सरकार की जय हो: डामरीकृत सड़क से उड़ रही धूल

Satya Narayan Shukla

Publish: May, 18 2018 11:12:30 AM (IST)

Balod, Chhattisgarh, India
सरकार की जय हो: डामरीकृत सड़क से उड़ रही धूल

ग्राम मुजगहन से महज दो किलोमीटर की दूरी पर स्थित ग्राम लिमोरा पहुंच मार्ग की हालत बेहद खराब हो चुकी है।

बालोद(करहीभदर). ग्राम मुजगहन से महज दो किलोमीटर की दूरी पर स्थित ग्राम लिमोरा पहुंच मार्ग की हालत बेहद खराब हो चुकी है। निर्माण के बाद से अब तक एक बार भी इसका मेंटनेंस नहीं किया गया है। विभाग ने मुरुम व मिट्टी से सड़क के गड्ढों को भर देता है। इससे नई परेशानी पैदा हो जाती है। थोड़ी सी बारिश से ही सड़क कीचड़ से भर जाती है। मामले की जानकारी देने के बाद भी संबंधित विभाग और न ही जनप्रतिनिधि ध्यान देते हैं।

सड़क मरम्मत की अनदेखी
सड़क मरम्मत की अनदेखी से क्षेत्र के ग्रामीणों के लिए नई-नई परेशानी पैदा होती रहती है। बड़ी गाडिय़ों के गुजरने के बाद राहगीरों को धूल के गुबार से दो-चार करना पड़ता है। सरकार सड़कों को व्यवस्थित करने में करोड़ों की राशि खर्च कर रही है पर इस मार्ग की ओर किसी का ध्यान नहीं है।

वाहन के गुजरते ही धूल बैठने का करते हैं इंतजार
इस वजह से इस सड़क की स्थिति ऐसी हो गई है कि छोड़ी गाड़ी के गुजरते ही धूल के कण उडऩे लगते हैं, जिससे आंखों में धूल लगने से लोग कुछ देर के लिए खड़े हो जाते हैं। से उन्हें कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है। बारिश के दिनों में तो सड़क की हालत और खराब हो जाती है। थोड़ी बारिश के होते ही मार्ग में मुरुम और मिट्टी दलदल के रूप में तब्दील हो जाती है। हाल ही में आए आंधी-तूफान और बारिश से सड़क पर कीचड़ फैल गया। इससे फिसलन की स्थिति बन गई है। इससे कभी भी हादसा हो सकता है, सड़क संधारण की मांग के बाद भी संबंधित विभाग मौन साधे हुए है।

लगा रहे हैं विभागों का चक्कर
ग्रामीणों ने बताया सड़क के मेंटनेंस और पुनर्निर्माण के लिए कई बार जनदर्शन, लोक सुराज, ग्राम सुराज के माध्यम से मांग की जा चुकी है, लेकिन अब तक डामरीकरण के लिए कोई पहल नहीं की जा सकी है। इसके लिए ग्रामीण राजनीतिक दलों के नेताओं, विधायकों एवं मंत्रियों तक बात पहुंचाने चक्कर लगा चुके हैं, पर उन्हें निराशा ही हाथ लगी है।

बिना पानी डाले सड़क पर बिछाई जा रही पावडर मिश्रित गिट्टियां
गुरुर. ग्राम दर्रा से फागुन्दाह मार्ग में निर्माणाधीन सड़क में पानी नहीं डाला जा रहा है। पावडर मिश्रित गिट्टी को भी बिना पानी मिलाए ही सड़क पर बिछाई जा रही है, जिससे राहगीरों को परेशानियों का सामना करना पड़ है।

धूल के कारण दुर्घटना की आशंका
मार्ग में पानी नहीं डालने के कारण गाडिय़ों से उडऩे वाली धूल के कारण दुर्घटना की आशंका बढ़ गई है। इस सड़क में दोपहिया वाहनों को ज्यादा परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। निर्माण एजेंसी की मनमानी से मार्ग में दिनभर गाडिय़ों के गुजरने से धूल का गुबार उठते रहता है, इससे पीछे आने वाले राहगीर धूल से सन जा रहे हैं। धूल उठने के कारण राहगीरों की आंखो व फेफड़ों में सीधा प्रवेश होने से स्वास्थ्य पर भी बुरा प्रभाव पडऩे की आशंका बढ़ गई है।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned