CRPF कैंप में जवान ने की अंधाधुंध फायरिंग, गोली लगने से बालोद के जवान प्रमोद की मौत, मातम में डूबा गांव

में बालोद के कन्नेवाड़ा निवासी प्रमोद सोरी (25) की गोली लगने से मौके पर ही मौत हो गई। गांव के जवान बेटे की इस तरह की घटना में मौत से सभी स्तब्ध हैं।

By: Dakshi Sahu

Updated: 30 Jan 2021, 12:18 PM IST

बालोद. जगदलपुर के सीआरपीएफ कैंप में एक जवान ने अपने साथियों पर सर्विस राइफल से ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। शुक्रवार को सुबह हुई इस घटना में बालोद के कन्नेवाड़ा निवासी प्रमोद सोरी (25) की गोली लगने से मौके पर ही मौत हो गई। गांव के जवान बेटे की इस तरह की घटना में मौत से सभी स्तब्ध हैं। सीआरपीएफ के अधिकारियों ने इस घटना की जानकारी परिजनों को भी दे दी है। परिजन भी घटनास्थल के लिए दोपहर ही रवाना हो गए थे। जानकारी के मुताबिक शनिवार को दोपहर तक ही सीआरपीएफ जवान प्रमोद सोरी का पार्थिव शरीर अंतिम संस्कार के लिए उनके गृहग्राम कन्नेवाड़ा लाया जाएगा।

बस्तरिया बटालियन में हुई घटना
जानकारी के अनुसार घटना सेसरपोर थाना क्षेत्र के अंतर्गत सेडवा गांव में सीआरपीएफ की 241वीं 'बस्तरियाÓ बटालियन के शिविर में सुबह 8 बजे हुई। यहां 25 साल के कांस्टेबल गिरीश कुमार ने एक सैनिक की बंदूक छीनकर अंधाधुंध फायरिंग कर दी, जिससे प्रमोद की मौत हो गई।

ड्यूटी पर तैनात था जवान
परिजनों के मुताबिक मृतक प्रमोद बचपन से ही मेधावी था। खेलकूद से ज्यादा लगाव था। साथ ही देश सेवा करने सेना में जाने की शुरू से इच्छा थी। इसी कारण ही तीन साल पहले ही कड़ी मेहनत करके सीआरपीएफ में भर्ती हुआ था। मृतक के तीन और भाई हैं व एक बहन है। उनके दोस्तों के मुताबिक वे लॉकडाउन में ही घर आए थे, उसके बाद से अपनी ड्यूटी पर ही तैनात थे।

Show More
Dakshi Sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned