टैंकर की चपेट में आने से एक की मौत, अस्पताल की लापरवाही से आधे घंटे तड़पा युवक

टैंकर की चपेट में आने से एक की मौत, अस्पताल की लापरवाही से आधे घंटे तड़पा युवक

Deepak Sahu | Publish: Apr, 17 2018 06:32:38 PM (IST) Baloda Bazaar, Chhattisgarh, India

सिमगा में एक टैंकर चालक ने मोटर साइकिल चालक को कुचला

सिमगा. नगर के शंकरनगर किसान राइस मिल सिमगा के पास टैंकर की चपेट में आने से मोटरसाइकिल सवार युवक की मौत हो गई। वहीं, एक गंभीर रूप से घायल हो गया है।

सोमवार को शाम लगभग 7.15 बजे शंकर नगर किसान राइस मिल के पास मोटरसाइकिल (सीजी 04 एचपी 6251) व डीजल से भरे टैंकर (सीजी 11 एबी 3207) की भिड़ंत से एक युवक की मृत्यु हो गई व गंभीर रूप से घायल हो गया। बताया जा रहा है की टैंकर चालक नशे की हालत में लापरवाही से गाड़ी चला रहा था जिससे उसने मोटर साइकिल को अपनी चपेट में ले लिया। जिससे मोटर साइकिल पर सवार प्रार्ची बंजारे पिता धर्मेन्द्र बंजारे निवासी ग्राम दरचुरा की घटना स्थल पर ही मौत हो गई वहीं रिश्तेदार नंदकुमार पात्रे पिता राजू पात्रे (25) घायल हो गया।

पुलिस को घटना की जानकारी मिलते ही वह मौका स्थल पर पहुंच तत्काल घायल को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भेजा, जहां पुलिस गाड़ी में ही घायल आधे घंटे तड़पता रहा।

अस्पताल प्रसाशन की लापरवाही
घायल को तुरंत सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भेजा गया जहां पर अस्पताल के कर्मियों व अस्पताल की लापरवाही सामने आई, जहां मौके पर स्वास्थ्य केंद्र में इमरजेंसी के वक़्त आपातकालीन ड्यूटी करने वाला स्टाफ ही गायब था। पुलिस के सुचना पर वहां इमरजेंसी स्टाफ पंहुचा और प्राथमिक उपचार के बाद घायल को तुरंत रायपुर रेफेर किया गया।

सिमगा नगर सिमगा नगर नेशनल हाईवे पर बसा है इसीलिए यहां आये दिन सड़क हादसे जैसी दुर्घनाएं होती रहती है और यहां प्राथमिक उपचार स्वास्थ्य केंद्र भी है। जहाँ सरकार द्वारा इमरजेंसी स्टाफ की भी व्यवस्था की गई है इसके बावजूद यहाँ इस तरह की लापरवाही की घटना सामने आई हैं। जिसे लेकर अब तक अस्पताल प्रबंधन द्वारा कोई भी बयान नहीं दिया गया है। इतना ही नहीं पहले भी कई लोगों ने यहाँ के प्रबंधन के खिलाफ शिकायतें की है। यह है सिमगा सामुदायिक स्वस्थ्य केंद्र की हालत।

Ad Block is Banned