पत्नी से झगड़ा करने से मना करने पर बेटे ने मां को जलाया था जिंदा, जंगल से गिरफ्तार कर भेजा गया जेल

Burnt alive: शराब के नशे (Drunken son) में घर पहुंचे बेटे ने दिया था वारदात को अंजाम, मां को जलते (Burning) हालत में छोडक़र हो गया था फरार

By: rampravesh vishwakarma

Published: 20 Nov 2020, 01:02 PM IST

बरियों. ग्राम डकवा में शराब के नशे में मां को जिंदा जलाने (Burnt alive) वाले आरोपी पुत्र को बरियों पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर खुखरी जंगल से गिरफ्तार (Arrested from forest) कर जेल भेज दिया है। पत्नी से झगड़ा करने से मना करने पर आरोपी ने मां के ऊपर मिट्टी तेल छिडक़ कर आग (Fire) लगा दी थी। महिला की अस्पताल में मौत हो गई थी।


बलरामपुर-रामानुजगंज जिले के बरियों चौकी अंतर्गत ग्राम डकवा निवासी 30 वर्षीय छोटू केरकेट्टा पिता भोगड़ केरकेट्टा शराब पीने का आदी है। वह आए दिन शराब के नशे में घर में विवाद करता था। वह 17 नवंबर को भी शराब के नशे में घर आया व पत्नी से झगड़ा (Dispute with wife) शुरू कर दिया।

Read More: बुढ़ापे का सहारा बनने की जगह निर्दयी बेटे ने केरोसिन छिडक़ कर मां को जिंदा जला डाला

यह देख उसकी मां 50 वर्षीय हलकन केरकेट्टा ने झगड़ा करने से मना किया। इससे आवेश में आकर छोटू ने मां के ऊपर मिट्टी तेल छिडक़ कर माचिस से आग लगा दी। मां को जलता (Burnt alive) छोड़ आरोपी फरार हो गया। आग से महिला 90 प्रतिशत से भी अधिक जल चुकी थी।

महिला को परिजन इलाज के लिए बरियों अस्पताल ले गए। यहां चिकित्सकों ने महिला की गंभीर हालत को देखते हुए अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज अस्पताल (Medical college hospital) रेफर कर दिया। यहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

Read More: सोने से पहले पीने के लिए जलाई सिगरेट, चिंगारी से बिस्तर में लगी आग तो जिंदा जल गया अधेड़


हत्या के बाद जंगल में छिपा था आरोपी बेटा
मां की हत्या (Mother murder) के मामले में बरियों पुलिस ने धारा 302 के तहत अपराध दर्ज कर आरोपी छोटू केरकेट्टा की खोजबीन शुरू की। इसी दौरान पुलिस ने मुखबिर से मिली सूचना के आधार पर आरोपी को खुखरी जंगल से गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया। यहां से उसे जेल भेज दिया गया।


कार्रवाई में ये रहे शामिल
कार्रवाई में बरियों चौकी प्रभारी रजनीश सिंह, हिमेंद्र कुशवाहा, प्रदीप मिश्रा, रिंकू गुप्ता, मुकेश गुप्ता, नागेंद्र पांडेय, मिथलेश पाठक, प्रदीप यादव, अजय किस्पोट्टा, अशोक गोयल, ओमप्रकाश सिदार, बबलू बेक, जुगन साय पैंकरा, जवाहिर तिर्की व स्वाति राजवाड़े सक्रिय रहे।

Show More
rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned