2 दिन से पिता को खोज रहा था बेटा, फिर अचानक मिली ऐसी खबर कि भागता पहुंचा बदहवास

2 दिन से पिता को खोज रहा था बेटा, फिर अचानक मिली ऐसी खबर कि भागता पहुंचा बदहवास

rampravesh vishwakarma | Publish: Sep, 04 2018 08:25:16 PM (IST) Balrampur, Chhattisgarh, India

नाले के पास स्थित अपने खेत में काम करने के दौरान युवक का पिता हो गया हादसे का शिकार

कुसमी. एक युवक रविवार की सुबह अपने मवेशियों को लेकर जंगल में गया था। इस दौरान उसका पिता नाले के पास स्थित खेत में काम कर रहा था। इसी दौरान ऊपर से मिट्टी का ढेर भरभराकर उसपर गिर पड़ा। हादसे में उसकी मौके पर ही मौत हो गई। इधर पिता के घर नहीं लौटने पर बेटा उसकी खोजबीन करने लगा लेकिन उसका कहीं पता नहीं चला।

2 दिन बीत जाने के बाद माइंस मजदूर संघ के नेता ने उसके पिता की लाश नाले के पास पड़े होने की जानकारी दी। यह सुनते ही उसके होश उड़ गए। वह बदहवास भागता हुआ वहां पहुंचा और पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने पंचनामा व पीएम पश्चात शव परिजन को सौंप दिया।


बलरामपुर-रामानुजगंज जिले के सामरी थाना क्षेत्र के ग्राम कुदाग निवासी 50 वर्षीय अवधेश बुनकर पिता मदन बुनकर का पुत्र मानदेव बुनकर रविवार की सुबह मवेशियों को चराने जंगल की तरफ निकल गया था। इधर उसका पिता अवधेश बुनकर गांव से लगे खूंटी दोहर नामक नाले के समीप अपने खेत में काम करने गया था और नाले के किनारे वह काम कर रहा था।

इसी दौरान नाले के किनारे की करीब 12 फिट ऊंचाई की मिट्टी की एक मोटी परत अचानक धस गई। हादसे में मिट्टी के ढेर में दबने से उसकी मौके पर ही मौत हो गई। इधर मवेशी चराने के बाद लौटे उसके पुत्र ने जब अपने पिता को घर में नहीं देखा तो सोचा कहीं घूमने गए होंगे, लेकिन देर शाम तक भी नहीं लौटने पर वह खोजबीन में जुट गया।

इसी बीच मंगलवार की सुबह को ग्राम सरईडीह निवासी माइंस मजदूर नेता लक्ष्मण यादव ने मानदेव को बताया कि तुम्हारे पिता का शव घुटी दोहर नाले के समीप पड़ा है। सूचना पर सामरी पुलिस भी मौके पर पहुंची और शव का पीएम कराकर परिजन को सौंप दिया। पिता की मौत से पुत्र समेत अन्य परिजन सदमे में हैं।

Ad Block is Banned