जलसंकट: गर्मी के दो महीने निस्तारी और पीने का पानी के लिए करनी पड़ेगी मशक्कत

जलसंकट: गर्मी के दो महीने निस्तारी और पीने का पानी के लिए करनी पड़ेगी मशक्कत

Bhawna Chaudhary | Updated: 28 Apr 2019, 10:00:00 PM (IST) Baloda Bazar, Baloda Bazar, Chhattisgarh, India

शिवनाथ नदी किनारे के दर्जन भर से अधिक ग्राम के लोगों को भी नदी की धार कमजोर होने से पेयजल तथा निस्तारी के लिए आगामी डेढ़-दो माह भटकना पड़ सकता है।

बलौदाबाजार. बलौदाबाजार नगर समेत अंचल की जीवनदायिनी शिवनाथ नदी की धार अप्रैल माह के अंतिम सप्ताह से ही कमजोर होने लगी है। इसे देख ग्रामीण इलाकों के साथ ही साथ बलौदाबाजार नगरवासियों में चिंता व्याप्त है। आगामी दिनों में नगर पालिका को पूरे नगर के लिए पेयजल का इंतजाम करने में खासी मशक्कत करनी पड़ सकती है। वहीं शिवनाथ नदी किनारे के दर्जन भर से अधिक ग्राम के लोगों को भी नदी की धार कमजोर होने से पेयजल तथा निस्तारी के लिए आगामी डेढ़-दो माह भटकना पड़ सकता है।

विदित हो कि अंचल की प्रमुख शिवनाथ नदी बलौदा बाजार नगर के साथ ही साथ ईलाके के सोनाडीह, डमरू, ताराशिव, मेड़, खपरी, केशला आदि दर्जन भर से अधिक ग्रामों के लोगों के पेयजल तथा निस्तारी का सबसे प्रमुख साधन है। नदी की धार कमजोर होने से पूरे इलाके के लोगों की चिंता बढ़ चुकी है। अप्रैल माह के अंतिम सप्ताह में ही नदी की धार कमजोर पडऩे लगी है जिससे क्षेत्र के लोग चिंतित हैं। ग्रामीण इलाकों में भी भूजल स्तर गिरने की वजह से दर्जनों हैंडपंप फेल हो चुके हैं। वहीं नल-जल योजना तथा सार्वजनिक पंप हाऊस लो वोल्टेज तथा बिजली गुल की वजह से भी प्रभावित होने लगे हैं। ग्रामीण ईलाकों के साथ ही साथ नगर के लिए भी शिवनाथ नदी पेयजल प्रदान करने के लिए सर्वाधिक महत्वपूर्ण सहारा है।

गौरतलब है कि शिवनाथ नदी से ही पाइप लाइन के माध्यम से सोनाडीह घाट से लेकर 17 किमी दूर तक बलौदाबाजार के सम्पवेल की टंकी तक पानी लाया जाता है। जहां से इस पानी को समूचे नगर में प्रदान किया जाता है। इस तरह से शिवनाथ नदी के पानी से लगभग 70 फीसदी नगरवासियों की पेयजल समस्या हल होती है। नदी की धार कम होने का असर नगर के पेयजल प्रदाय व्यवस्था पर भी पडऩे की आशंका है। शिवनाथ नदी की कमजोर होती धार समूचे नगरवासियों के लिए चिंता का विषय है।

 

नगर पालिका के सोनाडीह पंप हाउस में कार्यरत कर्मचारियों के अनुसार कुछ वर्ष पूर्व तक अप्रैल माह में भी शिवनाथ नदी में लगभग 8 फीट पानी रहता था जिसकी वजह से बलौदाबाजार पंप हाऊस में पर्याप्त पानी पहुंच जाता था परंतु बीते कुछ वर्ष में पंप हाऊस के पास शिवनाथ नदी में पानी कम हो रहा है। कमजोर पानी के साथ ही साथ नदी की धार भी लगातार कमजोर हो रही है जिसके चलते मई माह भर पंप हाऊस में पर्याप्त पानी पहुंचना संदेहास्पद है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned