आधी रात दोस्त की गर्लफ्रेंड को छोडऩे जा रहा था युवक, अचानक मिली मौत, लाश छोडक़र भागे प्रेमी-प्रेमिका

Death from current: ढाबा में काम करने वाले युवक की संदिग्ध अवस्था में मिली लाश का पुलिस ने किया खुलासा, जानवरों को मारने बिछाए करंट की चपेट में आकर हो गई थी मौत

By: rampravesh vishwakarma

Published: 27 Jul 2020, 05:43 PM IST

राजपुर. ढाबे में काम करने वाले युवक की सोमवार की सुबह संदिग्ध अवस्था में जंगल में लाश मिली थी। मौके पर बाइक के पहियों के निशान व चप्पल देखकर पुलिस व वहां मौजूद हर कोई हत्या की आशंका जता रहा था।

इधर शॉर्ट पीएम रिपोर्ट तथा युवक के दोस्त से पूछताछ में मिली जानकारी के बाद बताया कि युवक की मौत जानवरों को मारने के लिए जंगल में बिछाए गए तरंगित तार की चपेट में आकर (Death from current) हो गई थी।

दरअसल मृतक अपने दोस्त के साथ उसकी गर्लफ्रेंड को छोडऩे आधी रात उसके घर जा रहा था, इसी दौरान वह करंट की चपेट में आ गया था। युवक की मौत के बाद दोस्त व उसकी प्रेमिका डर से भाग निकले थे।


बलरामपुर जिले के राजपुर थाना अंतर्गत राजपुर से 5 किलोमीटर दूर ग्राम परसागुड़ी के खुठनपारा निवासी १९ वर्षीय सुधीर पावले पिता रामऔतार पावले परसागुड़ी के रौनाखोता स्थित यादव लाइन होटल में रह कर काम करता था। रविवार की रात करीब सवा १२ बजे तक वह होटल के सामने चौकी पर लेटकर टीवी देख रहा था।

उसके बाद होटल संचालक प्रमोद यादव मकान के अंदर सोने चले गए। सुबह करीब ६ बजे ग्रामीणों ने गांव से लगे जंगल में उसकी लाश देखी।

सूचना पर राजपुर थाना प्रभारी फर्दीनंद कुजूर समेत अन्य पुलिसकर्मी व फॉरेंसिक टीम मौके पर पहुंची। पुलिस व वहां मौजूद अन्य लोग मामले को हत्या मान रहे थे। इसी बीच मृतक के एक दोस्त से कड़ाई से पूछताछ में उसके करंट से मौत होने की पुष्टि हुई।


दोस्त की प्रेमिका को छोडऩे जाने के दौरान आया करंट की चपेट में
राजपुर थाना प्रभारी ने बताया कि युवक की मौत जानवरों को मारने के लिए ग्रामीणों द्वारा बिछाए गए तरंगित जीआई तार की चपेट में आकर हुई है। उन्होंने बताया कि मृतक का दोस्त ग्राम पसरागुड़ी निवासी 19 वर्षीय सुझदेव की प्रेमिका ग्राम डिगनगर निवासी युवती रविवार को उसके घर आई थी।

रात करीब 12.30 बजे सुझदेव उसे छोडऩे ग्राम डिगनगर जा रहा था, इस दौरान उसने मृतक सुधीर को भी साथ ले लिया था। जब तीनों परसागुड़ी व डिगनगर के बीच पडऩे वाले सिरकी जंगल में पहुंचे तो सुधीर करंट की चपेट में आ गया और उसकी मौत (Death from current) हो गई।


डर से लाश छोडक़र भागे
पुलिस ने बताया कि करंट की चपेट में आकर जब सुधीर की मौत हो गई तो सुझदेव व उसकी प्रेमिका डर गए। इसके बाद उन्होंने सूखी लकड़ी से तरंगित तार से सुधीर के शव को छुड़ाया और वहीं लाश छोडक़र दोनों अपने-अपने घर चले गए। उन्होंने इसकी जानकारी गांव में भी किसी को नहीं दी थी।

rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned