14 अप्रैल से ये जिला भी कंटेनमेंट जोन घोषित, सीमाएं होंगीं सील, सख्ती इतनी कि किराना-सब्जी दुकानें भी नहीं खुलेंगीं

Total lockdown: जिले के अंदर संचालित सभी दुकान, बैंक (Bank), शासकीय-निजी कार्यालय, धार्मिक स्थल रहेंगे बंद, सूरजपुर जिला (Surajpur district) 13 अप्रैल से कंटेनमेंट जोन (Containment zone) घोषित

By: rampravesh vishwakarma

Published: 12 Apr 2021, 12:14 AM IST

अंबिकापुर/सूरजपुर. वर्तमान में कोराना वायरस (Corona virus) पॉजिटिव प्रकरणों की संख्या में लगातार वृद्धि होने के कारण उत्पन्न पस्थितियों के मद्देनजर कलक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्याम धावड़े द्वारा बलरामपुर जिले के संपूर्ण क्षेत्र को 14 अप्रैल की शाम 6 बजे से 25 अप्रैल की रात 12 बजे तक 11 दिन के लिए कंटेनमेंट जोन (Containment Zone) घोषित कर दिया गया है।

वहीं सूरजपुर कलक्टर रणबीर शर्मा ने 13 अप्रैल सुबह 6 बजे से 21 अप्रैल सुबह 6 बजे तक सूरजपुर जिले के संपूर्ण क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन घोषित किया है। इस अवधि में बलरामपुर व सूरजपुर जिले की सभी सीमाएं पूर्णत: सील रहेंगी। सभी प्रकार के दुकान, पार्लर, जिला अन्तर्गत संचालित समस्त शराब दुकानें, सभी धार्मिक, सांस्कृतिक एवं पर्यटन स्थल आम जनता के लिए पूर्णत: बंद रहेंगे।

Read More: अंबिकापुर शहर का यह इलाका भी कंटेन्मेंट जोन घोषित, आगामी आदेश तक इन चीजों पर लगा प्रतिबंध


इन पर रहेगा पूर्णत: प्रतिबंध
सभी प्रकार के दुकान, पार्लर, जिला अन्तर्गत संचालित समस्त शराब दुकानें, सभी धार्मिक, सांस्कृतिक एवं पर्यटन स्थल आम जनता के लिए पूर्णत: बंद रहेंगे। सभी केन्द्रीय, शासकीय, सार्वजनिक, अद्र्धशासकीय एवं निजी कार्यालय व बैंक बंद रहेंगे। सभी प्रकार की सभा, जुलूस, सामाजिक धार्मिक एवं राजनैतिक आयोजन पूर्णत: प्रतिबंधित रहेंगे। अनुमति प्राप्त वाहन के अलावा सभी वाहनों हेतु पीओएल प्रदान करना पूर्णत: प्रतिबंधित (Ban) रहेगा।


इन्हें रहेगी अनुमति
कानून व्यवस्था एवं स्वास्थ्य सेवा विद्युत, पेयजल आपूर्ति एवं नगर पालिका सेवाएं को कार्यालय संचालन एवं आवागमन की अनुमति होगी। मेडिकल दुकानों को अपने निर्धारित समय में खुलने की अनुमति होगी। मेडिकल दुकान संचालक मरीजों के लिये दवाओं की होम डिलिवरी (Home delivery) को प्राथमिकता देगें।

पेट्रोल पंप संचालकों द्वारा केवल शासकीय वाहन, शासकीय कार्य में प्रयुक्त वाहन, एटीएम कैश वेन, अस्पताल, मेडिकल, इमरजेंसी से संबंधित निजी वाहन, एम्बुलेंस, एलपीजी परिवहन कार्य प्रयुक्त वाहन, एयर पोर्ट, रेलवे स्टेशन, अन्र्तराज्यीय बस स्टैण्ड से संचालित ऑटो, टैक्सी विधमान्य ई-पास धारित वाहन, एडमिट कार्ड, काल लेटर दिखाने पर परीक्षार्थी, उनके अभिभावक,

परिचय पत्र (Identity card) दिखाने पर मीडिया कर्मी, प्रेस वाहन, न्यूज पेपर हॉकर तथा दुग्ध वाहन संचालन की अनुमति होगी। वहीं सूरजपुर जिले में एसईसीएल के खदानों (SECL mines) में कर्मचारियों को ले जाने वाली बसों में कोविड के नियमों का पालन करना होगा। (total Lockdown)

Read More: शहर के ये 3 वार्ड कंटेनमेंट जोन घोषित, सभी दुकानें और वाणिज्यिक प्रतिष्ठान आगामी आदेश तक पूरी तरह से रहेंगे बंद


दुग्ध पार्लरों के खुलने का ये समय
छत्तीसगढ़ में नहीं रूकते हुए एक राज्य से सीधे अन्य राज्य जाने वाले वाहनों को पीओएल प्रदान किया जाएगा। दुग्ध पार्लर व दुग्ध वितरण तथा न्यूज पेपर हॉकर द्वारा समाचार पत्रों (Newspapers) के वितरण की समयावधि प्रात: 6 बजे से प्रात: 8 बजे तक एवं शाम 5 बजे से 6.30 बजे तक ही होगी। पैट शॉप एवं एक्वेरियम को केवल पशुओं के पशुचारा देने हेतु प्रात: 6 बजे से प्रात: 8 बजे तक एवं शाम 5 बजे से 6.30 बजे तक शॉप खोलने की अनुमति होगी।


टीकाकरण केन्द्र जाने की होगी अनुमति
एलपीजी गैस सिलेण्डर एजेंसियां केवल टेलीफोनिक या ऑनलाईन आर्डर लेंगे तथा ग्राहकों को सिलेन्डरों की घर पहुंच सेवा उपलब्ध कराएंगे। अस्पताल एवं एटीएम कैश बेन पूवर्वत संचालित रहेंगे। कोविड संक्रमण के रोकथाम हेतु जिले में समस्त कार्य पूर्वानुसार संचालित होते रहेंगे। कोविड केयर सेण्टर से डिस्चार्ज होने वाले मरीजों के परिवहन में संलग्न वाहन पूर्वानुसार संचालित रहेंगे।

Read More: सरगुजा में 13 अप्रैल से 10 दिन का होगा सख्त लॉकडाउन, कलक्टर ने जारी किया आदेश, सीमाएं होंगीं सील

कोविड-19 टीकाकरण हेतु पंजीयन, कोविड-19 जांच हेतु मेडिकल दस्तावेज या आधार कार्ड, परिचय पत्र दिखाने पर कोविड-19 टीकारण केन्द्र जाने की अनुमति होगी। आपात स्थिति में यात्रा के दौरान 4 पहिया वाहनों में ड्राइवर सहित अधितम 4 ऑटो में ड्राइवर सहित 3 एवं 2 पहिया वाहन में अधिकत 2 व्यक्तियों को यात्रा की अनुमति होगी।

औद्योगिक संस्थानों एवं निर्माण इकाइयों को अपने कैम्पस के भीतर मजदूरों को रखकर अन्य आवश्यक व्यवस्था करते हुए उद्योगों के संचालन व निर्माण कार्य की अनुमति होगी। भारत सरकार एवं राज्य शासन के विशेष आदेश द्वारा अनुमति प्राप्त किसी सेवा के संचालन की अनुमति होगी।


यह रहेंगे प्रतिबंध से मुक्त
कलक्टर कार्यालय, पुलिस अधीक्षक, कार्यालय अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, उप पुलिस अधीक्षक, सीएमएचओ कार्यालय एवं उनके अधीनस्थ समस्त कार्यालय, अनुविभागीय दण्डाधिकारी, तहसील, थाना एवं पुलिस चौकी प्रतिबंध से मुक्त रहेंगे। आदेश का उल्लंघन करने वाले व्यक्ति अथवा प्रतिष्ठान पर भारतीय दण्ड सहिता 1860 की धारा 188 आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 की धारा 51-60 तथा अन्य सुसंगत विधि अनुसार कठोर कार्यवाही की जाएगी।

rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned