राज्यसभा सांसद नेताम की बेटी निशा बनीं बलरामपुर जिला पंचायत अध्यक्ष, इसके पहले पत्नी थी अध्यक्ष

Panchayat election: भाजपा के दिग्गज नेता रामविचार नेताम की पत्नी ने भी दर्ज की है जीत, पूर्व जिला पंचायत सदस्य धीरज सिंहदेव की मां राधा सिंहदेव बनी उपाध्यक्ष

बलरामपुर. बलरामपुर जिला पंचायत चुनाव में भाजपा ने एकतरफा बाजी मार ली। इस जिला पंचायत में राज्यसभा सांसद रामविचार नेताम की पुत्री निशा नेताम अध्यक्ष पद पर निर्विरोध निर्वाचित हुईं। उपाध्यक्ष पद पर भी भाजपा समर्थित उम्मीदवार राधा सिंहदेव निर्विरोध निर्वाचित हुईं। यहां कांग्रेस ने उम्मीदवार ही खड़ा नहीं किया।


बलरामपुर जिला पंचायत के लिए हुए चुनाव में भाजपा समर्थित उम्मीदवारों ने एकतरफा जीत हासिल की थी। कुल 14 सदस्यों वाले जिला पंचायत में 12 सीट भाजपा समर्थित उम्मीदवारों ने जीती थी, सिर्फ 2 सीट कांग्रेस के खाते में गई थी। ऐसे में जिला पंचायत पर भाजपा का कब्जा होना तय हो गया था और शुक्रवार को अध्यक्ष-उपाध्यक्ष के लिए हुए चुनाव में ऐसा ही देखने को मिला। (Panchayat election results)

कयास लगाए जा रहे थे कि इस बार भी जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए राज्यसभा सांसद रामविचार नेताम की पत्नी पुष्पा नेताम ही उम्मीदवार होंगी, लेकिन जिला पंचायत सदस्य का चुनाव लडक़र जीतीं नेताम की पुत्री निशा नेताम ने अध्यक्ष पद के लिए नामांकन फार्म जमा किया।

फिर प्रक्रिया के दौरान कांग्रेस की तरफ से कोई उम्मीदवार नहीं होने के कारण निशा नेताम अध्यक्ष पद पर निर्विरोध निर्वाचित हो गईं। यही स्थिति उपाध्यक्ष पद के चुनाव में भी हुुई। उपाध्यक्ष पद के लिए भाजपा समर्थित उम्मीदवार राधा सिंहदेव ने नामांकन फार्म जमा किया व सामने कोई उम्मीदवार नहीं होने से वे भी निर्विरोध निर्वाचित हुईं।


एकतरफा जीत पर भाजपाइयों में जश्न
जिला पंचायत में एकतरफा जीत के बाद भाजपाइयों ने जमकर जश्न मनाया। समर्थकों ने अध्यक्ष व उपाध्यक्ष को फूल-माला पहनाकर बधाई दी। इस दौरान राज्यसभा सांसद रामविचार नेताम, जिला पंचायत सदस्य पुष्पा नेताम, उद्धेश्वरी पैंकरा सहित अन्य सभी सदस्य व भाजपा के पदाधिकारी उपस्थित थे।

बलरामपुर जिले से संबंधित खबरें पढऩे के लिए क्लिक करें- Balrampur News

BJP
Show More
rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned