दहेज में नहीं मिली कार तो रेलवे कर्मी पति ने किया नई को दुल्हन को इतना टॉर्चर, तंग आकर फंदे पर झूली पत्नी

Dowry case in balod: आरोपी पति एवं उनके परिवार के सदस्य दहेज की मांग को लेकर उसे परेशान करते थे। घटना के पूर्व मृत महिला के पति एवं रिश्तेदारों ने दहेज में कार के लिए 10 लाख रुपए की मांग की।

By: Dakshi Sahu

Published: 24 Oct 2020, 03:02 PM IST

बालोद/दल्लीराजहरा. समाज में दहेज को अभिशाप माना जाता है। कुछ लोग आज भी दहेज के लिए नवविवाहता को परेशान करने से बाज नहीं आते हैं। राजहरा में ऐसे ही एक दहेज प्रताडऩा से तंग आकर नवविवाहिता ने फांसी लगा ली। घटना के सात महीने के बाद पुलिस ने दो आरोपियों को बिहार से गिरफ्तार किया है। 10 मार्च को नवविवाहिता ने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। दहेज प्रताडऩा से तंग आकर आत्महत्या करना सिद्ध होने पर राजहरा थाना में धारा 304 बी, 34 के तहत मामला दर्ज किया गया। घटना के बाद महिला के पति सहित सभी आरोपी फरार हो गए थे। जिनमें से दो आरोपी इंदु देवी और दिनेश प्रसाद सिंह को पुलिस ने बिहार के वैशाली जिला से गिरफ्तार कर लिया है। दो आरोपी अभी भी फरार हैं।

रेलवे कर्मचारी है पति
पुलिस के अनुसार मृतका का पति पवन कुमार सिंह रेलवे कर्मचारी है, जो वार्ड 26 में रहता है। उसने 10 मार्च को राजहरा थाना में सूचना दी कि उसकी पत्नी संजना सिंह ने अपने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। इस सूचना पर पुलिस ने धारा 174 के तहत मर्ग कायम कर जांच शुरू की। मृतका नवविवाहित होने से कार्यपालिक दण्डाधिकारी ने पंचनामा कार्यवाही की। शव का पोस्टमार्टम कराया गया। जांच के दौरान पता चला कि संजना सिंह का विवाह जून 2019 में पवन कुमार सिंह के साथ हुआ था।

आरोपी पति एवं उनके परिवार के सदस्य दहेज की मांग को लेकर उसे परेशान करते थे। घटना के पूर्व मृत महिला के पति एवं रिश्तेदारों ने दहेज में कार के लिए 10 लाख रुपए की मांग की। पीडि़त पक्ष की ओर से 8 लाख देने के बाद भी मृतक को परेशान किया जाता रहा। इससे तंग आकर संजना सिंह ने आत्महत्या कर ली। बालोद के पुलिस अधीक्षक के दिशा निर्देशन में नगर पुलिस अक्षीक्षक अब्दुल अलीम खान के नेतृत्व में सहायक उप निरीक्षक धरम भुआर्य, महिला प्रधान आरक्षक लता तिवारी, आरक्षक एस कुमार साहू, थामसन पीटर एवं वीरेन्द्र भुआर्य की टीम बिहार के वैशाली जिला पहुंची और पतासाजी कर आरोपियों को गिरफ्तार किया।

Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned