scriptThe city's population and houses increased | शहर की आबादी और मकान बढ़े, निकलने लगा 7 टन कचरा | Patrika News

शहर की आबादी और मकान बढ़े, निकलने लगा 7 टन कचरा

शहर में लगातार आबादी व मकान बढ़ रहे हैं, जिससे कचरा भी अधिक निकल रहा है। पहले चार टन कचरा प्रतिदिन निकलता था। अब यह सात टन हो गया है। वहीं मणिकंचन केंद्र की बजाय कचरा की छंटाई स्वसहायता समूह की महिलाएं एवं स्वच्छता दीदी दशहरा तालाब किनारे स्थित गार्डन के पास खुले आसमान के नीचे कर रही हैं।

बालोद

Published: June 29, 2022 11:48:22 pm

बालोद. शहर में लगातार आबादी व मकान बढ़ रहे हैं, जिससे कचरा भी अधिक निकल रहा है। पहले चार टन कचरा प्रतिदिन निकलता था। अब यह सात टन हो गया है। वहीं मणिकंचन केंद्र की बजाय कचरा की छंटाई स्वसहायता समूह की महिलाएं एवं स्वच्छता दीदी दशहरा तालाब किनारे स्थित गार्डन के पास खुले आसमान के नीचे कर रही हैं। बारिश होने पर परेशानी होती है। नगर पालिका क्षेत्र अंतर्गत दो अलग-अलग जगहों में मणिकंचन केंद्र बनाया गया, जहां कचरे की छंटनी कर अलग-अलग रखा जाता है। वर्तमान में मणिकंचन केंद्र कचरा से भरा पड़ा है, जिसके चलते काम नहीं हो रहा है। छंटनी के बाद कबाड़ को रखने जगह नहीं है। पुराने नगर पालिका कार्यालय के एक कमरे को कबाड़ कक्ष बना दिया गया है। जहां कचरे से निकलने वाला कबाड़ रखा जाता है।

मणिकंचन केंद्र पड़ा छोटा, कचरा छंटाई खुले आसमान के नीचे
पहले चार टन कचरा प्रतिदिन निकलता था। अब यह सात टन हो गया है।

कचरा रिक्शा की हालत खराब
नगर पालिका प्रशासन को चार साल डोर टू डोर कचरा एकत्र करने रिक्शा मिला था। वर्तमान में 30 कचरा रिक्शा, 2 ई-रिक्शा, 2 ट्रैक्टर, 7 टिप्पर, एक जेसीबी एवं एक सीवर मशीन नगर पालिका प्रशासन के अंडर में है, लेकिन दर्जनों कचरा रिक्शा खराब पड़े हैं। हालांकि पालिका प्रशासन दावा कर रहा है कि पालिका के अंडर में पर्याप्त कचरा रिक्शा हैं। कचरा एकत्र करने में समस्या नहीं आ रही है।

कचरा एकत्र से लेकर डिस्पोज करने तक लाखों खर्च
2018 से शहरवासियों के घर से लेकर दुकानों से निकलने वाले कचरे को एकत्र, छंटनी एवं डिस्पोज करने तक पालिका प्रशासन ने लाखों खर्च कर डाले, लेकिन सफाई व्यवस्था में आज भी सुधार की जरूरत है। शहर के कई हिस्सों में कचरा जाम है।

शहर में हो रही सफाई
नगर पालिका के सफाई निरीक्षक पूर्णानंद आर्य ने कहा कि जितने भी रिक्शा खराब हैं, उसके उपयोगी सामान को निकाल कर दूसरे रिक्शा में लगाया जा रहा है। शहर में सफाई हो रही है। अनुपयोगी कचरे को कुंदरापारा के पास मुक्तिधाम के पास गड्ढे को पाटने रखा जा रहा है। बाद में वह मैदान बन जाएगा।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Bihar Political Crisis Live Updates: थोड़ी देर में नीतीश कुमार का शपथ ग्रहण, तेजस्वी बनेंगे डिप्टी सीएम, कैबिनेट विस्तार बाद मेंशपथ ग्रहण से पहले नीतीश कुमार ने लालू प्रसाद यादव से की बातचीत, जानिए क्या बोले राजद सुप्रीमोबीजेपी का 'इतिहास' है, जिस राज्य में बढ़ाया कद उस राज्य में सहयोगी दल ने किया किनाराड्रग केस में फंसे अकाली नेता बिक्रम मजीठिया को बड़ी राहत , पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट से मिली जमानतफिनलैंड, स्वीडन NATO में शामिल, US President जो बाइडन ने किए इंस्ट्रूमेंट ऑफ रेटिफिकेशन पर हस्ताक्षर: अब क्या करेगा रूस?कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव को पड़ा दिल का दौरा, दिल्ली के एम्स में कराया गया भर्तीनीतीश के NDA छोड़ने के बाद पी चिदंबरम ने बीजेपी पर किया हमला, ट्वीट करके कही ये 6 बातेंदिल्ली में हर दिन 6 रेप, इस साल के पहले 6 महीने में दर्ज हुए 1,100 से अधिक मामले
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.