गड्ढे भरने डाल दिए गए डस्ट से एनएच पर धूल का गुबार, लोग सडक़ पर खुद ही कर रहे पानी का छिडक़ाव

Dust on NH: नेशनल हाइवे 343 पर जगह-जगह जानलेवा गड्ढों में डाल दिया गया है डस्ट ( Dust), वाहनों की आवाजाही से उड़ती है धूल

By: rampravesh vishwakarma

Published: 22 Oct 2020, 12:00 AM IST

रामानुजगंज. नेशनल हाइवे 343 पर जगह-जगह गड्ढे तो हो ही गए हैं, वहीं नेशनल हाईवे के द्वारा गड्ढों को भरने के लिए डस्ट डलवा दिया गया है। इस कारण धूल का ऐसा गुबार उठ रहा है कि नेशनल हाईवे के किनारे निवास करने वालों का वहा रहना मुश्किल हो रहा है।

अब धूल से परेशान होकर नेशनल हाईवे (National Highway) के किनारे रहने वाले लोगों द्वारा खुद पानी का छिडक़ाव किया जा रहा है ताकि धूल से उन्हें राहत मिल सके।

Read More: लगातार बारिश से बह गया नेशनल हाइवे पर निर्माणाधीन पुल का डायवर्सन, बंद हुआ मार्ग


गौरतलब है कि नेशनल हाइवे से उठने वाले धूल के गुबार (Dust on NH) से अब नेशनल हाइवे के किनारे रहने वालों के सामने मुश्किलें बढ़ती जा रहीं हैं। नेशनल हाइवे के किनारे जितने भी घर एवं दुकानें हैं उन लोगों को घर के बाहर बैठना या घर के अंदर भी रहना मुश्किल हो रहा है। कई लोग सांस की बीमारी के शिकार हो रहे हैं।

परेशानी ऐसी हो गई है कि अब लोग खुद अपने घर के बाहर पानी का छिडक़ाव कर रहे हैं। सेवानिवृत्त मंडी सचिव चमरू गुप्ता ने बताया कि धूल इतनी उड़ रही है कि बैठना मुश्किल हो रहा है इसलिए हर एक-दो घंटे में पानी का छिडक़ाव करना हम लोगों के लिए मजबूरी है।

Read More: ये है छत्तीसगढ़ की नेशनल हाइवे-43, पहली ही बारिश में हो गई है हल चलाने लायक


घर के भीतर पहुंच रही धूल
नेशनल हाइवे में मंडी नाका के समीप रहने वाले सुनील कुशवाहा ने बताया कि धूल (Dust) जब उड़ती है तो वह सीधे घर के अंदर तक आ रही है। इससे बच्चे से लेकर घर के सभी लोगों को परेशानी हो रही है। मजबूरी में हम लोग खुद ही पानी का छिडक़ाव कर रहे हैं ताकि धूल से राहत मिल सके।

rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned