सरकारी रकम का दुरुपयोग, दो साल में शुरू नहीं हो सका वाटर ATM बना खंडहर

सरकारी रकम का दुरुपयोग, दो साल में शुरू नहीं हो सका वाटर ATM बना खंडहर

Akanksha Agrawal | Updated: 11 Jul 2019, 04:15:15 PM (IST) Baloda Bazar, Baloda Bazar, Chhattisgarh, India

9 लाख की लागत से यहां दो वाटर एटीएम लगाई गई थी, लेकिन एक गोठान बन गई है, तो दूसरी खंडहर में तब्दील हो गई है।

तिल्दा नेवरा. सरकारी योजनाओं का किस तरह मखौल उड़ाया जा रहा है इसका जीता जागता उदाहरण तिल्दा नेवरा शहर में देखा जा सकता है। 9 लाख की लागत से यहां दो वाटर एटीएम लगाई गई थी, लेकिन एक गोठान बन गई है, तो दूसरी खंडहर में तब्दील हो गई है।

दो साल पहले राज्य शहरी विकास अभिकरण (सूडा) से तिल्दा नेवरा नगर पालिका क्षेत्र में दो वाटर एटीएम लगने का ठेका दिया गया था। दोनों को मिलाकर ठेके की राशि 9 लाख थी एक वाटर एटीएम के लिए थोक सब्जी मंडी और दूसरी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र परिसर को चिन्हाकित किया गया। एक तो ठेकेदार ने ठेका जारी होने के महीनों बाद काम शुरू किया। उसने पहले सब्जी मंडी के पास शेड बनाया।

शेर इतना कमजोर और घटिया स्तर का था कि एक हवा का झोंका आया और उसको उड़ा कर ले गया। कुछ दिनों बाद टूटे-फूटे शेड को डेंटिंग पेंटिंग कर फिर से खड़ा कर दिया गया। लेकिन आज तक उसमें पानी सप्लाई के लिए मशीनें और टंकी नहीं लगाई गई है। अब वहां असामाजिक तत्वों और जानवरों का डेरा बन गया है। लोग दरवाजे में लगी कुंडी और खिड़कियों को उखाड़ ले गए। अब नगरपालिका की ओर से चेन और ताला लगाकर छोड़ दिया गया है।

इससे भी बुराहाल सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र परिसर में लगाई गई वाटर एटीएम का है यह टीम के सेट के साथ ही मोटर फिल्टर और 2 टंकियां सहित सारा सामान फिट कर दिया गया था। लेकिन बहुत ही घटिया स्तर का। यही कारण था कि 20 दिन पूर्व हुई बारिश के साथ आई आंधी शेड और मशीनों को उड़ाकर ले गई। हालांकि अभी शेड को दुरुस्त कर दिया गया हैए लेकिन मशीनें अभी भी बाहर लावारिश हालत में पड़ी है। टंकियां और अन्य उपकरण जंग खा रहे हैं। मजेदार बात यह कि ठेकेदार को आधे से ज्यादा रकम का भुगतान भी कर दिया गया है।

 

Water ATM

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र तिल्दा के बीएमओ डॉ. आशीष सिन्हा ने बताया कि यहां हर समय पानी की समस्या रहती है। जब वाटर एटीएम लगाया जा रहा था तो अस्पताल में आने वाले मरीजों और परिजनों को काफी राहत मिलने की उम्मीद थी। लेकिन पहली ही बारिश के साथ आई आंधी ने लोगों की उम्मीदों पर पानी फेर दिया। अभी शेड को खड़ा कर दिया गया है, लेकिन मशीन चालू नहीं होने के कारण लोगों को पानी नहीं मिल पा रहा है।

नगर पालिका परिषद तिल्दा नेवरा के प्रभारी सीएमओ जीडी डेहरिया ने बताया कि वाटर एटीएम लगाने का ठेका दो साल पहले हुआ था मैंने यहां का हाल ही में प्रभार लिया है। आंधी में जो शेड उड़ गया था उसे मैंने ठेकेदार से मरम्मत कराई है। मशीनों को भी दुरुस्त कर शीघ्र ही वाटर एटीएम को प्रारंभ करने को कहा है इस संबंध में ठेकेदार को नोटिस जारी कर दिया है।

 

Chhattisgarh से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter और Instagram पर ..

LIVE अपडेट के लिए Download करें patrika Hindi News

एक ही क्लिक में देखें Patrika की सारी खबरें

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned