ट्रक ने बाइक सवार किशोर व युवक को रौंदा, गुस्साई भीड़ ने बनारस मार्ग किया जाम, यूपी सरकार के खिलाफ नारेबाजी

Road Accident: चक्काजाम से सड़क के दोनों ओर लगी वाहनों की लंबी लाइन, हादसे (Accident) में तीसरा युवक गंभीर रूप से घायल, ब्रेकर (Breaker) बनाए जाने की मांग को लेकर घंटो जाम की सड़क (Road blockade)

By: rampravesh vishwakarma

Updated: 30 Apr 2021, 08:04 PM IST

वाड्रफनगर. बलरामपुर जिले के वाड्रफनगर क्षेत्र अंतर्गत 2 युवक व एक किशोर बाइक पर सवार होकर शुक्रवार की सुबह उत्तर प्रदेश जा रहे थे। इसी बीच पीछे से तेज रफ्तार में आ रहे ट्रक ने उन्हें टक्कर मार दी। टक्कर से वे सड़क पर गिरे तो ट्रक ने उन्हें पहियों से रौंद दिया। (Truck crushed bike riders)

हादसे में एक युवक व एक किशोर की मौके (Death in Road Accident) पर ही मौत हो गई, जबकि तीसरा युवक गंभीर रूप से घायल हो गया। हादसे के बाद मौके पर जुटी भीड़ ने वाड्रफनगर-बनारस मार्ग पर चक्काजाम कर यूपी सरकार के खिलाफ नारेबाजी शुरु कर दी। पुलिस की समझाइश के बाद भी भीड़ घंटों चक्काजाम में शामिल रही।

Read More: जन्मदिन के दिन ही ट्रक से कुचलकर युवक की हो गई मौत, बीईओ ऑफिस में था क्लर्क, दूसरा गंभीर


बलरामपुर जिले के बसंतपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम कुंडपान निवासी 24 वर्षीय लल्लन पिता रामजतन, 15 वर्षीय देवकुमार उर्फ जरहू पिता मुनेश्वर तथा त्रिकुंडा थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम त्रिकुंडा निवासी रामलखन पिता रामरतन 20 वर्ष शुक्रवार की सुबह बाइक पर सवार होकर शुक्रवार की सुबह उत्तर प्रदेश के बभनी की ओर जा रहे थे।

रास्ते में छत्तीसगढ़ बॉर्डर से लगे ग्राम पिपराखास स्थित पेट्रोल पंप के पास मोड़ पर करीब 8 बजे पीछे से तेज रफ्तार में आ रहे 12 पहिया ट्रक ने उन्हें टक्कर मार दी। (Road accident)

टक्कर से तीनों सड़क पर जा गिरे, इस दौरान ट्रक का पहिया उनके ऊपर चढ़ गया। हादसे में कुचल जाने से देवकुमार उर्फ जरहू व रामलखन की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि लल्लन गंभीर रूप से घायल हो गया। उसे बभनी के अस्पताल में भर्ती कराया गया।

Read More: Video: रिटायर्ड सैनिक ने कार से रौंदकर राहगीर की ले ली जान, फिर शव को कंधे पर ढोकर पुलिस चौकी में पटका


गुस्साई भीड़ ने जाम की सड़क
सड़क हादसे (Road accident) में युवकों की मौत के बाद गुस्साई भीड़ ने वाड्रफनगर-बभनी मार्ग पर चक्काजाम कर यूपी सरकार के खिलाफ नारेबाजी शुरु कर दी। उन्होंने मौके पर ब्रेकर बनाए जाने की मांग की। चक्काजाम से सड़क के दोनों ओर वाहनों की लंबी कतार लग गई।

घटना की सूचना पर प्रभारी निरीक्षक अभय नारायण तिवारी, एसआई राजेंद्र प्रसाद यादव दल-बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचेे। उन्होंने ग्रामीणों को समझाइश दी लेकिन वे सुनने को तैयार नहीं थे।

ग्रामीणों के उग्र रूप देखते हुए म्योरपुर के प्रभारी निरीक्षक अजय कुमार सिंह भी दल-बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे और लोगों को समझाइश दी। चक्काजाम दोपहर तक चलता रहा। अंत में ब्रेकर बनाने की मांग मान लिए जाने के बाद चक्काजाम समाप्त हुआ।

rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned