आसमान से इस रूप में गिरी आफत, पेड़ के नीचे खड़े 31 बेजुबानों की मौत, बाल-बाल बचे पिता-पुत्र

Sky Lightning: बारिश (Rain) से बचने पेड़ के नीचे खड़े हो गए थे मवेशी, अचानक वहां आ गिरी आकाशीय बिजली, 22 मवेशी गंवा चुके पिता-पुत्र (Father-Son) ने प्रशासन से की है मुआवजे की मांग

By: rampravesh vishwakarma

Published: 04 Sep 2021, 01:25 PM IST

कुसमी. ग्राम पंचायत करौंधा के झारखंड सीमा से सटे ग्राम फुतुर टोली में गुरुवार की शाम आकाशीय बिजली गिरने से 22 नग मवेशियों की मौत हो गई। घटना के दौरान मवेशियों को चरा रहे पिता-पुत्र बाल-बाल बच गए।

जबकि शुक्रवार की दोपहर बारिश के दौरान कंचनपुर में आकाशीय बिजली की चपेट में आकर 9 बेजुबानों की जान चली गई। घटना के दौरान जमीन में करंट फैल गई थी, झटका महसूस होते ही वहां मौजूद ग्रामीण भाग खड़े हुए।


बलरामपुर-रामानुजगंज जिले के कुसमी क्षेत्र स्थित ग्राम पंचायत करौंधा के फुतुरटोली निवासी लेला राम पिता लेठे व उसका पुत्र अजीत कुमार गुरुवार को अपने मवेशियों को चराने गए हुए थे। इसी बीच शाम करीब 4.30 बजे अचानक बारिश शुरु हो गई।

Sky lightning
IMAGE CREDIT: Sky lightning

इसके बाद उनके सभी मवेशी बारिश से बचने के लिए एक आम पेड़ के नीचे खड़े हो गए। इसी दौरान वहां अचानक बादल के गरजने के साथ पेड़ पर आकाशीय बिजली (Sky Lightning) गिर गई। इसकी चपेट में आकर 2२ नग मवेशियों की मौके पर ही मौत हो गई जिसमें बकरी, बकरा, गाय, बैल आदि शामिल हैं।

घटना के वक्त कुछ दूरी पर मौजूद मवेशियों को चराने गए पिता-पुत्र सहित अन्य लोग बाल-बाल बच गए। दूसरे दिन मवेशी मालिक पिता-पुत्र ने घटना की लिखित जानकारी करौंधा थाने में दी।

Read More: 3 महिला और 2 किशोरी खेत में लगा रही थीं धान का रोपा, अचानक तेज गर्जना के साथ वहां गिरी आकाशीय बिजली, फिर...

पुलिस द्वारा मृत मवेशियों का पीएम कराया गया। इस गाज गिरने की घटना में मवेशियों की मौत से पिता-पुत्र को करीब 2 लाख रुपये का नुकसान हुआ है। मवेशी मालिकों ने प्रशासन से मुआवजा राशि दिलाने की मांग की है।


आकाशीय बिजली गिरने से जमीन में फैला करंट, 9 मवेशियों की मौत
इधर शुक्रवार को तेज बारिश के बीच ग्राम कंचन टोली में आकाशीय बिजली के गिरने से 9 मवेशियों की मौत हो गई। ग्राम पंचायत कंचन टोली में दोपहर करीब 2 बजे तेज बारिश के बीच गांव के ट्रांसफार्मर के समीप अचानक आकाशीय बिजली गिरी जिसके चपेट में आने से सुखदेव राम के 8 नग मवेशी व उपसरपंच प्रभु दयाल के 1 मवेशी की मौत हो गई।

Sky lightning
IMAGE CREDIT: 22 cattles death

बताया जा रहा हैं कि जब वहां गाज गिरी थी उस दौरान आसपास के जमीन में करंट प्रवाहित हो गया था। इसका झटका वहां रहने वाले लोगों को महसूस हुई तो वे कुछ दूर भाग गए थे।

rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned