scriptIED Seized by police: Police force seized 7 IED in Samari area | बड़ी वारदात को अंजाम देने की फिराक में थे नक्सली, बिछाई थी 7 आईईडी, जवानों ने किया नाकाम | Patrika News

बड़ी वारदात को अंजाम देने की फिराक में थे नक्सली, बिछाई थी 7 आईईडी, जवानों ने किया नाकाम

IED Seized by police: पुलिस व सीआरपीएफ की संयुक्त टीम (Joint team) को सर्चिंग के दौरान मिली बड़ी सफलता, बलरामपुर-रामानुजगंज जिले के सामरी क्षेत्र में नक्सलियों (Naxalites) द्वारा बिछाई गई थी आईईडी, खुफिया विभाग से फोर्स को कई दिनों से मिल रही थी सूचना

बलरामपुर

Published: December 22, 2021 12:07:07 am

कुसमी. IED Seized by police: बलरामपुर-रामानुजगंज जिले के सामरी क्षेत्र के नक्सल प्रभावित इलाकों में सुरक्षा बलों को नुकसान पहुंचाने के उद्देश्य से नक्सली बड़ी वारदात (Big incident) को अंजाम देने की फिराक में थे। इसके लिए उन्होंने बेहद शातिराना ढंग से भुताही मोड़ के आगे आईईडी बिछाकर रखी थी। इसकी सूचना मिलने पर एसपी के निर्देशन में सीआरपीएफ व पुलिस की संयुक्त टीम ने नक्सल प्रभावित इलाकों (Naxal effected Area) में सर्चिंग शुरू की। इसी दौरान भुताही मोड़ से करीब 15 किमी आगे फोर्स ने माओवादियों द्वारा बिछाई गई 7 आईईडी (IED) को बरामद कर उनके मंसूबों पर पानी फेर दिया। यदि समय रहते यह सूचना सुरक्षा बलों को नहीं मिलती तो एक बड़ी घटना हो सकती थी।
IED seized by police and CRPF team
IED seized by police

गौरतलब है कि सामरी थाना क्षेत्र अंतर्गत झारखंड की सीमा से लगे अति संवेदनशील नक्सली गतिविधि क्षेत्र चुनचुना पुन्दाग, पचपेड़ी, भुताही मोड़ एवं बंदरचुंआ के मध्य आईईडी लगे होने की सूचना लगातार कुछ दिनों से फोर्स को मिल रही थी। इसके मद्देनजर रखते एसपी रामकृष्ण साहू ने एएसपी प्रशांत कतलम को कार्रवाई के निर्देश दिए।
इसके बाद एएसपी प्रशांत कतलम द्वारा 19 दिसंबर को सीआरपीएफ की बटालियन के साथ एक विशेष नक्सल ऑपरेशन तैयार किया गया। इस ऑपरेशन का मुख्य उद्देश्य ग्रामीणों के लिए पुंदाग एवं आस-पास के गांव के किसानों के धान उठाने वाले वाहनों के आने-जाने हेतु सड़क की मरम्मत कराना एवं आईईडी का पता लगाना था।
19 दिसंबर को इस अभियान के तहत् फोर्स को सर्चिंग के दौरान थाना सामरीपाठ क्षेत्र अंतर्गत भुताही मोड़ तक सफलता नहीं मिली। लेकिन अगले दिन 20 दिसंबर को भुताही मोड़ के करीब 15 किमी आगे सुरक्षात्मक ढंग से सर्चिंग करने पर पहाड़ी में विद्युत वायर दिखने की सूचना मिली।
यह भी पढ़ें
सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में 6 लाख की इनामी २ महिला नक्सली ढेर, टिफिन बम समेत कई विस्फोटक बरामद


आवागमन मार्ग तक बिछी थी आईईडी
इमोड़ के 15 किमी आगे पहाड़ी पर विद्युत वायर दिखने की सूचना मिलने पर फोर्स सुरक्षात्मक ढंग से मौके पर पहुंची। इसके बाद तलाशी में विद्युत वायर जमीन में छिपी व दबी हालत में ग्रामीणों के आवागमन के रोड तक बिछी हुई मिली, जिसका उद्देश्य माओवादियों द्वारा सुरक्षा बलों को नुकसान पहुंचाने का था।
फिर सर्चिंग टीम द्वारा पूरी सावधानी से आईईडी की तलाश की गई। इस दौरान जमीन के नीचे से ७ आईईडी को सतर्कता बरतते हुए निकालकर बरामद किया गया। इसके बाद बीडीएस टीम द्वारा आईईडी को डिफ्यूज कर दिया गया।
IED seized by police
IMAGE CREDIT: Naxal movement
सर्चिंग अभियान में ये रहे शामिल
फोर्स ने माओवादियों द्वारा बिछाए गए 7 आइइडी को बरामद (7 IED Seized) कर बड़ी सफलता हासिल की है। इस सर्चिंग अभियान में सीआरपीएफ डीआइजी वी राजू, डीसी अजय कुमार, एसी सोहन लाल चौधरी, राम बहादुर, निरीक्षक रूपेश कुंतल एक्का, एक एएसआई, 30 आरक्षक, बीडीएस टीम प्रभारी मंजीत सिंह व उनके साथ तीन जवान, जेटीएफ से 7 का बल, तथा सीआरपीएफ 62 वीं बटालियन के डी, जी कंपनी समेत कुल २५० का बल शामिल रहा।

माओवादियों का गढ़ है बुढ़ापहाड़
झारखंड बॉर्डर (Jharkhand border) पर स्थित बुढ़ापहाड़ नक्सलियों का गढ़ माना जाता है। ये नक्सलियों का सबसे सुरक्षित ठिकाना है, यहां तक फोर्स का पहुंचना किसी बड़ी चुनौती से कम नहीं है। बताया जाता है कि नक्सली यहां चारों तरफ आईईडी बिछाकर रखते हैं। चुनचुना पुन्दाग, पचपेड़ी, भुताही मोड़ एवं बंदरचुंआ क्षेत्र बुढ़ापहाड़ से सटे इलाके माने जाते हैं। यहां माओवादियों की मूवमेंट होती रहती है। सूत्रों के अनुसार अभी बुढ़ापहाड़ में अभी बड़ी संख्या में नक्सल मूवमेंट चल रही है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Cash Limit in Bank: बैंक में ज्यादा पैसा रखें या नहीं, जानिए क्या हो सकती है दिक्कतहो जाइये तैयार! आ रही हैं Tata की ये 3 सस्ती इलेक्ट्रिक कारें, शानदार रेंज के साथ कीमत होगी 10 लाख से कमइन 4 राशि वाले लड़कों की सबसे ज्यादा दीवानी होती हैं लड़कियां, पत्नी के दिल पर करते हैं राजमां लक्ष्मी का रूप मानी जाती हैं इन नाम वाली लड़कियां, चमका देती हैं ससुराल वालों की किस्मतShani: मिथुन, तुला और धनु वालों को कब मिलेगी शनि के दशा से मुक्ति, जानिए डेटइन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीराजस्थान में आज भी बरसात के आसार, शीतलहर के साथ फिर लौटेगी कड़ाके की ठंडPost Office FD Scheme: डाकघर की इस स्कीम में केवल एक साल के लिए करें निवेश, मिलेगा अच्छा रिटर्न

बड़ी खबरें

Subhash Chandra Bose Jayanti 2022: महान हस्तियों के इतिहास को सीमित करने की गलतियों को सुधार रहा देश: पीएम मोदीभारत में कम्युनिटी ट्रांसमिशन स्टेज पर पहुंचा ओमिक्रॉन वेरिएंट - केंद्र सरकारUP Assembly Elections 2022 : पलायन और अपराध खत्म अब कानून का राज,चुनाव बदलेगा देश का भाग्य - गृहमंत्री शाहराजपथ पर पहली बार 75 एयरक्राफ्ट और 17 जगुआर का शौर्य प्रदर्शन, देखें फुल ड्रेस रिहर्सल का वीडियोIND vs SA: बेकार गया दीपक चाहर का संघर्ष, रोमांचक मुकाबले में 4 रन से हारी टीम इंडियाJEE Mains 2022: कब शुरू होंगे रजिस्ट्रेशन, चेक करें सब डिटेलCovid-19 Update: देश में बीते 24 घंटों में आए कोरोना के 3.33 लाख नए मामले, 525 मरीजों की गई जानअब अहमदाबाद में खेले जाएंगे भारत-वेस्टइंडीज की वन डे सीरीज के सभी मैच
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.