महिला की इस गलती से जंगल में झुलस गए 5 हजार पौधे, वन विभाग ने भेजा जेल

Fire in Forest: महुआ बीनने के लिए महिला ने जंगल (Forest) में पेड़ के नीचे लगाई थी आग, आग नियंत्रण से बाहर हो जाने के बाद हो गई थी फरार

By: rampravesh vishwakarma

Published: 06 Apr 2021, 07:35 PM IST

रामानुजगंज. रामानुजगंज वन परिक्षेत्र अंतर्गत लगातार जंगलों में आग (Fire in forest) लगाए जाने की घटनाएं हो रहीं थीं। इसे लेकर डीएफओ (DFO) लक्ष्मण सिंह के निर्देश पर रेंजर संतोष पांडे के नेतृत्व में जंगल में आग लगाए जाने वालों की पतासाजी की जा रही थी। इसी बीच बुलगांव जंगल में भी आग लगाए (Set fire) जाने से करीब 5 हजार पौधे झुलस गए।

इसके बाद वन अमले द्वारा आग लगाए जाने के आरोप में गांव की ही एक महिला को गिरफ्तार कर भारतीय वन अधिनियम 1927 की धारा 33(1) घ, ड़ एवं वन्य प्राणी संरक्षण अधिनियम 1972 की धारा 9, 51 के तहत अपराध पंजीबद्ध किया गया है।

Read More: महिला ने महुआ पेड़ के नीचे लगाई आग तो 1250 पौधे जलकर हो गए नष्ट, भेजा गया जेल


बलरामपुर जिले के रामानुजगंज वन परिक्षेत्र अंतर्गत कक्ष क्रमांक पी 3417 प्लांटेशन में सोमवार को आग लगा दी गई थी। आग देखते-देखते बढ़ गई, जिसकी सूचना वन विभाग को दी गई।

इसके बाद वन अमला रेंजर संतोष पांडे के नेतृत्व में मौके पर पहुंचा एवं घंटों मशक्कत करने के बाद फायर वाचरों की सहायता से आग पर नियंत्रण पाया जा सका। इसके बाद वन कर्मियों द्वारा लगातार आग लगाए जाने वालों की पतासाजी की जा रही थी।

Read More: रजाई-गद्दा फैक्टरी में लगी भीषण आग, समय रहते नींद खुल गई वरना 3 कर्मचारी के साथ हो जाता बड़ा हादसा

इसी बीच पता चला कि बुलगांव निवासी 35 वर्षीय मीरा पति रामलाल मिंज द्वारा महुआ बीनने के दौरान पेड़ के नीचे आग लगाई गई थी, आग नियंत्रण से बाहर हो जाने के कारण मौके से भाग गई थी। जब वन कर्मियों द्वारा महिला को पकड़कर पूछताछ की गई तो उसने अपराध स्वीकार किया, जिसके विरूद्ध कार्यवाही की गई।


शरारती तत्वों के खिलाफ जारी रहेगी कार्रवाई
इस संबंध में रेंजर (Ranger) संतोष पांडे ने कहा कि यदि जंगल में शरारती तत्वों द्वारा आग (Set fire) लगाई जाती है तो इसी प्रकार की कार्यवाही लगातार की जाती रहेगी।

rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned