलेगा। जिले में 61 स्कूल चिन्हांकित किया गया है।

बालोद. जिले के फोकस स्कूलों में चलाए जा रहे शिक्षा गुणवत्ता अभियान की तिथि अब शासन ने बढ़ा दी है। ऐसे में अब यह अभियान 15 सितंबर तक चलेगा। यही नहीं जिले के सभी स्कूलों में 15 सितंबर तक स्वछता पखवाड़ा का भी आयोजन किया जाएगा।

जिले के सभी स्कूलों में स्वच्छता पखवाड़ा का आयोजन
मिली जानकारी के मुताबिक इस बार प्रदेश से जिले के मात्र 61 स्कूलों को ही फोकस स्कूल के लिए चिन्हांकित किया गया है। शिक्षा गुणवत्ता अभियान के तहत इन्हीं स्कूलों पर विशेष ध्यान दिया जाएगा, पर जिले के सभी स्कूलों में स्वच्छता पखवाड़ा का आयोजन शुरू कर दिया गया है, जिसमें स्कूली बच्चों को स्वच्छता का भी पाठ पढ़ाया जा रहा है।

61 फोकस स्कूलों में मात्र 7 शालाओं की हुई मॉनीटरिंग
शिक्षा विभाग के डीएमसी पीसी मरकले के मुताबिक जिले भर में कुल 61 स्कूलों को फोकस शाला के रूप में चिन्हांकित दिया है, पर मिली जानकारी के मुताबिक इन स्कूलों में 16 अगस्त से शिक्षा गुणवत्ता अभियान चल रहा है जिसकी अंतिम तिथि 31 अगस्त थी, पर अब किसी कारण से इसकी तिथि 15 सितंबर तक बढ़ा दी गई है, पर अभी तक मात्र 7 स्कूलों में ही अभियान के तहत अधिकारी मॉनीटरिंग करने पहुंच पाए हैं। बताया जाता है कि इसका प्रमुख कारण लगातार अवकाश होना है। माना जा रहा है कि अब बारिश के बाद राज्य व जिला स्तर के अधिकारी इन स्कूलों में पहुंचेंगे। फोकस स्कूलों की सूची में बालोद जिले से सबसे कम 61 स्कूलों में शिक्षा गुणवत्ता अभियान चलाने का लक्ष्य है। इसमें 41 प्राथमिक स्कूल और 20 माध्यमिक स्कूल शामिल है।

सभी स्कूलों में चलेगा स्वच्छता पखवाड़ा
डीएमसी मरकले ने जानकारी दी है कि स्कूलों की मॉनीटरिंग के साथ ही सभी स्कूलों में स्वच्छता पखवाड़ा भी मनाया जाएगा। जहां स्वच्छता अभियान चलाया जाएगा। स्कूलों में बच्चों को हाथ धुलाई, अपने घर, अपने आसपास की सफाई कैसे रखी जाए इसकी जानकारी भी दी जाएगी। साथ ही गांवों में भी घूम-घूमकर रैली के माध्यम से स्वछता जागरूकता अभियान चलाया जाएगा।

Ad Block is Banned