प्रधानमंत्री अपनी गरीबी के नाम पर वोट मांग रहे हैं यह शर्म की बात है : सीएम भूपेश बघेल

प्रधानमंत्री अपनी गरीबी के नाम पर वोट मांग रहे हैं यह शर्म की बात है : सीएम भूपेश बघेल

Akansha Singh | Publish: May, 02 2019 07:37:45 AM (IST) | Updated: May, 02 2019 07:37:46 AM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

छत्तीसगढ के सीएम भूपेश बघेल ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को बहुरुपिया की संज्ञा दी और कहा कि बीजेपी के सम्बन्ध नक्सलवादियों और आतंकवादियों से है।

बलरामपुर. छत्तीसगढ के सीएम भूपेश बघेल ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को बहुरुपिया की संज्ञा दी और कहा कि बीजेपी के सम्बन्ध नक्सलवादियों और आतंकवादियों से है। बलरामपुर के रेहराबाजार में एक चुनावी जनसभा को सम्बोधित करते हुये उन्होने ये बाते कही। गोण्डा लोकसभा क्षेत्र की कांग्रेस प्रत्याशी कृष्णा पटेल के समर्थन में जनसभा को सम्बोधित करते हुये उन्होने कहा कि यूपी में बीजेपी महज 15 सीटे बचा पायेगी।

मीडिया से बात करते हुये भूपेश बघेल ने कहा कि छत्तीसगढ के जीरमघाटी हुये नक्सली हमले में षडयन्त्र हुआ है लेकिन केन्द्र सरकार किसी को बचाना चाहती है। प्रियंका को ट्रम्पकार्ड के रुप में उतारे जाने के प्रश्न पर उन्होने कहा कि प्रियंका के आने के बाद से पूरे देश में उत्साह है खासकर युवाओ और महिलाओ में।छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि उप्र मे भाजपा महज 15 सीटों पर चुनाव जीत सकती है।प्रधानमंत्री अपनी गरीबी के नाम पर वोट मांग रहे हैं। यह शर्म की बात है। पांच वर्षों में गंगा साफ नहीं हुई। नोटबंदी के नुकसानों की जिम्मेदारी नहीं ले रहे। रूप बदल कर अलग-अलग राज्यों में वोट मांग रहे पीएम।पीएम व बीजेपी का संबंध नक्सलियों व आतंकियों से है। कंधार में आतंकियों की रिहाई व पुलवामा हमला इसका सबूत है। कॉंग्रेस हर वर्ग के लिए न्याय करने का संकल्प ले चुकी है। हमले बीस लाख 21 हजार करोड़ रुपये अपने राज्य में किसानों का कर्ज माफ किया, बिजली का बिल आधा किया है। पूंजीपतियों के हाथों से जमीन वापस लेकर किसानों को वापस दिलाया। चौबीस लाख खाली पड़े सरकारी पदों पर एक लाख के भीतर भरा जाएगा। कांग्रेस की सरकार बनने पर पांच वर्षों में तीन लाख साठ हजार हर गरीब परिवार को दिया जाएगा।पीएम ने देश भर में गुजरात मॉडल लागू करने का वादा किया लेकिन पूरे देश में कहीं ये मॉडल नहीं दिख रहा।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned