अकेली महिला को घूमते देख पूछा तो बोली- जा रही हूं घर, 5 दिन बाद मिली इस हाल में

अकेली महिला को घूमते देख पूछा तो बोली- जा रही हूं घर, 5 दिन बाद मिली इस हाल में

rampravesh vishwakarma | Publish: Jan, 14 2018 08:35:14 PM (IST) | Updated: Jan, 29 2018 04:36:41 PM (IST) Balrampur, Chhattisgarh, India

छेरता मनाकर मायके से लौट रही महिला गांव से 2 किमी पहले उतर गई थी, कुएं में मिली लाश, हत्या की आशंका जताकर किया हंगामा

कुसमी. 5 दिन से लापता महिला की रविवार को कुएं में लाश मिलने से सनसनी फैल गई। बताया जा रहा है कि मायके से छेरता पर्व मनाकर लौटने के दौरान वह गांव से 2 किमी पहले दूसरे गांव में उतर गई थी। यहां लोगों ने घूमते देख पूछा तो बताया कि घर जा रही है। इसके बाद वह घर नहीं पहुंची थी।

लाश मिलने की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची करौंधा पुलिस मृतिका के शव को बाहर निकलवाकर पीएम के लिए अस्पताल भेजा। वहीं मृतिका के परिजन सहित ग्रामीणों ने इसे हत्या का मामला बताकर आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग करते हुए जमकर हंगामा किया। पुलिस की समझाइश व त्वरित कार्रवाई के आश्वासन पर मामला शांत हुआ।


बलरामपुर-रामानुजगंज जिले के कुसमी से लगे ग्राम पाकरडीह निवासी 47 वर्षीय मंगरी बाई के पति जगेश्वर की कुछ वर्ष पहले कुएं में डूबने से मौत हो गई थी तब से वो अपने बेटे राजू के साथ गांव मे रहती थी। 8 जनवरी को वह गांव से करीब 6 किमी दूर स्थित ग्राम प्रेमनगर अपने मायके में छेरता पर्व मनाने गई थी।

यहां से दूसरे दिन 9 जनवरी बुधवार की शाम करीब 7 बजे अम्बिका बस में सवार होकर पाकरडीह जाने के लिए निकली थी। लेकिन शराब के नशे में होने के कारण गलती से 2 किमी पहले ग्राम हंसपुर में उतर गई। उसे रात में घूमते हुए हंसपुर के लोगो ने देखा तो बोली कि मैं यहां गलती से उतर गई अब पैदल घर जा रही हूं।

इसके बाद महिला का कुछ पता नहीं चला। 10 जनवरी को उसका पुत्र राजू ग्राम करौंधा के बाजार जाने के लिए निकला तो रास्ते मे पडऩे वाले ग्राम प्रेमनगर में ननिहाल में पहुंचकर अपने मामा से मां के सम्बंध में पूछा। उसके मामा ने बताया कि तुम्हारी मां तो मंगलवार की शाम को ही घर जाने के लिए अम्बिका बस में सवार हुई थी। इतना सुनते ही राजू आश्चर्यचकित हो गया, क्योंकि मंगरी बाई घर नहीं पहुंची थी।

इसके बाद परिजन उसकी खोजबीन में जुट गए। कुछ पता नहीं चलने पर उन्होंने 13 जनवरी को करौंधा थाने में गुमशुदगी दर्ज कराई। इधर राजू भी अपनी मां की तलाश में लगा हुआ था और रविवार की सुबह वो हंसपुर गांव में इधर-उधर पूछताछ कर रहा था।

इसी दौरान जैसे ही वो रामचंद्र उरांव के बाड़ी में स्थित कुएं में झांक कर देखा तो उसके मां की लाश तैरती दिखी। इसकी सूचना मिलने पर करौंधा थाना प्रभारी प्रमोद सिंह वट्टी भी दल-बल के साथ मौके पर पहुंचे और शव को ग्रामीणों की मदद से बाहर निकलवाकर पीएम के लिए अस्पताल भेजा।


हत्या कहकर किया हंगामा
इधर घटनास्थल पर मौजूद परिजन व बड़ी संख्या में ग्रामीणों ने इसे हत्या का मामला बताकर आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग करते हुए जमकर हंगामा किया। ग्रामीणों ने गांव की सड़क को भी जाम कर दिया। करौंधा थाना प्रभारी ने परिजन व ग्रामीणों को आश्वस्त किया कि पीएम रिपोर्ट आने के बाद निष्पक्ष जांच कर कार्रवाई की जाएगी तब जाकर मामला शांत हुआ।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned