scriptMission-90: Mission-90 inaugrated for 10th-12th students | 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा की बेहतर तैयारी के लिए मिशन-90 प्रोग्राम का शुभारंभ, ऐसे होगा काम | Patrika News

10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा की बेहतर तैयारी के लिए मिशन-90 प्रोग्राम का शुभारंभ, ऐसे होगा काम

Mission-90: स्वामी आत्मानंद इंग्लिश मेडियम स्कूल में हुआ प्रोग्राम का शुभारंभ, कलक्टर (Collector) का कहना कि जिज्ञासु बच्चों और विषय विशेषज्ञों (Subjects experts) को आपस में जोड़ेगा मिशन-90, 90 प्रतिशत छात्र-छात्राएं 90 प्रतिशत से अधिक अंक लाएं, यही है इसका उद्देश्य

बलरामपुर

Published: January 16, 2022 12:21:08 am

बलरामपुर. Mission-90: शिक्षा विभाग द्वारा जिले में कक्षा 10वीं व 12वीं में अध्ययनरत छात्रों के बोर्ड परीक्षा की बेहतर तैयारी हेतु मिशन-90 प्रोग्राम तैयार किया गया है। कलक्टर कुन्दन कुमार (Balrampur Collector) ने शनिवार को स्वामी आत्मानंद उत्कृष्ट अंग्रेजी माध्यम स्कूल, बलरामपुर में मिशन-90 कार्यक्रम का विधिवत शुभारंभ किया। मिशन-90 (Mission-90) के माध्यम से प्रशासन की मंशा है कक्षा 10वीं एवं 12वीं के 90 प्रतिशत छात्र 90 प्रतिशत से अधिक अंकों के साथ उत्तीर्ण हो। मिशन 90 का उद्देश्य है कि जिले के छात्रों को पढ़ाई का समान अवसर मिले और उन्हें शिक्षानुकूल माहौल प्रदान किया जाए ताकि बच्चें मेरिट से परीक्षा उत्तीर्ण कर सकें।
Students in School
Students

कलक्टर कुन्दन कुमार ने कार्यक्रम का शुभारंभ कर छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि मिशन 90 बच्चों को बोर्ड परीक्षा की तैयारी करने में सबसे अधिक मददगार होगा। मेरा व्यक्तिगत मानना है कि बच्चों को सवालों का जवाब तो मिलना ही चाहिए और मिशन-90 का भी यही उद्देश्य है। मिशन-90 के माध्यम से हम सभी ने विशेषज्ञों को एक मंच प्रदान करने की कोशिश की है ताकि बच्चें उनसे सीधा संवाद कर सकें।
शिक्षकों की एक पूरी टीम तैयार है और मिशन-90 एक सेतु की तरह काम करेगा, जो जिज्ञासु बच्चों और विषय विशेषज्ञों को आपस में जोड़ेगा। कलक्टर कुमार ने बच्चों को अवगत कराते हुए कहा कि मिशन-90 सवालों के जवाब खोजने में आपकी मदद करेगा, जिसके लिए एक व्हाट्सएप नंबर 9303361827 तैयार किया गया है।
यदि आप इस नम्बर पर अपने सवाल की फोटो खींचकर भेजेंगे तो अगले कुछ ही पलों में उसका जवाब आपके पास आ जाएगा। यदि आप जवाब से संतुष्ट नहीं होते हैं तो पुन: सवाल कर सकते हैं।
यह भी पढ़ें: इंग्लिश मीडियम स्कूल में शिक्षकों की भर्ती प्रक्रिया में भ्रष्टाचार का आरोप, इन नियमों का दिया हवाला


ऐसे काम करेगा प्रोग्राम
कलक्टर ने बताया कि बच्चों के द्वारा व्हाट्सएप नंबर पर सवाल भेजने के बाद मिशन-90 के नोडल अधिकारी द्वारा इस प्रश्न को संबंधित विषय विशेषज्ञ को प्रेषित किया जाएगा।
विषय विशेषज्ञ से सवाल का जवाब मिलते ही उसे संबंधित छात्र को भेज दिया जाएगा। शुभारंभ के अवसर पर मिशन-90 के जिला नोडल ने व्हाट्सएप के माध्यम से सवालों का उत्तर जानने की पूरी प्रक्रिया को स्वयं करके दिखाया और बच्चों को सवालों के जवाब दिए।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

नाइजीरिया के चर्च में कार्यक्रम के दौरान मची भगदड़ से 31 की मौत, कई घायल, मृतकों में ज्यादातर बच्चे शामिल'पीएम मोदी ने बनाया भारत को मजबूत, जवाहरलाल नेहरू से उनकी नहीं की जा सकती तुलना'- कर्नाटक के सीएम बसवराज बोम्मईमहाराष्ट्र में Omicron के B.A.4 वेरिएंट के 5 और B.A.5 के 3 मामले आए सामने, अलर्ट जारीAsia Cup Hockey 2022: सुपर 4 राउंड के अपने पहले मैच में भारत ने जापान को 2-1 से हरायाRBI की रिपोर्ट का दावा - 'आपके पास मौजूद कैश हो सकता है नकली'कुत्ता घुमाने वाले IAS दम्पती के बचाव में उतरीं मेनका गांधी, ट्रांसफर पर नाराजगी जताईDGCA ने इंडिगो पर लगाया 5 लाख रुपए का जुर्माना, विकलांग बच्चे को प्लेन में चढ़ने से रोका थापंजाबः राज्यसभा चुनाव के लिए AAP के प्रत्याशियों की घोषणा, दोनों को मिल चुका पद्म श्री अवार्ड
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.