इस नगर पालिका में चलता है अधिकारियों का रौब, लाखों का लगा रहे चूना

इस नगर पालिका में चलता है अधिकारियों का रौब, लाखों का लगा रहे चूना
इस नगर पालिका में चलता है अधिकारियों का रौब, लाखों का लगा रहे चूना

Chandra Kishor Deshmukh | Updated: 13 Oct 2019, 08:11:10 AM (IST) Balod, Balod, Chhattisgarh, India

बालोद जिला मुख्यालय के सरकारी कॉलोनी में रहने वाले शासकीय अधिकारी ही सरकार के अंग नगर पालिका प्रशासन को लाखों का चूना लगाने का मामला सामने आया है। जिले के शासकीय अधिकारियों से नगर पालिका को लाखों रुपएका जलकर बकाया राशि वसूल किया जाना है।

बालोद @ patrika. जिला मुख्यालय के सरकारी कॉलोनी में रहने वाले शासकीय अधिकारी ही सरकार के अंग नगर पालिका प्रशासन को लाखों का चूना लगाने का मामला सामने आया है। जिले के शासकीय अधिकारियों से नगर पालिका को लाखों रुपएका जलकर बकाया राशि वसूल किया जाना है। ऐसे अधिकारियों से बकाया जलकर एक या दो महीने का नहीं बल्कि सालों का है।

पालिका को लाखों का नुकसान
नल कनेक्शन के बदले जलकर नहीं पटाने के मामले में शासकीय आवासों में रहने वाले अधिकारी सबसे आगे हैं। इन अधिकारियों से पालिका को लगभग नौ लाख रुपए वसूल किया जाना है। शासकीय कर्मचारियों के इसी रवैए के कारण पालिका को लाखों रुपए राजस्व का नुकसान हो रहा है। अब पालिका प्रशासन ऐसे बकायादारों से सख्ती के साथ वसूल करेगा। अन्यथा की स्थिति में कनेक्शन काटने की कार्रवाई की जाएगी।

सरकारी कॉलोनी के मकानों का मामला
चौकाने वाली बात यह है कि यहां वर्षों से सरकारी कालोनी के घरों में रहने वालों ने जलकर नहीं पटाया है। नगर पालिका ने इन कर्मचारियों से संबंधित विभाग को नोटिस भेजा है, पर विभाग ने नोटिस का जवाब अभी तक नहीं दिया है।

अधिकारी-कर्मचारी से लाखों रुपए टैक्स का है बकाया
जिला मुख्यालय में 130 ऐसे शासकीय कर्मचारी है जिन्होंने बीते 8-9 सालों से जलकर नहीं पटाया है। इन अधिकारी- कर्मचारियों से नगर पालिका को लगभग 9 लाख रुपए की वसूल किया जाना है। इनमें से अधिकतर कर्मचारी सरकारी आवास छोड़ चुके हैं।

सरकारी आवास छोडऩे की नहीं देते जानकारी
नगर पालिका से मिली जानकारी के मुताबिक जब भी कोई शासकीय कर्मचारी नगर में आते हैं तो उसकी जानकारी दी जाती है। किंतु स्थानांतरण के बाद जाने की सूचना नहीं दी जाती है। इसी तरह नल कनेक्शन बंद करने की जानकारी भी पालिका को नहीं दी जाती है। नल-जल की राशि बिना जमा किए जिला मुख्यालय छोड़कर चले जाते हैं।

प्रशासन के बस की बात नहीं
जिले में पदस्थ रहे इन पूर्व अधिकारियों से जलकर का बकाया राशि वसूलना नगर पालिका प्रशासन के बस की बात नहीं है। पालिका ने इन अधिकारियों को वसूली के लिए कई बार नोटिस दिया जा चुका है। इन्होंने राशि जमा करना तो दूर की बात है नोटिस का जवाब देना भी उचित नहीं समझा। पालिका प्रशासन भी कोई कार्रवाई नहीं कर पाया है।

इन पूर्व अधिकारियों से वसूला जाना है जलकर
सूर्यप्रकाश आचार्य (पूर्व आबकारी अधिकारी) साल 2001 से मार्च 2019 तक जिले में पदस्थ रहे हैं। उनके घर के नल कनेक्शन का जलकर बकाया राशि 23,271 रुपए है। एसके यादव (उप अभियंता) का साल 1994 से मार्च 2019 तक जलकर 24,948 रुपए बकाया है। बृजकिशोर (पूर्व पुलिस अधिकारी) के सरकारी आवास का साल 1998 से मार्च 2019 तक जलकर बकाया राशि 23,343 रुपए है। आरएस श्याम (पूर्व मद्य भंडार प्रभारी) साल 2001 से मार्च 2019 तक जलकर बकाया राशि 6 6 ,7,44 रुपए है। डीएन गिरदोनिया (पूर्व कार्यपालन अभियंता) से भी नगर पालिका को 6 048 रुपए जलकर वसूल किया जाना है। आईएल मेहर (पूर्व कृषि अधिकारी) साल 2001 से मार्च 2019 तक का जलकर 24000 हजार रुपए बकाया है।

अधिकारियों के रौब के आगे पालिका प्रशासन बेबस
नगर पालिका ने बीते दिनों घर घर जाकर ही नल कनेक्शनों की सूची तैयार की है। जिसमें चौकाने वाले आंकड़े सामने आया है। यहां कई विभाग के ऐसे अधिकारी है जो स्थानांतरण होकर चले गए है और नल कनेक्शन चालू है। जलकर वसूली में पालिका की भी लापरवाही सामने आई है। पालिका ने एक दो नहीं कई साल से जलकर जमा नहीं करने वालों के नल कनेक्शन क्यों नहीं काटे? नगर पालिका के मुताबिक इन लोगों को कई बार नोटिस जारी किया गया था। जब वसूली के लिए कर्मचारी जाते हंै तो ये लोग पद का रौब दिखाते थे। इनके रौब के आगे पालिका प्रशासन वसूली में बेबस नजर आ रहा है।

130 से ज्यादा बकायादारों की सूची तैयार
नगर पालिका प्रशासन ऐसे बड़े बकायादारों के खिलाफ अब सख्त कार्रवाई के मूड में है। राजस्व नुकसान को देखते हुए पालिका द्वारा बड़े बकायादारों के घरों का सर्वे कराया जा चुका है। सर्वे के बाद सूची बनाई जा रही है। ऐसे बकायादारों के सरकारी घरों के नल कनेक्शन काटने की कार्रवाई की जाएगी। नगर पालिका ने लगभग 130 ऐसे कनेक्शन भी पाए गए हैं जिनका कोई पता नहीं है। कई तो सरकारी क्र्वाटर छोड़कर चले गए हैं और उपयोग कोई दूसरा कर रहा है। ऐसे बकायादारों सो पालिका को लगभग नौ लाख रुपए वसूला करना है।

कनेक्शन काटने की कार्रवाई
नगर पालिका बालोद जलकर प्रभारी अब्दुल लतीफ ने बताया कि कई लोगों ने जलकर का बकाया राशि जमा नहीं की है। ऐसे लोगों को नोटिस जारी किया गया था किसी ने भी जवाब नहीं दिया। अब नल कनेक्शन काटने की कार्राईकी जाएगी।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned