सब्जी के साथ अब बागान में स्ट्राबेरी की खेती कर किसान रामप्रसाद कर रहा अच्छी आमदनी

Strawberry: अब तक आम, लीची, नाशपाती सहित अन्य सब्जियों (Vegetable) की खेती करते आए हैं कुसमी क्षेत्र के किसान

By: rampravesh vishwakarma

Published: 30 Jan 2021, 11:34 PM IST

कुसमी. क्षेत्र के किसान अब स्ट्राबेरी (Strawberry) की खेती कर अपनी आर्थिक स्थिति को मजबूत बना रहे हैं। ऐसे ही नगर के वार्ड क्रमांक-4 में रहने वाले किसान रामप्रसाद कुजूर (Farmer Ramprasad) द्वारा भी अपने घर के समीप के बागान में स्ट्राबेरी की खेती कर उत्साहित हैं।

स्ट्राबेरी की खेती से अब उन्हेंं आर्थिक लाभ भी मिलना शुरू हो गया है। जहां तक बलरामपुर जिले के कुसमी की बात करें तो यहां के किसान (Farmers) फलों में आम, लीची, नाशपाती सहित सब्जी की खेती करते है और बाजारों में बेच कर अच्छा मुनाफा कमाते हैं।


किसान रामप्रसाद ने बताया कि उन्होंने टीवी व मोबाइल में देखकर स्ट्राबेरी की खेती करना सीखा। बीज रायपुर से मंगाकर खेती की है। फल काफी बड़े, मीठे व रसीले हैं।

रामप्रसाद ने बताया कि स्ट्राबेरी की बिक्री 2 से ढाई सौ रुपये प्रति किलो की दर से कर रहे हैं। इससे उन्हें हर दिन करीब हजार रुपये का मुनाफा हो जा रहा हैं। अब तो घर तक भी खरीदार पहुंचने लगे हैं।

दरअसल कुसमी-सामरी क्षेत्र का मौसम व वातावरण कई सब्जी एवं फलों के खेती के लिए अनुकूल माना जाता हैं। यहां के किसान नाशपाती, लीची, आम के साथ टमाटर, मिर्च सहित अन्य सब्जियां लगाकर आय अर्जन करते हंै, लेकिन यहां का मौसम स्ट्राबेरी की खेती के लिए भी अनुकूल साबित हो रहा है।


एसडीएम बोले- स्ट्राबेरी लगाने वाले किसानों को करेंगे प्रोत्साहित
एसडीएम कुसमी दीपक निकुंज ने कहा कि स्ट्राबेरी लगाने वाले किसानों को प्रोत्साहित किया जाएगा, क्योंकि यहां का मौसम इस फल की खेती के लिए अनुकूल है। किसानों की आय का ये एक अच्छा साधन है।

rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned