scriptThe main accused bought land and two luxury cars in the district | मुख्य आरोपी ने जिले में जमीन व दो लग्जरी कारें खरीदी, घर भी बनाया, 62 लाख की संपत्ति जब्त | Patrika News

मुख्य आरोपी ने जिले में जमीन व दो लग्जरी कारें खरीदी, घर भी बनाया, 62 लाख की संपत्ति जब्त

जिला सहकारी केंद्रीय बैंक दुर्ग के निपानी शाखा में मुख्य अरोपी पूर्व कैशियर अजय भेडिय़ा को पुलिस ने न्यायालय से अनुमति लेकर दो दिन की पुलिस रिमांड में लिया था। पुलिस ने खाते में गड़बड़ी से सम्बंधित सवाल पूछे। मुख्य आरोपी ने बड़ा खुलासा किया।

बालोद

Published: March 07, 2022 11:43:44 pm

बालोद .balod patrika news जिला सहकारी केंद्रीय बैंक दुर्ग (District Co-operative Central Bank Durg) के निपानी शाखा में मुख्य अरोपी पूर्व कैशियर अजय भेडिय़ा को पुलिस ने न्यायालय से अनुमति लेकर दो दिन की पुलिस रिमांड में लिया था। पुलिस ने खाते में गड़बड़ी से सम्बंधित सवाल पूछे। मुख्य आरोपी ने बड़ा खुलासा किया। उसने पुलिस को बताया कि किसानों के जमा राशि को जमा न कर उस राशि से उन्होंने बालोद के मधु चौक के पास 43 लाख की जमीन भी खरीदी। 19 लाख की दो लग्जरी कार खरीदी है। मकान भी बनाया। आरोपी ने इतनी राशि का दुरुपयोग किया कि उसे नहीं मालूम कि कितना घोटाला किया। उसने बताया कि वह किसानों की जमा राशि को अपने पास रखता था। कुछ राशि को क्लर्क दौलत ठाकुर व पूर्व शाखा प्रबंधक तामेश्वर नागवंशी तीनों बांट लेते थे। वहीं पुलिस ने पूछताछ के बाद आरोपी को जेल भेज दिया है।
जिला सहकारी केंद्रीय बैंक दुर्ग की निपानी शाखा में घोटाला: पुलिस पूछताछ में आरोपी अजय भेडिय़ा ने कबूला
मुख्य आरोपी अजय भेडिय़ा की जब्त की गई दो कारें।
पुलिस ने जब की सख्ती से पूछताछ तो अजय भेडिय़ा ने उगले हेराफेरी से जुड़े कई राज
कोतवाली थाना प्रभारी मनीष शर्मा व विवेचक सहायक उप निरीक्षक धरम भुआर्य ने बताया कि मुख्य आरोपी अजय भेडिय़ा से बारीकी व गम्भीरता से पूछताछ की। उसने घोटाला करना स्वीकार किया। किसानों की रकम से कार व जमीन खरीदी है। उसके नाम 62 लाख रुपए की संपत्ति है, जिसे जब्त कर लिया है। 43 लाख की जमीन और 10 व 9 लाख यानी 19 लाख की कार शामिल हैं।
पूर्व ब्रांच मैनेजर तामेश्वर की तलाश
पुलिस के मुताबिक बैंक के नोडल अधिकारी ने तीन के खिलाफ धोखाधड़ी व राशि को गबन करने का मामला कोतवाली थाने में दर्ज कराया था। मुख्य आरोपी अजय भेडिय़ा की गिरफ्तारी हो गई है। दूसरा आरोपी पूर्व ब्रांच मैनेजर तामेश्वर नागवंशी फरार हो गया है। पूर्व ब्रांच मैनेजर से पुलिस ने बैंक की निपानी शाखा में ही मुलाकात की। उस समय पूर्व ब्रांच मैनेजर ने ही मामले की जानकारी बैंक के सीईओ को दी थी। मुख्य अरोपी ने साफ कहा कि राशि को ब्रांच मैनेजर व क्लर्क के साथ बांट लेते थे। इसके बाद से पूर्व ब्रांच मैनेजर अपने घर से फरार है। पुलिस की टीम पकडऩे के लिए आरोपी के घर भी गई, लेकिन वहां कोई नहीं मिला। थाना प्रभारी ने कहा कि जल्द ही पूर्व ब्रांच मैनेजर की गिरफ्तारी भी
हो जाएगी।
ये भी पढ़ें : किसानों का विश्वास जीतने के बाद कैशियर ने की गड़बड़ी, पूछताछ में गुनाह कबूला

क्लर्क को कैंसर, रायपुर अस्पताल में भर्ती, स्थिति गंभीर
तीसरा अरोपी पूर्व क्लर्क दौलत ठाकुर भी फरार है। वहीं तबीयत भी खराब हो गई है। बताया जाता है कि आरोपी को कैंसर है। उसका इलाज रायपुर एम्स में चल रहा है। हालत अभी भी गंभीर है। पुलिस स्वस्थ होने का इंतजार कर रही है।
प्रभावित किसानों के खाते में डाली जाएगी राशि
मुख्य अरोपी से जब्त 62 लाख की संपत्ति को भी नियमानुसार कुर्क किया जा सकता है। प्रभावित किसानों के खाते में भी राशि डाली जा सकती है। अभी जांच व किसानों के खाते का मिलान जारी है।
ये भी पढ़ें : दो साल में गंगरेल-तांदुला लिंक नहर परियोजना को शासन से नहीं मिली स्वीकृति, योजना 515 करोड़ की हुई

पूरी जानकारी नहीं दे पा रहा है आरोपी
अब तक 409 से अधिक किसानों ने जिला सहकारी केंद्रीय बैंक के निपानी शाखा में हेराफेरी होने की शिकायत दर्ज कराई है। राशि की वापसी को लेकर आवेदन भी दिए गए हैं। इन आवेदनों को देखते तो दो करोड़ से अधिक राशि की हेराफेरी का आशंका है। लेकिन मुख्य आरोपी सही जवाब नही दे पा रहा है।
आरोपी को जेल दिया है
बालोद थाना प्रभारी मनीष शर्मा ने बताया कि किसानों की जमा राशि गड़बड़ी के मामले में अरोपी अजय भेडिय़ा से पूछताछ की गई है। अपना गुनाह कबूल किया है। राशि से जमीन, कार खरीदी की है। हमने 43 लाख की जमीन व 19 लाख की दो कार जब्त की है। आरोपी को जेल भेज दिया है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

कर्नाटक के सबसे अमीर नेता कांग्रेस के यूसुफ शरीफ और आनंदहास ग्रुप के होटलों पर IT का छापाPM Modi in Gujarat: राजकोट को दी 400 करोड़ से बने हॉस्पिटल की सौगात, बोले- 8 साल से गांधी व पटेल के सपनों का भारत बना रहापंजाब की राह राजस्थान: मंत्री-विधायक खोल रहे नौकरशाही के खिलाफ मोर्चा, आलाकमान तक शिकायतेंई-कॉमर्स साइटों के फेक रिव्यू पर लगेगी लगाम, जांच करने के लिए सरकार तैयार करेगी प्लेटफॉर्मभाजपा प्रदेश अध्यक्ष का हेमंत सरकार पर बड़ा हमला, कहा - 'जब तक सत्ता से बाहर नहीं करेंगे, तब तक चैन से नहीं सोएंगे'VIP कल्चर पर पंजाब की मान सरकार का एक और वार, 424 वीआईपी को दी रही सुरक्षा व्यवस्था की खत्मIPL के बाद लियम लिविंगस्टोन ने इस टूर्नामेंट में जड़ा सबसे लंबा छक्का, देखें वीडियोओडिशा में "भ्रूण लिंग" जांच गिरोह का भंडाफोड़, 13 गिरफ्तार
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.