scriptConstable drowned: Constable drowned in dam who hunting Pandubbi bird | पनडुब्बी चिडिय़ां मारने बांध में उतरे आरक्षक के साथ हो गई बड़ी अनहोनी, 4 दिन बाद 22 फीट नीचे मिली लाश | Patrika News

पनडुब्बी चिडिय़ां मारने बांध में उतरे आरक्षक के साथ हो गई बड़ी अनहोनी, 4 दिन बाद 22 फीट नीचे मिली लाश

Constable drowned: ड्यूटी से छुट्टी लेकर आया था घर, 4 दिन पूर्व दोस्तों के साथ पनडुब्बी चिडिय़ा (Pandubbi bird) का शिकार करने बांध में उतरा, पानी के बहाव के कारण वह तैर नहीं पाया और डूब गया था, 3 दिनों तक गोताखोरों को शव खोजने में नहीं मिल पाई थी सफलता

बलरामपुर

Published: January 18, 2022 10:56:14 am

राजपुर. Constable drowned: बलरामपुर जिले के पस्ता थाना अंतर्गत उलिया बांध में पनडुब्बी चिडिय़ा (Pandubbi Bird) मारने गए आरक्षक की पानी में डूबने से मौत हो गई थी। आरक्षक की लाश की खोजबीन गोताखोरों की टीम द्वारा 3 दिन तक की गई लेकिन उन्हें सफलता नहीं मिली। चौथे दिन गोताखोरों (Resque team) की टीम को इसमें सफलता मिली। आरक्षक की लाश (Constable dead body) बांध के 22 फीट गहरे पानी से निकाली गई। शव देख आरक्षक के परिजनों के रोने का ठिकाना न रहा। पीएम पश्चात पुलिस ने आरक्षक का शव (Constable Dead Body) मंगलवार की सुबह उसके परिजनों को सौंप दिया। घटना से परिजनों समेत गांव में शोक की लहर है।
Constable drowned
Constable Pradeep Bada

बलरामपुर-रामानुजगंज जिले के पस्ता थाना प्रभारी संपत पोटाई ने बताया कि ग्राम पंचायत जिगड़ी के देवरीडांड़ निवासी 36 वर्षीय प्रदीप बड़ा पिता धर्मसाय बड़ा आरक्षक के पद पर बलंगी थाना में पदस्थ था। 13 जनवरी को छुट्टी लेकर अपने घर देवरीडांड़ आया हुआ था। उसी दिन अपने दोस्त मिथुन उरांव, पतरस उरांव व सिमोन उरांव के साथ जिगड़ी के उलिया बांध (Uliya dam) में पनडुब्बी चिडिय़ा मारने के लिए गया था।
बांध के भीतर आरक्षक प्रदीप बड़ा और पतरस उरांव दोनों पानी के बीच में चले गए। पानी का बहाव अधिक होने के कारण आरक्षक प्रदीप बड़ा (Constable Pradeep Bada) पानी में डूब गया। काफी खोजबीन करने के बाद कहीं पता नहीं चलने पर ग्रामीणों ने पस्ता थाना पहुंच थाना प्रभारी संपत पोटाई को जानकारी दी। मौके पर बलरामपुर, तातापानी व अंबिकापुर के करीब 20 गोताखोरों द्वारा मौके पर पहुंचकर उसकी तलाश शुरु की।
यह भी पढ़ें: सड़क हादसे में भाजपा के युवा नेता व चाचा की मौत, हाईकोर्ट जाते टैंकर से जा भिड़ी कार


4 दिन तक खोजते रहे आरक्षक की लाश
गोताखोरों की टीम द्वारा 4 दिनों से पानी में आरक्षक की तलाश की जा रही थी। सोमवार को करीब 3 बजे बांध में 22 फीट नीचे पानी के भीतर आरक्षक की लाश की मिली। पुलिस ने आरक्षक की लाश को पानी से बाहर निकलवाकर पंचनामा पश्चात पोस्टमार्टम के लिए बलरामपुर भेजा।
देर शाम हो जाने के कारण पोस्टमार्टम नही हो पाया था। मौके पर थाना प्रभारी संपत पोटाई, सहायक उप निरीक्षक रमेश एक्का सहित पुलिसकर्मी उपस्थित थे। मंगलवार की सुबह पीएम पश्चात आरक्षक का शव उसके परिजनों को सौंप दिया गया।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्सयहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतिशुक्र का मेष राशि में गोचर 5 राशि वालों के लिए अपार 'धन लाभ' के बना रहा योगराजस्थान के 16 जिलों में बारिश-आंधी व ओलावृ​ष्टि का अलर्ट, 25 से नौतपाजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथइन बर्थ डेट वालों पर शनि देव की रहती है कृपा दृष्टि, धीरे-धीरे काफी धन कर लेते हैं इकट्ठा7 फुट लंबे भारतीय WWE स्टार Saurav Gurjar की ललकार, कहा- रिंग में मेरी दहाड़ काफीशुक्र देव की कृपा से इन दो राशियों के लोग लाइफ में खूब कमाते हैं पैसा, जीते हैं लग्जीरियस लाइफ

बड़ी खबरें

जापान में पीएम मोदी का जोरदार स्वागत, टोक्यो में जापानी उद्योगपतियों से की मुलाकातज्ञानवापी मस्जिद मामलाः सुप्रीम कोर्ट में दाखिल हुई एक और याचिका, जानिए क्या की गई मांगऑक्सफैम ने कहा- कोविड महामारी ने हर 30 घंटे में बनाया एक नया अरबपति, गरीबी को लेकर जताया चौंकाने वाला अनुमानसंयुक्त राष्ट्र की चेतावनी: दुनिया के पास बचा सिर्फ 70 दिन का गेहूं, भारत पर दुनिया की नजरबिहार में भीषण सड़क हादसा, पूर्णिया में ट्रक पलटने से 8 लोगों की मौतश्रीनगर पुलिस ने लश्कर के 2 आतंकवादियों को किया गिरफ्तार, भारी संख्या में हथियार बरामदGood News on Inflation: महंगाई पर चौकन्नी हुई मोदी सरकार, पहले बढ़ाई महंगाई, अब करेगी महंगाई से लड़ाईकोरोना वायरस का नहीं टला है खतरा, डेल्टा-ओमिक्रॉन के बाद अब दो नए सब वैरिएंट की दस्तक से बढ़ी चिंता
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.